Advertisements

दोस्तो, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, आज हम आपको गर्मियों में मिलने वाले एक ऐसे फल के बारे में बतायेंगे जो गर्मियों में आपकी प्यास तो बुझाता ही है साथ ही आपका पेट भी भरता है। इसके अतिरिक्त यह आपके शरीर में पानी कमी पूरी करके आपको हाइड्रेट करता है। यह एक ऐसा फल है जो गर्मी में सबसे ज्यादा बिकने वाला फल की श्रेणी में दूसरे स्थान पर है। प्राकृतिक मिठास लिये यह फल आपके मुंह में मिठास के साथ एक चिकनेपन का अहसास भी कराता है एकदम मक्खन की तरह। इसकी कस्तूरी जैसी सुगंध आपका मन मोह लेती है। जी हां, हम बात कर रहे हैं खरबूज की जो स्वास्थ की दृष्टि से बहुत फायदेमंद होता है, लेकिन इसके ज्यादा खा लेने पर यह आपका स्वास्थ बिगाड़ भी सकता है। दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक “खरबूजा खाने के फायदे और नुकसान”। देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आज आपको खरबूज के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बतायेगा कि खरबूज खाने के क्या फायदे होते हैं और साथ ही कुछ नुकसान भी बतायेगा।  तो, सबसे पहले जानते हैं कि खरबूज क्या होता है और इसकी खेती कहां होती है। फिर इसके बाद बाकी बिन्दुओं पर जानकारी देंगे।

Advertisements
खरबूजा खाने के फायदे और नुकसान
Advertisements

खरबूज क्या है? – What is a Cantaloupe?

खरबूज ग्रीष्म ऋतु वाला फल है जो आपको शीतलता प्रदान करता है। इसका वैज्ञानिक नाम कुकुमिस मेलो (Cucumis Mello) है। इसे अंग्रेजी में Muskmelon कहा जाता है। यह क्युकरबिट परिवार से संबंध रखता है जिसमें कद्दू, ककड़ी, लौकी आदि आते हैं। इसकी खेती उष्ण और शुष्क स्थानों पर की जाती है। इसकी खेती के लिये काली रेतीली भूमि अधिक अनुकूल मानी जाती है। खरबूज की लंबी बेल जमीन पर फैली होती है जिस पर यह लगता है। यह गोलाकार और काफी बड़ा होता है। बाहर से यह हरे, पीले, नारंगी और ब्राउन किसी भी रंग का हो सकता है। ज्यादातर इस पर प्राकृतिक रूप से लंबे कट के डिजाइन बने होते हैं माने कह रहे हों कि यहां से काटिये।

Advertisements

मगर कई एकदम प्लेन होते हैं या अलग से ही कोई सुन्दर सा प्राकृतिक डिजाइन बना होता है। इसका बाहरी रंग रूप इतना आकर्षित करता है कि जब आप एक खरबूजा देखते हैं तो दूसरा इससे अच्छा लगता है फिर तीसरा, इस तरह आप भ्रमित भी हो जाते हैं। इसीलिये एक कहावत भी प्रसिद्ध है की “खरबूजा, खरबूजे को देखकर रंग बदलता है”। खरबूज अंदर से भी कई रंग का निकल सकता है जैसे नारंगी, हल्का हरा, हल्का पीला या एकदम सफेद। इसमें लगभग 90 प्रतिशत पानी, कोलेस्टेरॉल मुक्त होता है, वसा भी नहीं के बराबर है। खरबूज में कैल्शियम, आयरन, विटामिन-ए और विटामिन-सी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होते हैं। इसके बीज भी बहुत मंहगे होते हैं जिनका उपयोग अनेक प्रकार की मिठाइयों में किया जाता है और तेल भी निकाला जाता है। खरबूज के बीजों में 40-50 प्रतिशत तेल होता है। कुल मिलाकर गर्मियों में खरबूज स्वास्थ के लिये अत्यंत लाभकारी फल है।

ये भी पढ़े – तरबूज खाने के फायदे

खरबूज की खेती कहां होती है? – Where is Cantaloupe Cultivated?

1. खरबूज ईरान, अनाटोलिया और अरमीनिया का मूल फल है। संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा के कुछ क्षेत्रों में, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलेंड, तुर्कमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान में भी इसकी खेती की जाती है। आस्ट्रेलिया, न्यूजीलेंड में खरबूज को रॉकमेलन कहा जाता है।    

Advertisements

2. भारत के बिहार, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, तामिलनाडू और कर्नाटक, राज्यों में खरबूजे की खेती की जाती है। 

खरबूज के गुण – Properties of Cantaloupe

1. खरबूज की तासीर ठंडी होती है। 

2. खरबूज का स्वाद प्राकृतिक मिठास लिये मीठा और पानी वाला होता है।

3. खरबूज में से कस्तूरी जैसी सुगंध आती है। 

4. खरबूज में 90 प्रतिशत पानी होता है।

5. खरबूज के बीजों, जिनको मगज़ कहा जाता है, में 40-50 प्रतिशत तेल होता है। इसके बीज बहुत मंहगे बिकते हैं। 

6.  पोषक तत्व (मात्रा प्रति 100 ग्राम) – 

कैलोरी                             33 kcal

कुल वसा                         0.2 ग्रा.

संतृप्त वसा                      0.1 ग्रा.

कोलेस्टेरॉल                      0 मि.ग्रा.

सोडियम                          16 मि.ग्रा

पोटेशियम                        267 मि.ग्रा

कैल्सियम                       9 मि.ग्रा

मैग्नेशियम                       12 मि.ग्रा

आयरन                       0.2 मि.ग्रा

कुल कार्बोहायड्रेट              8 ग्रा.

डायटरी फाइबर                 0.9 ग्रा.

शुगर                                8 ग्रा.

प्रोटीन                              0.8 ग्रा.

विटामिन-ए, RAE       169 माइक्रो ग्रा.

विटामिन-ए,U               3382.U

विटामिन-ए                       0.05 मि.ग्रा

(अल्फा-टोकोफेरोल)

विटामिन-के               2.5 माइक्रो ग्रा.

विटामिन-सी               36.7 मि.ग्रा

विटामिन-बी6                    0.1 मि.ग्रा

खरबूज का उपयोग – Use of Cantaloupe

खरबूज का उपयोग निम्न प्रकार से किया जा सकता है –

1. इसे काट कर ऐसे ही सामान्य रूप से खाया जा सकता है।

2. इसकी स्मूदी बनाकर भी खा सकते हैं।

3. दूसरे फलों के साथ मिलाकर सलाद के रूप में खा सकते हैं।

4. खरबूज का जूस निकालकर पी सकते हैं।

5. खरबूज के बीजों कि गिरी निकालकर भी खा सकते हैं।

6. खरबूज के बीजों को मिठाईयों में डाला जाता है।

7. खरबूज के बीजों को पाउडर बनाकर इस्तेमाल कर सकते हैं।

8. खरबूजे के बीजों की चाय बनाकर पीया जा सकता है। 

खरबूज कितना और कब खाना चाहिये? – How much and when should Cantaloupe be Eaten?

1. खरबूज कितना खाना चाहिये, इस बारे में कोई प्रमाणिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। हां यह तय है कि इसको कम ही खाना चाहिये। कम मात्रा आप स्वयं निश्चित करें।

2. जहां तक खाने का प्रश्न है तो समझ लीजिये कि रात को छोड़कर खरबूज को किसी भी समय खाया जा सकता है। रात को खरबूज खाने से सर्दी की शिकायत हो सकती है। 

खरबूजा खाने के फायदे – Benefits of Eating Cantaloupe

दोस्तो, अब बताते हैं आपको, खरबूजा खाने के फायदे और नुकसान जो निम्नलिखित हैं –

1. शरीर को हाइड्रेट रखे (Keep Body Hydrated) – दोस्तो, खरबूज खाने का सबसे बड़ा और प्रमुख फायदा तो यही है कि यह गर्मियों में शरीर का तापमान सामान्य बनाये रखने में मदद करता है, शरीर को हाइड्रेट रखता है क्योंकि खरबूज में 90 प्रतिशत पानी होता है जो प्राकृतिक मिठास लिये होता है। गर्मी के मौसम में अक्सर शरीर में पानी की कमी हो जाना स्वाभाविक है जिससे कमजोरी, सिर में चक्कर आना, सिर में दर्द, मुंह सुखना, दस्त लगना, उल्टी होना, पेट फूलना, समस्याऐं होती हैं। इसे डिहाइड्रेशन कहा जाता है। इस डिहाइड्रेशन की स्थिति से छुटकारा दिलाने के लिये खरबूज शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है और शरीर को रिहाइड्रेट कर देता है। साथ ही इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल्स शरीर को एनर्जी प्रदान करते हैं। 

2. पाचन तंत्र को स्वस्थ रखे (Keep Digestive System Healthy)- खरबूज पेट के लिये उत्तम फल है जो पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाये रखने वाली आंतों  के कार्यों में मदद करता है। इसमें डाइटरी फाइबर की पर्याप्त मात्रा होने के कारण खरबूज आंतों के कार्यों नियंत्रित करता है जिससे पाचन क्रिया के बेहतर होने में मदद मिलती है।  यह पाचन तंत्र के लिये चिकना प्रवाह छोड़ता है जिससे पाचन तंत्र के लिये पाचन क्रिया आसान हो जाती है।

ये भी पढ़े – पाचन तंत्र को मजबूत रखने के उपाय

3. तनाव से राहत (Stress Relief)- खरबूजे के रस में सुपरऑक्साइड डिसम्यूटेज (Superoksid Dismutaz – SOD) एंजाइम की भरपूर मात्रा होती है, जो तनाव से राहत दिलाने में सकारात्मक भूमिका निभाता है। यह शरीर के एंजाइमैटिक एंटीऑक्सीडेंट, रक्षा प्रणाली का मुख्य एंजाइम है, जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से भी छुटकारा दिलाने का काम करता है। खरबूज में पोटेशियम की भी पर्याप्त मात्रा होती है जो मस्तिष्क को ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित करता है जिससे अधिक आराम महसूस होता है। सारा तनाव खत्म हो जाने पर मूड एकदम फ्रैश हो जाता है।

4.  फेफड़ों को स्वस्थ रखे (Keep Lungs Healthy)- धूम्रपान करने या धुएं के संपर्क में रहने से विटामिन-ए की कमी होना स्वाभाविक है जिससे फेफड़ों पर भी प्रभाव पड़ता है। ये खराब होने लगते हैं। खरबूज में मौजूद विटामिन-ए की पर्याप्त मात्रा शरीर में होने वाली इस क्षति की भरपाई करती है और फेफड़ों को स्वस्थ बनाये रखने में मदद करती है। खरबूज में बीटा-कैरोटीन की भरपूर मात्रा होती है जो फेफड़ों के कैंसर पर प्रभाव छोड़ती इसके साथ ही एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर को ऑक्सीजन-मुक्त कणों से बचाने का कार्य करती है। इस प्रकार कैंसर से फेफड़ों का बचाव होता है। निष्कर्षतः खरबूज का सेवन फेफड़ों के स्वास्थ के लिये बेहद लाभकारी है। 

5. वजन करने के लिये (Weigh)- वजन करने के लिये भी खरबूज के फायदे देखे जा सकते हैं। एंटीऑक्सीडेंट युक्त फल मोटापा (ओबेसिटी) को कम करने का काम करते हैं और खरबूज एंटीऑक्सीडेंट का बेहतरीन स्रोत है। वैसे भी क्युकरबिट परिवार वाले फल, डाइटरी फाइबर की मात्रा होने के नाते, मोटापा कम करते हैं। खरबूज भी क्युकरबिट परिवार वाला फल है और इसमें डाइटरी फाइबर की उच्च मात्रा होती है। फाइबर और पानी के कारण लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। वैसे भी खरबूज में फैट की मात्रा नहीं के बराबर होती है और कोलेस्टेरॉल तो बिल्कुल भी नहीं होता जो वजन बढ़ने का मुख्य कारण होते हैं। इसलिये यदि वजन कम करना चाहें तो खरबूज का सेवन करें।

6. डायबिटीज में फायदेमंद (Beneficial in Diabetes)- डायबिटीज के मरीजों के लिये खरबूज का सेवन एकदम सुरक्षित है क्योंकि खरबूज में फ्रैंटोज और ग्लूकोस होती हैं जो प्राकृतिक शुगर है, यह कभी नुकसान नहीं करती। इससे डायबिटीज के मरीजों को प्राकृतिक शुगर मिल जाने से उनकी मीठा खाने की इच्छा भी पूरी हो जाती है। खरबूज में पाये जाने वाला ऑक्सीकाइन (oxykine) ब्लड में शुगर के स्तर में संतुलन बनाये रखने का काम करता है।

ये भी पढ़े – डायबिटीज के घरेलू उपाय

7. हृदय स्वास्थ के लिये (Cardiovascular Health) – खरबूज में उच्च मात्रा में मौजूद एडनोसाइन (Adenosine) कंपाउंड होता है जो एंटीकॉगुलेंट यानी ब्लड थिनर के रूप में कार्य करते हुऐ कार्डियोवास्कुलर सिस्टम में रक्त के थक्के (blood clotting) को जमने से रोकता है। खरबूज में मौजूद विटामिन-सी, धमनी-स्क्लेरोसिस को रोकता है अर्थात्  धमनियों को सख्त होने से रोकता है। इसमें पाये जाने वाला बीटा कैरोटीन एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते हुऐ हृदय में रक्त संचार को निर्बाध बनाये रखने में मदद करता है। इससे हार्ट अटैक, स्ट्रोक आदि का जोखिम नहीं रहता। खरबूज में मौजूद पोटेशियम हाई ब्लड प्रैशर को कम करके, ब्लड प्रैशर को नियंत्रित करता है ताकि हृदय स्वस्थ रह सके।  

8. गुर्दे की पथरी को बढ़ने से रोके (Prevent Kidney Stones from Growing)- खरबूज में मौजूद साइट्रेट और कैल्शियम ऑक्सालेट क्रिस्टल को बढ़ने से रोकते हैं और साथ ही गुर्दे की पथरी को बढ़ने से रोकने में मदद करते हैं। जिन लोगों के यूरिन में साइट्रेट कम मात्रा में बनती है, उनको खरबूज का सेवन अत्यंत लाभकारी होगा।  

9. आंखों के लिये फायदेमंद (Beneficial for Eyes)- आंखों के स्वास्थ के लिये विटामिन-ए बहुत जरूरी होता है। खरबूज में विटामिन-ए की पर्याप्त मात्रा होती है। खरबूज में बीटा कैरोटीन मौजूद होता है जो शरीर द्वारा अवशोषित होने पर विटामिन-ए में परिवर्तित हो जाता है। यह उम्र बढ़ने के कारण दृष्टि दोष और मोतियाबिंद जैसी समस्याओं से बचाव करता है। ग्लोबल रिसर्च के अनुसार ल्यूटिन और जेक्सैंथिन कैरोटीनॉइड की कमी के कारण ऐज-रिलेटेड मैकुलर डिजनरेशन (एएमडी), अर्थात् उम्र बढ़ने की वजह से होने वाली आंखों की बीमारियां जैसे मोतियाबिंद, दृष्टि कमजोर हो जाना, अंधापन होने लगती हैं। खरबूज में ये दोनों कैरोटीनॉइड होते हैं जो इन समस्याओं से बचाव करते हैं। 

10. गठिया में आराम दिलाये (Give Relief in Gout)- खरबूज में विटामिन-सी की उच्च मात्रा पाई जाती है जो ताकतवर एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है। यह शरीर को फ्री-रेडिकल्स से होने वाली क्षति से बचाता है। फ्री-रेडिकल्स के कारण गठिया सहित अनेक समस्याऐं झेलनी पड़ती हैं। इसलिये खरबूज के सेवन से प्राप्त होने वाला विटामिन-सी गठिया होने से बचा सकता है। खरबूज के बीजों में भी एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जो गठिया से होने वाली सूजन और दर्द से राहत दिलाने में सक्षम होते हैं। 

11. मासिक धर्म में फायदेमंद (Beneficial in Menstruation)- मासिक धर्म के समय को यदि पीड़ादायक समय कहा जाये गलत नहीं होगा क्योंकि पीरियड्स के समय महिलाओं के पेट में, पीठ में जो असहनीय दर्द होता है उसे वही जान सकती हैं और ऐंठन से तो जैसे जान ही निकल जाती है। ऐसे समय में खरबूज का सेवन महिलाओं को दर्द और ऐंठन से राहत दिला सकता है। खरबूजे में पाये जाने वाला विटामिन-सी मासिक धर्म प्रवाह को रेगुलेट करने और ऐंठन से छुटकारा दिलाने में अपना प्रभाव दिखाता है। पीरियड्स के समय खरबूजे के नियमित सेवन से रक्त का फ्लो और थक्के काफी कम हो जाते हैं।

12. गर्भवती महिलाओं के लिये फायदेमंद (Beneficial for Pregnant Women) – गर्भवती महिलाओं के लिये खरबूजे का सेवन अमृत समान माना गया है। गर्भावस्था में अतिरिक्त विटामिन और खनिज की आवश्यकता होती है जिसकी पूर्ति खरबूज करता है। इसके सेवन द्वारा प्राकृतिक मिठास और सुगंध से गर्भवती महिला का मन प्रसन्न रहता है और मूड भी खुशनुमा बना रहता है। खरबूज में मौजूद फोलिक एसिड, न्यूरल ट्यूब (शिशु के मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डियों से जुड़ी समस्या) से सुरक्षा प्रदान करता है। इसकी फोलेट सामग्री गर्भवती महिलाओं में नई कोशिकाओं के निर्माण और रखरखाव में मददगार होती है।

13. त्वचा के लिए फायदेमंद (Beneficial for Skin)-  त्वचा के लिये खरबूज का सबसे बड़ा फायदा यह है कि त्वचा में नमी बनी रहती है और मुलायम रहती है। खरबूज में मौजूद विटामिन-के और विटामिन-ई, त्वचा को स्वस्थ बनाये रखने में अपनी सक्रिय भूमिका निभाते हैं। विटामिन-बी, कोलिन का बेहतरीन स्रोत है। यह त्वचा को फिर से जीवंत रखने में मदद करता है। खरबूज के विटामिन-ए त्वचा पुनर्जनन में मदद करता है और सी त्वचा में एक युवा चमक बनाये रखता है। खरबूजे के सेवन से चेहरे की झुर्रियां कम होने लगती हैं और फाइन लाइन भी हट जाती है। परिणामस्वरूप बढ़ती उम्र के लक्षण कम होने लगते हैं। खरबूजे के सेवन के अतिरिक्त चेहरे पर इसका गूदा लगायें। इससे फायदा होगा। चेहरे पर निखार आ जायेगा। इससे सनबर्न भी ठीक हो जायेगा।

14. बालों के लिये फायदेमंद (Beneficial for Hair)- खरबूजे में पर्याप्त मात्रा में इनोसिटॉल पाया जाता है जोकि विटामिन-बी का रूप है। यह नींबू के अलावा सभी खट्टे फलों में पाया जाता है। इनोसिटॉल बालों के विकास में मदद करता है और बालों को झड़ने से रोकता है। खरबूज एक आदर्श हेयर कंडीशनर की भी भूमिका निभा सकता है। बालों को झड़ने से रोकने के लिये एक कप मैश किये खरबूज से शैम्पू करने के बाद बालों की अच्छी तरह मालिश करके छोड़ दें। 10-15 मिनट के बाद बालों को धो लें। इसे हफ्ते में दो या तीन दिन कर सकते हैं।

ये भी पढ़े – बालों को सिल्की बनाने के घरेलू उपाय

खरबूज के नुकसान – Side Effects of Cantaloupe

खरबूज अधिक मात्रा में खाने से हो सकते हैं निम्नलिखित नुकसान –

1. एलर्जी हो सकती है।

2. खरबूज अधिक खाने से फाइबर की अधिक मात्रा शरीर में जमा होने से गैस और पेट में सूजन की समस्या हो सकती है।

3. खरबूज खाने के तुरंत बाद यदि पानी पी लिया तो निश्चित रूप से हैजा होने की संभावना बन जायेगी। इसलिये खरबूज खाने के कम से कम एक घंटे तक पानी ना पीयें। 

4. सुबह खाली पेट खरबूज खाना अवॉइड करें अन्यथा  पेट में पित्त विकारों उत्पन्न हो सकते हैं। 

Conclusion – 

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको खरबूज के बारे में विस्तार से जानकारी दी। खरबूज क्या है, खरबूज की खेती कहां होती है, खरबूज के गुण, खरबूज का उपयोग और खरबूज कितना और कब खाना चाहिये, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से खरबूज खाने के बहुत सारे फायदे बताये और कुछ नुकसान भी बताये। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा। 

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।
Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
खरबूजा खाने के फायदे और नुकसान
Article Name
खरबूजा खाने के फायदे और नुकसान
Description
आज के आर्टिकल में हमने आपको खरबूज के बारे में विस्तार से जानकारी दी। खरबूज क्या है, खरबूज की खेती कहां होती है, खरबूज के गुण, खरबूज का उपयोग और खरबूज कितना और कब खाना चाहिये, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo
error: Content is protected !!