Advertisements

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज हम आपको एक ऐसी बीमारी के बारे में बताएँगे। जिसको हम एक्जिमा के नाम से जानते है।  एक्जिमा को हम आम भाषा में खुजली की समस्या के नाम से भी जानते है। एक्जिमा होने पर लोगो को ज्यादातर खुजली, और लाल चकते जैसे निशान दिखाई देने लगते है। जिससे त्वचा पर देखने को मिलता है। कई लोगो को खुजली के साथ सूजन की भी समस्या हो जाती है। एक्जिमा आपके किसी भी अंग पर हो सकती है। बहुत से लोगो को त्वचा पर एक्जिमा का कम असर होने के कारण ये बिना किसी इलाज के जल्दी ठीक हो जाते है। लेकिन वही किसी-किसी को इतना परेशान कर देती है, कि वो कितना भी अपना इलाज करा ले पर ठीक होने का नाम ही नहीं लेती है। जिनका सही समय पर ही इलाज करा ही ठीक रहता है। हालांकि एक्जिमा के घरेलू उपाय से बहुत ही रहत मिलता है।  तो यही था हमारा आज का टॉपिक “एक्जिमा के घरेलू उपाय” तो चलिए आज के लेख में हम आपको एक्जिमा के घरेलू उपाय,  इनके होने के कारण तथा लक्षण के बारे में में बताने वाले हैं। 

पिछले आर्टिकल में हमने आपको सोराइसिस के घरेलू उपाय के बारे में बताया था। एक्जिमा भी उसी कैटेगरी में से एक है। हालांकि एक्जिमा संक्रामक नहीं है लेकिन इसके उपचार में काफी समय लग सकता है। वैसे तो इसे ठीक करने के लिए लोग बहुत सारी क्रीम और लोशन, मेडिकल मलहम का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय के बारे में बताएंगे जिनके जरिए आप आसानी से एक्जिमा का इलाज कर सकते हैं।

Advertisements
एक्जिमा के घरेलू उपाय
Advertisements

एक्जिमा क्या है?   What is Eczema?

हम जानते है कि आप सभी लोगो के मन में एक सवाल जरूर आ रहा होगा कि आखिर ये एक्जिमा क्या होता है? एक्जिमा के विभिन्न कारणों और घरेलू उपायों को देखने से पहले, यह समझना बहुत जरुरी है कि एक्जिमा क्या है? डॉ सोमा सरकार बताती हैं।  कि एक्जिमा एक ऐसी स्थिति है, जहाँ आपकी स्किन परतदार और खुरदरी हो सकती है। तथा उसमे खुजली ज्यादा होने लगती है। और इसमें कभी-कभार  छाले भी हो जाते है। एक्जिमा एक ऑटोइम्यून डिसऑर्डर है। जिसमें कुछ चीजों के कारण यह एक एलर्जी के रूप में हो जाती है,और यह आमतौर पर हाथ व पैर पर सबसे ज्यादा देखा जाता है। बच्चे भी इस एक्जिमा के शिकार होते हैं और इसे आटोपिक डर्मेटाइटिस कहा जाता है।

Advertisements

एक्जिमा कितने प्रकार के होते है? What are the Types of Eczema?

एक्जिमा मुख्यतः चार पप्रकार के होते है 

1 . न्यूरोडर्मेटाइटिस- इसमें शरीर पर लाल चकते हो जाते है।  जिसमे हद से ज्यादा खुजली होने लगती है। 

2 . न्युमुलर एक्जिमा- यह देखने में पैच की तरह ही होते है। जिसका आकार करीब- करीब सिक्के के जैसा होता है। यह पापारिदारनुमा होता है और इसमें खुजली बहुत होती है। 

Advertisements

3 . डिशिड्रोटिक एक्जिमा- इस तरह के एक्जिमा में हाथ और पैरो में जलन जैसी होती है। फिर छोटे -छोटे खुजलीदार फफोले जैसे बन जाते है। 

4 . कॉन्टैक्ट एक्जिमा-  जब हमारी त्वचा किसी खास ऐलर्जिन के संपर्क में आती है। तो इस तरह का एक्जिमा होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। जिससे शरीर पर खुजली होने लगती है और फिर उस जगह पर लाल हो जाता है। 

एक्जिमा होने के कारण Cause of Eczema

एक्जिमा होने के कारण वैज्ञानियो को भी ठीक से पता नहीं चल पाया है। लेकिन कुछ कारणों के वजह से एक्जिमा होने के ज्यादा ही कारण सामने आये है जैसे कि

1 . यदि किसी व्यक्ति का इम्यून सिस्टम ठीक नहीं है। तो उस व्यक्ति एक्जिमा होने के कुछ ज्यादा ही खतरा रहता है। 

2 . कई तरह की एलर्जी, बैक्टीरिया आदि से भी एक्जिमा हो जाता है। 

3 . एक्जिमा के पीछे जेनेटिक फैक्टर यानी वंशानुगत कारक माना जाता है।  जैसे कि परिवार में किसी व्यक्ति को पहले एक्जिमा रह चुका है तो आने वाली पीढ़ियों को इसके होने की आशंका अधिक रहती है। 

4 . कई बार अगर आपके शरीर का तापमान अक्सर बदलता तहत है, तो भी एक्जिमा होने की आशंका बनी रहती है l

5 . महिलाओं के हारमोन में बदलाव की वजह से भी एक्जिमा हो जाता है l

ये भी पढ़े ट्रैबेक्यूलेक्टोमी क्या है?

एक्जिमा के लक्षण Symptoms of Eczema

एक्जिमा के निम्नलिखित लक्षण हो सकते है जैसे कि

1 . एक्जिमा के होने से त्वचा के ऊपरी परत पर नमी की कमी होने से त्वचा सुख जाती है। शुष्कपन के चलते बार -बार खुजली होने लगती है। 

2 . एक्जिमा के कुछ मामलो में त्वचा के लगातार खुजली होने से कई जगहों पर पस (मवाज )हो जाते है। और कभी -कभार खून भी आ जाते है। 

3 . एक्जिमा शरीर के किसी भी हिस्से में हो जाता है। 

4 . यह ज्यादातर कानो के पीछे, गर्दन के पास, हाथो के उंगलियों में भी हो जाते है। 

5 . इस रोग का मुख्य कारण शरीर में मौजूद खराब खून के चलते होता है। 

6 . एक्जिमा रोग किसी भी उम्र में हो सकता है। 

क्यों होती है ये समस्या Why is this Problem

यह समस्या ज्यादातर उन व्यक्तियों को होती है। जो केमिकल युक्त उत्पादनों का ज्यादा उपयोग करते है। इसमें साबुन, चूना, डिटर्जेंट का अधिक उपयोग, मासिक धर्म में परेशानी,  कब्ज़ और रक्त विकार आदि शामिल हैं। इसके अलावा यदि आप उन लोगो के कपडे पहन लेते है।  जिन्हे पहले से ही दाद, खाज-खुजली जैसी समस्याओं से जूझ रहे है।  तो आपको भी यह बीमारी होने की आशा बढ़ जाती है। 

एक्जिमा के घरेलू उपाय Home Remedies for Eczema

1. सेब का सिरका (Apple Vinegar)- अगर आपको एक्जिमा हुआ है तो आप सबसे पहले सेव का साइडर सिरका उपयोग करने से एक्जिमा में काफी रहत मिलती है। यही नहीं बल्कि नेशनल एक्जिमा एसोसिएशन भी एक्जिमा के इलाज में सेव का सिरका काफी कारागार साबित हुआ है। यह बैक्टीरिया लड़ने में काफी मदद करता है। एलर्जी वाली त्वचा को संक्रमित होने से रोकता है। जल्दी ठीक होने के लिए आपको सेब का सिरका दिन में कम से कम 2-3 बार लगा चाहिए। 

2. नीबू (Lemon)- नीबू हर घर में आसानी से मिल जाता है। नीबू में विटामिन सी होने के साथ साथ एक्जिमा को भी ठीक करने की क्षमता होती है। शरीर में कही भी आपको खुजली या एक्जिमा है तो आप नीबू और नारियल का तेल मिला कर लगा सकते है।  जिससे कुछ ही घंटो में आपको रहत मिलेगी। 

ये भी पढ़े निम्बू पानी पिने के फायदे और नुकसान

3. नारियल का तेल (Coconut Oil)- नारियल का तेल त्वचा के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इसका भी प्रयोग एक्जिमा के रोग के लिए किया जाता है। क्योंकि इसमें फैटी एसिड होते हैं जो संक्रमित क्षेत्र में शुष्क त्वचा में नमी पैदा करते है। वर्जिन नारियल तेल सूजन को कम करने में मदद करते है। और त्वचा के स्वास्थ्य में काफी हद तक सुधार करता है। सबसे अच्छा परिणाम प्राप्त करने के लिए लगभग 8 से 10 हफ्ते तक नारियल का तेल लगाए। यह एक्जिमा को ठीक करने में अच्छा रहता है। 

4. शहद (Honey)-  शहद का प्रयोग बहुत से रोगो को ठीक करने में किया जाता है। क्युकी इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी के गुण होते हैं जो घावों को भरने में काफी मदद करता है। शहदके सेवन से हमारी इम्यून सिस्टम भी मजबूत होती है। शहद एक्जिमा के लक्षणों को ठीक करने में काफी प्रभावशाली माना जाता है। क्युकी यह जलन, घाव और जीवाणु संक्रमण में उपचार के रूप में काम करता है। 

5 . देशी घी की मालिश (Homemade Ghee Massage)- एक्जिमा से पीड़ित व्यक्ति को अगर अचानक से ज्यादा खुजली होने पर तुरंत ही देशी घी की मालिश करें।  ऐसा करने से एक्जिमा के मरीजों को जल्दी राहत मिलती है।

6 . एलोवेरा जेल (Aloe Vera Gel)-  एलोवेरा एक आयुर्वेदिक जड़ीबूटी में से एक माना जाता है।  जिसका उपयोग स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है।  एलोवेरा जेल त्वचा में नमी को बरकरार रखने के साथ शरीर के रूखेपन से भी राहत दिलाता है। इसमें बहुत से एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते है। जो एक्जिमा में संक्रमण से रोकता है।  एक्जिमा को ठीक करने के लिए एलोवेरा जेल उपयोग करना बहुत ही अच्छा माना जाता है। क्युकी इसमें मॉइस्चराइजिंग करने के भी गुण होते है। 

ये भी पढ़े एलोवेरा के फायदे

7 . खूब पानी पिएं (Drink Plenty of Water)- अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखने से आपकी त्वचा भी हाइड्रेटेड रहती है।  प्रति दिन आपको कम से कम आठ से दस गिलास पानी पीना चाहिए। ऐसा करने से आपकी त्वचा नम रहती है। और चेहरे पर ग्लो भी आने लगता है।  आप पानी के जगह चाय, कॉफ़ी , गर्म पानी , हॉट चॉकलेट , छाछ आदि का सेवन भी कर सकते है।  

8. कोलायडीय ओटमील (Colloidal Oatmeal)-  ये भी एक्जिमा रोग के लिए एक प्राकृतिक उपचार है। क्युकी इस ओटमील में शामिल पोषक तत्व होते है जो त्वचा को ठीक करने के लिए  अच्छा माना जाता है।  यह कोलाइडल उबले दलिया और पिसा हुआ अर्क से बनाया जाता है। जो संक्रमित त्वचा को ठीक करने में काफी मदद करता है।  इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण त्वचा के बैक्टीरियल इंफेक्शन को दूर करने में मदद  करते है।  

9 . कोमल साबुन और डिटर्जेंट का प्रयोग करें (Use Gentle Soap and Detergent)-  बॉडी वॉश, साबुन और क्लींजर जैसे कई उत्पादनो में हार्ड डिटर्जेंट होते है। जो साबुनो में ज्यादा झाग पैदा करते है।  ये ज्यादा झाग पैदा करने वाले त्वचा को शुष्क कर देते है।  जबकि एक्जिमा से पीड़ित व्यक्तियों की पहले से ही त्वचा शुष्क होती है।  तो ऐसी स्थिति में अधिक झाग वाले कोई भी प्रोडकट उपयोग नहीं करना चाहिए। इसलिए बिना झाग और सुगंध मुक्त क्लींजर वाले सॉफ्ट साबुनों का उपयोग करने का प्रयास करें। फैब्रिक सॉफ्टनर से भी बचें, क्योंकि इनमें ऐसे रसायन होते हैं जो त्वचा में जलन पैदा कर सकते हैं।

10 . हल्दी (Turmeric)-  हल्दी में एंटी इंफ्लेमेटरी व एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद होता है।  जो त्वचा के साथ सभी रोगो को दूर करने में काफी मदद करता है।  हल्दी का प्रयोग त्वचा की खूबशूरती बढ़ाने के लिए भी किया जाता है।  इसके अलावा त्वचा में हो रहे खुजली , लालिमा, लाल चकते, से राहत दिलाता है।  हल्दी एक ऐसी जड़ीबूटी है जो एक्जिमा के लक्षणो को कम करने में मदद करती है। हल्दी का उपयोग करने के लिए आप हल्दी का पेस्ट बना ले।  फिर उसमे थोड़ा सा गुलाब जल , व तजा दूध मिला कर प्रभावित अंगो पर लगाए। आपको कम से कम 15 से 20 मिनट तक रखने के बाद इसे साफ पानी से धो ले।  यह आपको हफ्ते में 2 बार करने से जल्दी ही फायदा होगा।  

11 . तुलसी (Basil)- तुलसी एक बहुत अच्छा आयुर्वेदिक औषधि है। जो आज से नहीं बल्कि पुराने समय से त्वचा की समस्या के लिए उपयोग में लाया जाता है। एक्जिमा की समस्या के लिए तुलसी को बहुत ही कारागार माना जाता है।  इसके प्रयोग से खुजली, लाल चकते, लाल निशान, जलन इन सभी से राहत मिलती है।  तुलसी में कुछ ऐसे गुण व एंटीऑक्सीडेंट, एंटी सेप्टिक गुण मौजूद होते है। जो संक्रमण को रोककर त्वचा को बचाव करते है। तुलसी के रस को किसी साफ कपडे में लेकर प्रभावित अंगो पर लगाने से जल्दी ठीक हो जाता है। 

ये भी पढ़े तुलसी के फायदे

एक्जिमा को कैसे रोके   How to Prevent Eczema

एक्जिमा  को रोकने के लिए आपको नीचे दिए गए निम्न बातों पर ध्यान देना होगा।  

1 .  कपडे पर साबुन या डिटर्जेंट (सरफ) का उपयोग करने के बाद उसे अच्छी तरह धो लें।  और कपड़ो पर साबुन या डिटर्जेंट (सरफ)  जमा ना रहने दे।  कपडे को अच्छे से सुख जाने के बाद ही पहने। 

2 . कपडे पहनते समय ध्यान दे की आपके कपडे सूती के हो , जिससे आपके स्किन में एलर्जी ना हो। 

3 . नहाते समय गर्म पानी की जगह गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें, और इस्तेमाल में लाने वाला साबुन प्राकृतिक और केमिकल फ़्री हो , इसका खास ध्यान रखें l

4 . अपनी त्वचा पर किसी हल्के मॉइस्चराइजर का ही प्रयोग करें l

5 . त्वचा पर नारियल तेल का इस्तेमाल राहत देता है l 

6 . नमक का कम से कम इस्तेमाल करें।  

7 . कम से कम साबुन, शैम्पू और डिटर्जेंट का इस्तेमाल करें। अधिक केमिकल युक्त चीज़ों का इस्तेमाल बंद कर दें।  नहाने के लिए ग्लिसरीन सोप का ही  इस्तेमाल करें। 

एक्जिमा के दौरान क्या खाना चाहिए क्या नहीं   What not to Eat During Eczema

एक्जिमा से बचने के लिए आपको अपने खान-पान में थोड़ा बहुत बदलाव करना पड़ेगा। जैसे कि  

1 . रोजाना कम से कम 8 से 10 गिलास पानी जरूर पिए।  

2 . विटामिन- E का सेवन करने से एक्जिमा में होने वाले सूजन में काफी मदद करता है।  

3 . ओमेगा-3 फैटी एसिड हमारे इम्यून सिस्टम ठीक करता है।  और एक्जिमा रोग में काफी तेजी से सुधर होता है। 

4 . दाल, काली चाय, बीन्स, नाशपाती, हरे सेब से परहेज करें।  

5 . विटामिन -ए वाले भोजन या फल का सेवन से त्वचा और प्रभावित अंगो में सुधर होता है।  

6. दूध, अंडे, सोया, ग्लूटेन, मेवे, शेलफिश, दाल, काली चाय, बीन्स, का उपयोग न करें।

एक्जिमा के दौरान आपकी जीवनशैली   

1 .  एक्जिमा से पीड़ित व्यक्तियों बदलते मौसमो से बच कर रहना चाहिए। सर्दियों के मौसम में गरम कपडे पहने लेकिन ब्लोअर के पास न बैठे। 

2 .  एक्जिमा से पीड़ित व्यक्तियों को अपने नाख़ून हमेशा काट कर रखना चाहिए। ताकि आप चाह कर भी खुजली ना कर सकें। 

3 .  गर्मियों के दिनों में आपको सूती कपडे पहनना चाहिए , ताकि आपकी त्वचा को नरम रहे। 

4 . अपनी त्वचा को हमेशा नरम रखने की कोशिस करें। और एक्जिमा वाली जगहों पर मॉइस्चराइज क्रीम या कोई अच्छी वाली बॉडी लॉसन का उपयोग करें। 

Conclusion

 हेलो दोस्तों आज के लेख में हमने आपको एक्जिमा के घरेलू उपाय के बारे में काफी अच्छी जानकारी देने की कोशिश की है।  हमने इसमें आपको एक्जिमा के लक्षण, कारण और इससे बचने के उपाय भी बताया है। तथा साथ ही एक्जिमा के दौरान क्या खाना चाहिए और क्या नहीं इन सब के में विस्तृत जानकारी देने की पूरी कोशिस की है। हम आशा करते है की आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी काफी पसंद आई होगी।  

दोस्तो, इस लेख से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो लेख के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह लेख आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और  सगे सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health- Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

 Disclaimer   यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है।  यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए आपको हमेशा किसी विशेषज्ञ डॉक्टर से संपर्क करें। देसी हेल्थ क्लब इस जानकारी की प्रमाणिकता की जिम्मेदारी नहीं लेता। 

Summary
एक्जिमा के घरेलू उपाय
Article Name
एक्जिमा के घरेलू उपाय
Description
हेलो दोस्तों आज के लेख में हमने आपको एक्जिमा के घरेलू उपाय के बारे में काफी अच्छी जानकारी देने की कोशिश की है।  हमने इसमें आपको एक्जिमा के लक्षण, कारण और इससे बचने के उपाय भी बताया है। तथा साथ ही एक्जिमा के दौरान क्या खाना चाहिए और क्या नहीं इन सब के में विस्तृत जानकारी देने की पूरी कोशिस की है। हम आशा करते है की आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी काफी पसंद आई होगी।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo
Categories: Cure Disease

1 Comment

Shiv Kumar Kardam · November 7, 2021 at 4:47 pm

An excellent, informative and beneficiary Article.

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!