Advertisements

आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय – Home Remedies for Itching or Burning in the Eyesin Hindi

आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय

स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, हमारी आंखें बहुत ही संवेदनशील होती हैं, इसलिये इनकी बहुत देखभाल करनी पड़ती है। इनमें जरा सी समस्या होने पर हमें बहुत तकलीफ होती है। आज का युग एक प्रदूषण वाला युग है जिसमें हमें जीना पड़ता है। ऐसे में धूल, मिट्टी, धूंआ, रसायन आदि को हमारी आंखें झेलती हैं जिससे आंखों में खुजली या जलन होती है। यह एक आम समस्या बन चुकी है। इस समस्या में इजाफा तब हो जाता है जब हम स्मोकिंग करते हैं या स्क्रीन के संपर्क में अधिक समय तक रहते हैं। आखिर इस समस्या का उपाय क्या है? दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक “आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय”। 

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आपको आंखों में खुजली या जलन के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और इससे राहत पाने के घरेलू उपाय भी बताएगा। तो, सबसे पहले जानते हैं कि आंखों में खुजली या जलन क्या है और इसके क्या कारण हैं?। फिर इसके बाद बाकी बिंदुओं पर जानकारी देंगे।

Advertisements
आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय
Advertisements

आंखों में खुजली या जलन क्या है? – What is itching or burning in the eyes?

दोस्तो, आंखों में खुजली होना या जलन होना एक आम  समस्या है। यदि आंखों की स्वच्छता का ध्यान रखा जाये और सामान्य घरेलू उपाय अपनाए जायें तो यह कुछ ही दिनों, ज्यादा से ज्यादा एक सप्ताह में, ठीक हो जाती है। यह कोई गंभीर समस्या नहीं है। हां, यदि आंखों के प्रति लापरवाई बरती जाये तो यह गंभीर समस्या भी बन सकती है। इसे मेडिकल भाषा में ओकुलर प्रुरिटस (ocular pruritus) कहा जाता है। 

Advertisements

मुख्यतः यह समस्या, एलर्जी, संक्रमण या प्रदूषित वातावरण के संपर्क में रहने के कारण होती है और यह किसी को भी किसी भी आयु में हो सकती है। आंखों में खुजली लगना, जलन मससूस करना, आंखों से पानी बहना आदि इसके मुख्य लक्षण होते हैं। एक्सपर्ट्स के अनुसार आंखों में खुजली या जलन होने की स्थिति में गलती से भी आंखों को मसलना नहीं चाहिये। ऐसा करने से खुजली या जलन और बढ़ जाती है। 

ये भी पढ़े- ऑक्युलर हाइपरटेंशन क्या है?

आंखों में खुजली या जलन के कारण  – Causes of Itching or Burning in the Eyes

आंखों में खुजली या जलन के हो सकते हैं निम्नलिखित कारण – 

Advertisements

1. प्रदूषण के संपर्क में आना जैसे, धूल, मिट्टी, धूंआ, रसायन आदि।

2. आंखों में कचरा गिर जाना।

3. आंखों में नमी की कमी यानि आंखों में सूखापन। 

4. वर्नल केराटोकोनजिक्टिवाइटिस अर्थात् आंख की सतह की सूजन। 

5. एटोपिक केराटोकोनजिक्टिवाइटिस यानि आनुवांशिक स्थिति की वजह से आंखों की सतह पर सूजन आना।

6. एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस।

7. आंखों में संक्रमण।

8. कांटेक्ट लेंस का सही से फिट न बैठना।

9. आंखों के आसपास के क्षेत्र में एक्जिमा होना।

10. एलर्जी के उपचार में दी जाने वाली दवाओं की प्रतिक्रिया।

11. दर्द निवारक दवाओं की प्रतिक्रिया।

12. डिप्रेशन के उपचार में दी जाने वाली दवाओं की प्रतिक्रिया।

13. बर्थ कंट्रोल पिल्स का उपयोग।

14. मुंहासों के लिये ली जाने वाली दवाएं।

15. ब्लेफेराइटिस यानि पलकों की सूजन।

16. धूम्रपान करना या पेसिव स्मोकिंग के साइडस्ट्रीम स्मोक के संपर्क में आना। 

आंखों में खुजली और जलन के लक्षण – Symptoms of Itching and Burning in the Eyes

आंखों में खुजली और जलन के निम्नलिखित लक्षण प्रकट हो सकते हैं –

1. जैसा कि टाइटल से स्पष्ट है, आंखों में खुजली और जलन मुख्य लक्षण हैं। 

2. आंखों से लगातार पानी आना।

3. आंखों का सूज जाना।

4. आंखों में लालिमा छाना।

5. प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता यानि बाहर निकलने पर आंखों में चुभन महसूस होना। 

6. स्पष्ट दिखाई ना देना। फोकस करने में दिक्कत होना।

7. दो-दो दिखाई देना। 

8. अचानक कम दिखाई देना। 

आंखों में खुजली और जलन का निदान – Diagnosis of Itching and Burning in the Eyes

चूंकि आंखों में खुजली और जलन कोई गंभीर स्थिति नहीं है इसलिये डॉक्टर केवल आंखों का शारीरिक परीक्षण ही करते हैं। कोई विशेष टेस्ट की सलाह नहीं देते। संक्रमण की स्थिति में कुछ विशेष टेस्ट करवाए जा सकते हैं। 

आंखों में खुजली और जलन का उपचार – Treatment of Itching and Burning in the Eyes

आंखों में खुजली और जलन की समस्या कुछ ही दिनों में ठीक हो जाती है। इसलिये डॉक्टर भी इसके उपचार के लिये निम्नलिखित सलाह दे सकते हैं –

1. आमतौर पर आंखों में ठंडे पानी के छींटे मारने की सलाह दी जाती है। 

2. कंजंक्टिवाइटिस में भी पानी से धोते रहने की सलाह दी जा सकती है।

3. आंखों को गुलाब जल से धोने की सलाह दी जा सकती है।

4. आंखों की सफाई रखने को कहा जा सकता है।

5. बहुत कम मामलों में कोई आई ड्रॉप प्रेसक्राइब किया जा सकता है। 

6. आंखों के स्वास्थ के लिये आंखों के विटामिन दिये जा सकते हैं। 

डॉक्टर के पास कब जाएं? – When to Go to the Doctor?

निम्नलिखित स्थितियों में डॉक्टर के पास जाना चाहिये –

1. जब खुजली और जलन घरेलू उपाय अपनाने के बाद भी ठीक ना हो रही हों। यह ज्यादा से ज्यादा एक सप्ताह एक सप्ताह में ठीक हो जाते हैं। 

2. आंखों में संक्रमण होने की संभावना हो।

3. आंखें लाल हो रही हों।

4. स्पष्ट दिखाई ना दे रहा हो। 

5. बाहर रोशनी में जाने में परेशानी होती हो।

6. आंखों में अधिक कचरा जमा हो गया हो। 

7. आंखों में सूजन बनी रहे।

8. आंखों में दर्द बना रहे। 

ये भी पढ़े- गुहेरी के घरेलू उपाय

आंखों में खुजली या जलन के घरेलू  उपाय – Home Remedies for Itching or Burning in the Eyes

दोस्तो, अब बताते हैं आपको कुछ निम्नलिखित घरेलू उपाय जिनको अपनाकर आप आंखों में खुजली या जलन से राहत पा सकते हैं –

1. सादा पानी (Simple Water)- पानी में शीतलता का गुण होता है। यह जलन से तुरन्त राहत पहुंचाने का काम करता है। इसलिये जब भी आंखों में खुजली या जलन महसूस हो, आंखों में पानी की छींटे मारें। यह प्रक्रिया आप हर बीस मिनट बाद कर सकते हैं। कई बार लगातार काम करते रहने से भी आंखों में थकावट होने लगती है। इस स्थिति में भी आंखों में पानी की छींटे मारें, आंखों की थकावट तुरन्त खत्म हो जाएगी।

2. बर्फ या फिर ठंडे पानी से सिंकाई (Irrigation with Ice or Cold Water)- सादा पानी से यदि कोई खास आराम नहीं लग रहा तो आंखों की बर्फ़ से सिंकाई कर सकते हैं। इसके लिये किसी कपड़े में बर्फ़ के टुकड़े रखकर इसमें गांठ बांधकर आंखों पर रखकर सिंकाई करें, इससे आराम आ जाएगा। विकल्प के तौर पर कपड़े को ठंडे पानी में भिगोकर, निचोड़कर आंखों पर रखें। थोड़ी देर बाद ये कपड़ा हटाकर दुबारा पानी में भिगोकर आंखों पर रखें। यह प्रक्रिया कम से कम 20 मिनट तक करते रहें। इसे दिन में दो, तीन बार कर सकते हैं। 

3. गुलाब जल (Rose Water)- पानी और बर्फ़ के बाद गुलाब जल आंखों के लिये एक उत्तम विकल्प है। गुलाब जल में एंटीइन्फ्लेमेटरी होते हैं और इसमें हाइड्रेटिंग प्रॉपर्टीज भी होती हैं, ये सब आंखों की जलन, खुजली, सूखापन, सूजन आदि को दूर करने में मदद करते हैं। जब आंखों में इस प्रकार की समस्या हो, तो किसी बर्तन में थोड़ा सा गुलाब जल निकाल कर इसमें दो रुई के टुकड़े डुबोकर, इनको आंखों को पर रख लें। 15-20 मिनट बाद इन रुई के टुकड़ों को हटा दें। ऐसा करने से आंखों को बहुत राहत मिलेगी। इसे दिन में तीन, चार बार कर सकते हैं। 

4. कच्चा और ठंडा दूध (Raw and Cold Milk)- कच्चा (बिना उबला हुआ) और ठंडा दूध आंखों में खुजली की समस्या में लाभदायक माना जाता है। एक बर्तन में थोड़ा सा कच्चा और ठंडा दूध ले लें, अब इसमें रुई के दो टुकड़े भिगोकर आंखों को बंद करके आंखों के ऊपर रख लें। इसे दिन में दो बार सुबह और शाम करें। इससे खुजली और जलन में आराम लगेगा। 

5. धनिया के बीज (Coriander Seeds)- धनिया में एंटीइंफ्लेमेटरी और मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो आंखों की खुजली, जलन सूजन और सूजन को कम करके आंखों के सूखेपन को भी खत्म करता है। इसके लिये एक कप पानी में एक बड़ा चम्मच धनिया के बीज डालकर उबाल लें। इसे छान लें और बिल्कुल ठंडा होने दें। इस धनिया के बीज के पानी से आंखों को धोएं। इसे दिन में दो, तीन बार कर सकते हैं। यदि आंखों में कोई इन्फेक्शन होगा तो वह भी खत्म हो जाएगा। 

6. सौंफ़ के बीज (Fennel Seeds)- एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर सौंफ़ में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण भी मौजूद होते हैं जो आंखों की समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करते हैं। आंखों में खुजली या जलन की समस्या में सौंफ़ को पानी में उबालें और इसकी भाप आंखों पर लगने दें या इस पानी को छानकर, ठंडा होने पर इसमें रुई डुबोकर आंखों पर लगभग 20 मिनट तक रखें। या किसी कपड़े में सौंफ़ भर कर, गांठ बांधकर, हल्का सा गर्म करके आंखों को सेंकें। परन्तु इस बात का ध्यान रखें कि यह बहुत गर्म ना है। इससे आराम आ जाएगा।

7. खीरा का जूस (Cucumber Juice)- खीरा में लगभग 97 प्रतिशत पानी होता है। एंटीऑक्सीडेंट गुण से भरपूर खीरा में हाइड्रेटिंग गुण भी मौजूद होते हैं जो आंखों पर शीतलता का प्रभाव छोड़ते हैं। एक खीरा का जूस निकालकर किसी बर्तन में भर लें, अब इसमें रुई डुबोकर आंखों पर रखें, फिर इसे हटाकर दुबारा जूस में डुबोकर आंखों पर रखें। लगभग 20 मिनट तक यह प्रक्रिया करें। इससे आंखों में नमी बरकरार रहेगी, खुजली, जलन, संक्रमण आदि से राहत मिलेगी। यदि खीरा के गोल स्लाइस काटकर आंखों पर रखे जाएं तो इससे आंखों के नीचे डार्क सर्कल की समस्या भी खत्म हो जाएगी।

8. अरंडी का तेल (Castor oil) – खुजली, सूजन आदि की समस्या में अरंडी के तेल को एक अच्छा उपाय माना जाता है। इस विशेषता यह है कि इसके कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होते। एक बर्तन में थोड़ा सा अरंडी का तेल कर लें, फिर इसमें रुई डुबोकर आंखों पर लगाकर धीरे-धीरे मसाज करें। इस तेल को लगा रहने दें, लगभग 15 मिनट बाद आंखों को साफ पानी से धो लें।

9. अपराजिता (Clitoria) – अपराजिता में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं जो आंखों की सूजन को कम करने में मदद करते हैं। वैसे भी अपराजिता के फूल कंजक्टिवाइटिस से राहत दिलाने में मदद करते हैं। कंजक्टिवाइटिस, खुजली, जलन, सूजन जैसी समस्याओं में अपराजिता के फूलों का दूध के साथ पेस्ट बनाकर आंखों पर लगाएं। इससे आराम मिलेगा।

10. मूली के हरे पत्ते (Radish Green Leaves)- मूली के पत्तों में एंटीऑक्सीडेंट क्षमता होती है। एक रिसर्च बताती है कि मूली के पत्ते सूजन और जलन जैसी समस्याओं को कम कर सकते हैं। आंखों के स्वास्थ के लिये मूली के ताजे हरे पत्तों का जूस निकाल कर पीयें। इससे खुजली और जलन जैसी समस्या में आराम मिलेगा। 

11. एलोवेरा (Aloe vera)- एलोवेरा में एंटीइंफ्लामेटरी गुण मौजूद होते हैं जो आंखों में खुजली और जलन से राहत दिलाते हैं। इसके लिये ताजा एलोवेरा जेल को एक सूती कपड़े में लेकर आंखों को बंद करके आंखों के ऊपर रखें। लगभग 15 मिनट बाद इसे हटा दें। एक बात का ध्यान रखें कि जेल आंखों के अंदर ना जाने पाए।

12. स्क्रीन के संपर्क से दूर रहें (Stay Away From Screen Contact)- इलेक्ट्रिक उपकरणों की स्क्रीन से निकलने वाला तेज प्रकाश आंखों को नुकसान पहुंचाता है। यह प्रकाश आंखों की जलन या आंखों में खुजली को बढ़ाने में मदद करता है। चाहे वह कंप्यूटर हो, लैपटॉप, टीवी हो या फिर मोबाइल फोन। इनसे रेडिएशन भी निकलता है, इसलिये इनके संपर्क में अधिक समय तक नहीं रहना चाहिये। कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फोन पर काम करते समय, हर 20 मिनट में इनकी स्क्रीन से हट जाना चाहिये और दूर रखी किसी वस्तु को 20 सेकंड तक देखते रहना चाहिये। ऐसा करने से आंखों को समय-समय पर आराम मिलता रहेगा। इस 20-20 के फार्मूले को अपनाएं।

ये भी पढ़े- रतौंधी के घरेलू उपाय

आंखों का खुजली और जलन से बचाव कैसे करें? – How to Prevent Itching and Burning of Eyes?

निम्नलिखित उपाय अपनाकर आंखों को खुजली और जलन से बचाव कर सकते हैं –

1. घर से बाहर निकलते समय विशेषकर गर्मियों में धूप का चश्मा (Sunglasse) लगाएं। यह आपको सूरज की तेज रोशनी और यूवी किरणों से बचाएगा। यह आंखों में धूल, मिट्टी, धूंआ आदि को जाने से रोकेगा। यह धूप से एलर्जी वाले लोगों के लिये अधिक फायदेमंद है। अन्य मौसम में जीरो पावर का चश्मा लगा कर बाहर निकल सकते हैं। यह आंखों को धूल, मिट्टी, धूंआ आदि से बचाएगा।

2. प्रदूषण वाले स्थान पर, धूल, मिट्टी, धूंआ आदि वातावरण में जाने को अवॉइड करें। 

3. खुश्बू वाले धूंऐ से भी, जैसे अगरबत्ती, धूपबत्ती, हवन आदि, आंखों का बचाव करें। क्योंकि धूंआ, धूंआ होता है चाहे वह हवन आदि का हो, चाहे सिगरेट, बीड़ी आदि का या शमशान का। धूंआ खतरनाक ही होता है। 

4. धूम्रपान ना करें, इससे भी नेत्र स्वास्थ प्रभावित होता है। 

5. पेसिव स्मोकिंग के साइडस्ट्रीम स्मोक से भी बचें। 

6. यदि केमिकल युक्त कार्य करते हैं तो आंखों पर समुचित प्रोटेक्शन लगाए रखें। 

7. लगातार अधिक समय तक लिखने पढ़ने का काम ना करें। बीच-बीच में उठकर आंखों में ठंडे पानी के छींटे मारते रहें।

8. कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फोन पर काम करते समय 20-20 का फार्मूला अपनाएं। साथ ही आंखों में ठंडे पानी के छींटे मारते रहें। इससे आप फ्रैश महसूस करेंगे और आंखों में थकावट भी नहीं होगी।

9. खुजली, जलन या कोई अन्य समस्या होने पर आंखों को ना रगड़ें और ना ही गंदे हाथों या कपड़े से छुएं। किसी साफ कपड़े का इस्तेमाल करें।

10. किसी एलर्जी वाली वस्तु का आंख के पास उपयोग न करें, एलर्जी होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। 

Conclusion – 

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको आंखों में खुजली या जलन के बारे में विस्तार से जानकारी दी। आंखों में खुजली या जलन क्या है, आंखों में खुजली या जलन के कारण, आंखों में खुजली और जलन के लक्षण, आंखों में खुजली और जलन का निदान, आंखों में खुजली और जलन का उपचार और डॉक्टर के पास कब जाएं, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से आंखों में खुजली या जलन से राहत पाने के बहुत सारे घरेलू उपाय भी बताये तथा यह भी बताया कि आंखों का खुजली और जलन से बचाव कैसे बचाव करें। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा। 

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय
Article Name
आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय
Description
दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय के बारे में विस्तार से जानकारी दी। आंखों में खुजली या जलन क्या है, आंखों में खुजली या जलन के कारण, आंखों में खुजली और जलन के लक्षण, आंखों में खुजली और जलन का निदान, आंखों में खुजली और जलन का उपचार और डॉक्टर के पास कब जाएं, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

One thought on “आंखों में खुजली या जलन के घरेलू उपाय – Home Remedies for Itching or Burning in the Eyesin Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *