Health Tips

बीयर पीने के फायदे और नुकसान – Health Benefits of Beer in Hindi

दोस्तो, आपका स्वागत है हमारे ब्लॉग पर। हमारा आज का टॉपिक है एक ऐसा पेय पदार्थ जो विश्व में चाय और पानी के बाद जिसका नम्बर आता है। हम बात कर रहे हैं बीयर की। सबसे पहले हम आपको ये बता दें कि देसी हैल्थ क्लब इस लेख के माध्यम से अल्कोहल सेवन की राय नहीं दे रहा और ना ही अल्कोहल को प्रोमोट कर रहा है। हम केवल बीयर पीने के फायदे और नुकसान बता रहे हैं। बीयर जौ और अंगूर को सड़ा कर बनाई जाती है। इसमें अल्कोहल की मात्रा बहुत कम होती है। लोगबाग अक्सर इसको खुशी के अवसर पर पीते हैं। लेकिन बिना किसी अवसर के भी कभी भी मूड फ्रैश करने के लिये भी पीते हैं। 

बीयर का नाम आते ही पार्टी और मौज मस्ती की तस्वीर हमारे दिमाग में बन जाती है। लेकिन मौज मस्ती के साथ यदि इसको उचित मात्रा में पीया जाये तो इसके गुणकारी तत्व हमारे स्वास्थ को फायदा भी पहुंचाते हैं।  तो क्या हैं बीयर के गुण देखते हैं इसे।

बीयर के गुण – Properties of Beer

1. बीयर की तासीर ठंडी होती है जो शरीर के तापमान को नियन्त्रित करती है विशेषकर गर्मी के मौसम में। यह शरीर को शीतलता प्रदान करती है।

2.  बीयर पोषक तत्वों से भरपूर होती है। इसमें फ्लेवोनाइड (flavonoids) नामक तत्व तथा अन्य एंटी ऑक्सिडेंट्स (antioxidant) पाये जाते हैं। 

3. जर्नल ऑफ एग्रीकल्चर एंड फूड केमिस्ट्री के अनुसार बीयर में प्रोटीन भी काफी मात्रा में होने के साथ साथ   विटामिन-बी, आयरन, कैल्शियम, फॉस्फेट और फाइबर आदि भी होते हैं। 

बीयर के प्रकार और भारत में लोकप्रिय बीयर ब्रांड्स – Brands of Beer in India

दोस्तो, यूं तो विश्व में सौ से ज्यादा प्रकार की बीयर पाई जाती है। हमारे देश भारत में निम्नलिखित 15 लोकप्रिय बीयर ब्रांड्स हैं।  

1. किंगफिशर (Kingfisher)- भारत में सबसे लोकप्रिय और टॉप बीयर ब्रांड।  किंगफिशर मान्यता प्राप्त बीयर ब्रांड है। इसे युनाईटिड ब्रेवरीज ग्रुप द्वारा बनाई जाती है। यह बीयर सब जगह आसानी से उपलब्ध हो जाती है। शुरू में इसका स्वाद थोड़ा कड़वा लगता है बाद में अच्छा लगता है। इसकी खट्टी मिठास और ताजे स्वाद के कारण यह सबसे अधिक पसंदीदा और लोकप्रिय बीयर है।

किंगफिशर वेरिएंट: किंगफिशर स्ट्रॉन्ग (8% अल्कोहल), किंगफिशर प्रीमियम (4।8% अल्कोहल), किंगफिशर ब्लू (8% अल्कोहल), किंगफिशर अल्ट्रा (5% अल्कोहल)।

2. टुबोर्ग (Tuborg)- यह नाम बीयर ब्रांड में दूसरे स्थान पर आती है। परन्तु अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड्स के बीच इसका नाम पहले स्थान पर है। यह उन लोगों के लिये है जिन्हें स्ट्रोंग  बियर पसंद नहीं। इसका स्वाद हल्का होता है। इसे भोजन के साथ या सलाद या मसालेदार खाद्य पदार्थों के साथ ले सकते हैं। इसमें 4।8% अल्कोहल होता है।

टुबोर्ग बियर वेरिएंट: टुबोर्ग स्ट्रॉन्ग, टुबोर्ग ग्रीन, टुबोर्ग क्लासिक विद स्कॉच माल्स (विशेष रूप से भारतियों के लिए बनाया गया)

ये भी पढ़े – मुँह की बदबू हटाने का देसी उपाय

3. कार्ल्सबर्ग (Carlsberg)- यह भारत सबसे अच्छी बीयर ब्रांड्स में से एक बीयर ब्रांड माना जाता है। इसे विश्व की सबसे अच्छी बीयर कह सकते हैं। इसका स्वाद सबसे हल्का, अद्वितीय और बहुत कम कड़वाहट वाला होता है। 1970 में कार्ल्सबर्ग ने टुबोर्ग के साथ विलय कर लिया था। अब यह टुबोर्ग का हिस्सा है।  

4. बुडवेइसेर (Budweiser)- मीठे चावल का स्वाद और कड़वा हॉप्स का एक स्पर्श, यह विशेषता है इस बीयर की। इसका स्वाद इतना हलका कि आराम से गले से नीचे उतर जाये और आपको सन्तुष्टि भी दे दे। यह भारत में सबसे अधिक बिकने वाली बीयर है।  

5. हेइनकेन (Heineken)- अंतरराष्ट्रीय बीयर ब्रांड हेइनकेन हॉलैंड से सीधे आपके पास आता है। हीनेकेन 0।0 नॉन अल्कोहलिक ड्रिंक बीयर से मिलती जुलती है और इसका विशेष स्वाद अन्य बीयर से अलग थोड़ा  स्ट्रोंग बीयर की तरह होता है। इसमें हॉप्स का फ्लेवर है जो बीयर के आखिर में मिलता है।

6. कोरोना बीयर (Corona Beer)- दोस्तो, घबराइये मत। हम Covid-19 की बात नहीं कर रहे। हम बात कर रहे हैं कोरोना बीयर की जिसे मैक्सिको में सन् 1925 से बनाया जा रहा है। यह बीयर उन लोगों के लिये है जिनको कड़वाहट बिल्कुल पसंद नहीं। यदि आज तक आपने कोई बीयर नहीं पी है तो एक बार इसे जरूर पीयें। यह आपको फल, शहद और माल्ट का मजा देगी। 

कोरोना बीयर वेरिएंट: कोरोना एक्स्ट्रा (3।6% अल्कोहल), कोरोना लाइट

7. बीरा 91 (Bira 91)-  बी 9 बेवरेजेस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा निर्मित यह शिल्प बीयर ब्रांड है। इसे 2015 में लॉन्च किया गया था। बीरा 91 स्ट्रॉन्ग एक “हाई इंटेंसिटी व्हीट बियर” है, यह गेहूं पर आधारित पहली बीयर है। भारतीयों को ध्यान में रखते हुए बीरा मसालेदार साइट्रस और कड़वाहट के साथ हल्का स्वाद देती है। भारतीय बाजार में इसकी अच्छी पकड़ है। 

बीरा 91 वेरिएंट: बीरा ब्लोंड (5% अल्कोहल), बीरा व्हाइट एले (5% अल्कोहल), बीरा लाइट (4% अल्कोहल), बीरा पेल अल (7% अल्कोहल), बीरा स्ट्रांग एले (मसालेदार स्वाद के साथ 7% अल्कोहल)

8. फोस्टर (Foster’s)- यह अंतरराष्ट्रीय शराब बनाने वाले समूह असाही ग्रुप होल्डिंग्स का उत्पादन है। यह ऑस्ट्रेलियाई लोगों का सबसे पसंदीद ड्रिंक। इसे भारत में भी पसंद किया जाने लगा है। इसके सिर्फ दो वेरिएंट मिलते हैं। एक फोस्टर लागर जिसमें एक स्ट्रोंग मैली सुगंध होती है और दूसरा फॉस्टर्स प्रीमियम जो एक सुनहरे रंग की बीयर होती है। यदि आपको एक स्ट्रोंग और कड़वे स्वाद वाली बीयर पीना है तो फोस्टर से बेहतर बीयर कोई और नहीं हो सकती।

9. होएगार्डन (Hoegaarden)- यह एक प्रसिद्ध गेहूं की बीयर है जिसे पहली बार 1445 में बनाया गया था और बेल्जियम की सबसे पुरानी बीयर में से एक है। इसकी मादकता 4.9%  होती है। इसे बेल्जियम की सफेद बीयर के रूप में और इसके अल्कोहल की भठ्ठी के लिए जाना जाता है। इस बीयर की बाहर के कई हिस्सों में उपलब्धता नहीं है।  

10. हैडवर्ड्स 5000 (Haywards) 5000 – यह भारत में सबसे अधिक बिकने वाली बीयर में से एक है। वर्ष में 10 मिलियन से अधिक इकाई की बिक्री हो जाती है। इसे विशेषतौर पर इसकी चिकनाई और स्ट्रोंग स्वाद के लिए जाना जाता है। 7% से अधिक एल्कोहल की मात्रा होती है।  

11. रॉयल चलेंजर्स (Royal Challenge’s)-  रॉयल चलेंजर्स की सबसे अधिक प्रभावित करने वाली  टैगलाइन, ‘Brewed Stronger Brewed Better’ का तात्पर्य है कि उनकी बीयर को दूसरों की अपेक्षा अधिक समय में तैयार किया जाता है, जो इसे एक विशेष स्वाद प्रदान करता है। रॉयल चैलेंज को उत्तरी भारत के अलावा ओडिशा और आंध्र प्रदेश में काफी पसंद किया जाता है इस हल्के बीयर का कुरकुरा और जीवांत स्वाद सबसे अलग होता है। 

12. किंग्स (Kings)- यह गोवा की विशेष बीयर है। किंग्स के कुरकुरे स्वाद में आपको खुशी का अनुभव होगा। मक्का और हॉप्स से बनी इस बीयर और गोवा के समुद्र तट का combination आपके लिये सबसे अच्छे  आनंद का अनुभव होगा। इसके बिना गोवा की यात्रा अधूरी ही लगेगी।  

13. बीयर गॉडफादर (Godfather)-  यह उत्तर भारत का प्रमुख और प्रसिद्ध बीयर ब्रांड है। स्ट्रोंग स्वाद वाली इस बीयर में 7।5% अल्कोहल की मात्रा होती है।  इसका स्वाद आपको विशेषकर गर्मी के मौसम में आपको आनंदित कर देगा। 

14. स्टेला आर्टोइस (Stella Artois)- यह विश्व की सबसे अच्छी बीयर ब्रीविंग कंपनी इनबेव का उत्पादन है। इसमें अल्कोहल की मात्रा 4।8% से 5।2% के बीच है। इस बीयर को बनने में 9 अवास्थाओं से गुजरना पड़ता है। स्टेला आर्टोइस को हॉलिडे बीयर माना जाता है।

15. डेयरडेविल  (Daredevil)- डेयरडेविल बीयर सबसे स्ट्रोंग ‘बीयर ब्रांडों में से एक है, भारत की टॉप 15 बीयर ब्रांड्स की लिस्ट में शामिल। स्ट्रोंग बीयर पीने के शौकीन लोगों के लिए विशेष है क्यों कि इसका स्वाद भी  कड़वा होता है। यह उन स्थानों पर भी मिल जाती है जहां  कोई अन्य बीयर उपलब्ध उपलब्ध नहीं होती।

बीयर के विषय में ध्यान रखने वाली कुछ विशेष बातें :-

दोस्तो, यदि आप अकेले ही बीयर पीना चाहते हैं तो फिर किसी के इंतजार की बात ही नहीं लेकिन फिर भी कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिये और यदि आप दोस्तों के ग्रुप में हैं तो और ज्यादा विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिये, जो इस प्रकार हैं –

1. दोस्तो, बीयर अनेक प्रकार के स्वाद और खुशबुओं में मिलती है और आपकी पसंद दूसरों की पसंद अलग अलग हो सकती हैं। इसलिये अपनी पसंद के बजाय दूसरों की पसंद की बीयर मंगवायें। या अपनी पसंद के साथ सबकी अलग अलग पसंद की बीयर मंगवायें। इससे माहौल और ज्यादा खुशनुमा हो जायेगा। 

2. एल्कोहल युक्त पेय पदार्थों के श्रेणी अनुसार विशिष्ट गिलास होते हैं। ये नहीं कि शराब के गिलास में बीयर डाल दी। ऐसा करने से समझिये कि बीयर और गिलास दोनों की बेजज्ती हो गयी। याद रखिये सुन्दर दीखने वाले  शैंपेन ग्लास और बीयर एक-दूसरे के पूरक नहीं हो सकते। इसलिये बीयर को बीयर के गिलास में ही डालें, किसी भी प्रकार के गिलास में नहीं। 

3. याद रखिये बीयर के गिलास ठंडे नहीं होने चाहियें। ये सामान्य तापमान के होने चाहिये। ये नहीं कि फ्रीजर से ठंडे गिलास निकाल लिये। बीयर ठंडी होनी चाहिये ना कि गिलास। ठंडे गिलास बीयर का स्वाद बिगाड़ देंगे। यदि आप किसी Beer Bar में हैं तो ठंडे गिलास स्वीकार ना करें। 

4. बीयर हमेशा ठंडी ही होनी चाहिये ना कि गर्म। गर्म बीयर से बीयर की खुशबू, स्वाद, माहौल और आपके आनन्द सब बिगड़ जायेगा। बीयर की अपनी खुशबू और स्वाद ठंडे तापमान पर ही सही बना रहता है। यह तापमान 3° से 5° के बीच रहना चाहिये। और सबसे बड़ी बात ये कि कभी भी बीयर में बर्फ़ नहीं मिलानी चाहिये। 

5. गिलास साफ होने चाहियें ना कि गंदे। गिलास में साबुन आदि के झाग भी नहीं होने चाहियें इससे बीयर का स्वाद बिगाड़ जायेगा। बीयर को गिलास में ऊपर तक भरना नहीं चाहिये। यह सुनिश्चित करें कि बीयर के बोतल  पूरी तरह से सील बंद हो अन्यथा ऑक्सीडेशन से बीयर का स्वाद बिगड़ जायेगा।

6. आपके हाथ में बीयर आ जाये तो पीने की जल्दबाजी ना करें जब तक हर किसी के पास बीयर न आ जाये। शिष्टाचार निभाते हुऐ, एक दूसरे से गिलास, कैन जो भी हों, टकराकर “चीयर्स” बोलकर पीना शुरू करें।  पीने का आनन्द दुगना हो जायेगा।

बीयर के साथ क्या नहीं खाना चाहिये What not to eat with beer

दोस्तो, बीयर पीने के साथ खाने का विशेष ध्यान रखना चाहिये। आप हल्के-फुल्के स्नैक्स, पनीर, ड्राई फ्रूट्स आदि ले सकते हैं। लेकिन ये सब बहुत कम मात्रा में लेने चाहियें। निम्नलिखित वस्तुओं का सेवन नहीं करना चाहिये –

1. खट्टे फल जैसे, संतरा, अंगूर (Citrus fruit)- एक्सपर्ट्स के अनुसार खट्टे फल अल्कोहॉल के साथ मिलने पर बहुत खतरनाक हो जाते हैं। 

2. फ्राइज (Fries)- फ्राइज में सैचुरेटिड फैट बहुत अधिक होता है जिसे बीयर या शराब के साथ पचाना मुश्किल होता है। इससे पेट खराब हो सकता है। इसमें सोडियम की मात्रा भी अधिक होती है जिससे डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। रक्तचाप भी बढ़ सकता है।

3. बर्गर (Burger)- ज्यादा फैट वाली वस्तुऐं पेट को भरा भरा रखती हैं जिससे भूख नहीं लगती। लिवर पहले शराब/बीयर को तोड़ता है। यह फैट को रक्त प्रवाह में छोड़ देता है जिससे यह फैट रक्त कोशिकाओं में जमा हो जाता है। इससे पाचध क्रिया प्रभावित होती है। 

4. तीखे मिर्च मसाले वाला भोजन (Hot Chili Spices)- इस प्रकार का भोजन बीयर के साथ अच्छा तो लगता है और पसंद भी लगभग सभी करते हैं लेकिन मिर्च में कैप्साइसिन होने के कारण इससे पेट या सीने में जलन पैदा हो सकती है। 

5. चॉकलेट (Chocolate)- चॉकलेट से प्यास ज्यादा लगती है इस वजह से बीयर ज्यादा पीयी जाती है। चॉकलेट में कोको, कैफीन और फैट की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिये बीयर के साथ इसके सेवन से नशा अधिक होता है।

बीयर पीने के फायदे – Benefits of Beer

1. विटामिन-बी के लिये (Vitamin B)- बीयर में भरपूर विटामिन-बी पाया जाता है जिससे आपको विटामिन-बी मिलता रहता है जो अनेक बीमारियों से बचाने में  मदद करता है। विटामिन-बी आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है। यह चयापचय (Metabolism) के लिए तो महत्वपूर्ण है ही इसके अतिरिक्त लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने और सेंट्रल नर्वस सिस्टम को स्वस्थ रखने में भी सहायता करता है। बीयर के उचित मात्रा में सेवन से आपको फायदा ही मिलेगा अन्यथा नुकसान। बीयर से पाचन तंत्र और मस्तिष्क तंत्र दोनों ही सुचारु रूप से कार्य करते रहेंगे। 

2. उम्र  बढ़ाने में सहायक (Increasing age)- एक रिसर्च बताती है कि जहां सामान्यतः औसत आयु उम्र केवल 50 से 65 की होती है वहीं बीयर पीने वाले लोगों की औसत आयु 75 से 80 वर्ष तक हो  सकती है। अतः आप बीयर सेवन से लंबी जिंदगी का आनन्द ले सकते हैं।

3. तनाव को दूर करे (Relieve Stress)- आजकल की भागती दौड़ती जिंदगी में अनेक समस्याओं तथा काम का प्रैशर आदि से शारीरिक थकान, मानसिक तनाव व घबराहट होना स्वाभाविक है। बीयर के सेवन से आप इन समस्याओं से राहत पा सकते हैं। पश्चिमी देशों में लोग बीयर/शराब को अपनी जिंदगी का हिस्सा बना चुके हैं जो काम खत्म करे बीयर के साथ जिंदगी का आनन्द ले उठाते हैं।

4. अल्सर के लिये (Ulcer)- बीयर अल्सर की समस्या से भी राहत दिला सकती है।  क्योंकि इससे एच पायलोरी इंफेक्शन का जोखिम कम हो जाता है। एक शोध यह बताती है कि सप्ताह में केवल 75 ग्राम बीयर के सेवन से अल्सर के रोग में आराम मिलता है। 

5. किडनी के लिए (Kidney)- बीयर पीना किडनी के लिये फायदेमंद हो सकता है। डॉक्टर भी इसे पीने की सलाह दे देते हैं। क्योंकि बीयर पीने से किडनी में पथरी के मूत्र के जरिये बाहर निकलने की संभावना रहती है। बीयर पीने से मूत्र ज्यादा बनता है। अमेरिका की एक रिपोर्ट के अनुसार यह पता चला कि 40% बीयर पीने वालो में किडनी की पथरी होने का खतरा पीयर ना पीने वालों की अपेक्षा कम हो गया है। परन्तु बीयर में ऐसा क्या है जिस गुण के कारण यह पथरी होने से बचाती है, इसका पता नहीं लगा पाये हैं। इसलिये, प्रिय मित्रो, देसी हैल्थ क्लब किडनी की पथरी के लिये केवल बीयर पर निर्भर रहने की राय नहीं देता। इसके लिये डॉक्टर की सलाह बहुत महत्वपूर्ण और अति आवश्यक है। 

6. स्मरण शक्ति के लिये (Memory)- दोस्तो, भूलने की बीमारी को अल्जाइमर कहा जाता है जो खतरनाक है। बीयर में मौजूद सिलकॉन और हॉप्स जैसे तत्व अल्जाइमनर की समस्या से राहत पाने में सकारात्मक भूमिका निभाते हैं।

बीयर की उचित मात्रा से इस बीमारी से बचा जा सकता है।

7. डायबिटीज में फायदेमंद (Diabetes)- दोस्तो, बीयर में अल्कोहल की कुछ मात्रा अवश्य होती है, यदि बीयर का उचित मात्रा में सेवन किया जाये तो यह अल्कोहल खून में ग्लूकोज का स्तर को संतुलित रखता है जिससे डायबिटीज को नियन्त्रण में रखा जा सकता है। बीयर का सेवन से टाइप 2 डायबिटीज की संभावना को कम किया जा सकता है। लेकिन यदि अधिक मात्रा में बीयर का सेवन किया जाये तो डायबिटीज वाले लोगों को नुकसान भी हो सकता है।  

8. ब्लड प्रेशर में फायदेमंद (Blood Pressure)- उच्च रक्तचाप के कारण हृदय से जुड़ी समस्याऐं हो सकती हैं जैसे हार्ट अटैक या पैरालाइसिस। बीयर की उचित मात्रा के सेवन से इन समस्याओं की संभावना से बचा जा सकता है। बीयर के  पॉलीफेनोलिक यौगिक गुण ब्लड प्रेशर को संतुलित करने में सहायक होते हैं। 

9. कोलेस्ट्रोल को नियन्त्रित करे (Cholesterol)- बीयर पीने से कोलेस्ट्रोल भी नियन्त्रण में रहता है। इसमें पाये जाने वाला पॉलीफेनोलिक खराब कोलेस्ट्रोल (LDL) को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रोल (HDL) को बढ़ा कर कोलेस्ट्रोल को नियन्त्रित करने में अपनी सक्रिय भूमिका निभाता है। यह खून के थक्के भी नहीं देता। 

ये भी पढ़े – दांतो का पीलापन कैसे दूर करे

10. हृदय को सुरक्षित रखे (Heart Safe)- वर्ष 1999 में, ब्रिटिश मेडिकल जर्नल की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि रोजाना 3 ड्रिंगस पीने से हृदय की बीमारियां 24.7% तक कम हो जाती हैं। बीयर में मौजूद फॉलिक एसिड  हार्ट अटैक से बचाने में मदद करता है। डार्क बीयर में अधिक एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं। अतः उचित मात्रा में बीयर का सेवन करने से हृदय से जुड़ी समस्याओं में लाभकारी है। क्योंकि बीयर में अल्कोहल की मात्रा कम होती है जो हृदय को लाभ पहुंचाता है। 

बीयर सेवन की मात्रा  – Beer intake

एक शोध के अनुसार, प्रतिदिन सिर्फ 350 मिली तक बीयर पीना स्वास्थ के लिए लाभदायक हो सकता है।  350 मिली बीयर में 5% तक अल्कोहल होता है। 

ज्यादा बीयर पीने के नुकसान – Side Effects of Beer

1. मस्तिष्क की कार्य प्रणाली पर असर पड़ सकता है, कोमा में जाने की स्थिती हो सकती है। और यदि मामला ज्यादा खराब हो जाये तो मृत्यु भी हो सकती है। 

2. डायबिटीज बन सकती है।

3. अल्कोहल से कैंसर के बैक्टिरिया उत्पन्न हो सकते हैं।  

4. गर्भावस्था में गर्भवती महिला तथा गर्भस्थ शिशु के शारीरिक व मानसिक स्वास्थ पर कुप्रभाव पड़ सकता है।

5. हृदय आघात Stroke हो सकता है।

6. लिवर को क्षति पहुंच सकती है।

7. सोचने, बोलने की समस्या, मांसपेशियां का खराब होना या चेहरे के आकार में परिवर्तन होना जैसे कुप्रभाव हो सकते हैं। 

8. यदि रक्तचाप की समस्या है तो बीयर पीने से बचें क्योंकि बीयर पीने से और रक्तचाप बढ़ जायेगा। 

9. मोटापा बढ़ सकता है। बीयर को मोस्ट फैटनिंग ड्रिंक के नाम से भी जाना जाता है। बीयर में मौजूद एलीमेंट शरीर में वसा की मात्रा बढ़ाते हैं और मोटे व्यक्तियों के लिए यह जोखिम भरा हो सकता है। मोटे व्यक्ति को बीयर पीना Avoid  करना चाहिये। 

10.  अधिक मात्रा में बीयर पीने से पाचन क्रिया में बाधा हो सकती है। पेट की समस्याएं एसिडिटी, भूख कम होना आदि की समस्या हो सकती है। 

Conclusion

दोस्तो, आज के लेख में हमने आपको बीयर पीने के फायदे और नुकसान  के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इसके गुण बताये। भारत में बीयर के लोकप्रिय ब्राण्ड्स, बीयर के विषय में ध्यान रखने वाली बातें और इसके साथ क्या नहीं खाना चाहिये, इन सबके बारे में भी बताया। आशा है आपको ये लेख अवश्य पसन्द आयेगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और  सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर करें। ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, हमारा आज का यह लेख आपको कैसा लगा, इस बारे में कृपया अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health- Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer- यह लेख केवल जानकारी मात्र है। देसी हैल्थ क्लब अल्कोहल सेवन की सिफारिश नहीं करता और ना ही अल्कोहल को प्रोमोट करता है। बीयर के सेवन से किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

View Comments

Recent Posts

किडनी ट्रांसप्लांट क्या है? – What is a Kidney Transplant in Hindi

दोस्तो, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, वैसे तो सर्जरी एक जटिल प्रक्रिया होती…

3 days ago

किडनी को स्वस्थ रखने के घरेलू उपाय – Home Remedies to Keep Kidney Healthy in Hindi

दोस्तो, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, मशीनरी चाहे कोई भी हो जब तक…

1 week ago

लिपोमा क्या है? – What is Lipoma in Hindi

दोस्तो, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, त्वचा रोग अक्सर त्वचा के ऊपर होते…

2 weeks ago

ब्रेन एन्यूरिज्म क्या है? – What is Brain Aneurysm in Hindi

दोस्तो, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, मानव मस्तिष्क सबसे जटिल संरचना है और…

2 weeks ago

Omicron Symptoms – वैक्सीन के दोनों डोज ले चुके लोगों में दिख सकते हैं ओमिक्रॉन के ये लक्षण,

WHO के मुताबिक, दुनियाभर में एक हफ्ते के अंदर कोरोना वायरस के मामलों में 11…

3 weeks ago

कैंसर के इलाज के लिए कीमोथेरेपी की जरूरत नहीं | Chemotherapy is not needed to treat cancer

डिजिटल डेस्क, प्रयागराज। अमेरिका में क्लीवलैंड क्लिनिक के 11 वैज्ञानिकों और इलाहाबाद विश्वविद्यालय (एयू) के एक…

3 weeks ago