Advertisements

भूख बढ़ाने के उपाय – Ways to Increase Appetite in Hindi

भूख बढ़ाने के उपाय

दोस्तो, आपका स्वागत है हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, ये तो आप सब जानते ही हैं कि संसार में किसी भी प्राणी तथा वनस्पति को जीवित रहने के लिये ऊर्जा की आवश्यकता होती है और ये ऊर्जा  किसी भी प्राणी को भोजन से वनस्पति को खाद, पानी, हवा, धूप आदि से प्राप्त होती है। आपने कभी ना कभी अनुभव किया होगा कि मनपसंद भोजन होने के बावजूद खाने का मन नहीं करता। पेट भरा-भरा सा रहता है अर्थात् भूख नहीं लगती। जब भूख नहीं लगेगी तो ऊर्जा कैसे मिलेगी। हमें अपनी भूख बढ़ानी पड़ेगी। यही है हमारा आज का टॉपिक भूख बढ़ाने के उपाय । देसी हैल्थ क्लब इस लेख के माध्यम से यही जानकारी देगा। सबसे पहले जानते हैं कि भूख न लगना क्या होता है?

भूख न लगना क्या होता है?- What is Loss of Appetite

किसी कारणवश पाचन प्रणाली में बाधा आ जाने से पाचन एंजाइम भूख को उत्तेजित करने का काम नहीं कर पाते, परिणाम स्वरूप भूख लगना बंद हो जाती है। व्यक्ति चाह कर भी भोजन नहीं कर पाता या शरीर की आवश्यकता के अनुसार पर्याप्त मात्रा में भोजन नहीं कर पाता। भूख न लगने की यह स्थिति लंबे समय तक चल सकती है। इसी स्थिति को “भूख न लगना” कहते हैं। इस बीमारी को मेडिकल भाषा में “एनोरेक्सिया” कहा जाता है। इसके मेडिकल, मनोवैज्ञानिक या अन्य कारण हो सकते हैं जिनके बारे में देसी हैल्थ क्लब आगे बतायेगा। 

Advertisements
भूख बढ़ाने के उपाय
Advertisements

लक्षण – Symptoms

जिस व्यक्ति को भूख नहीं लगती, उसमें देख सकते हैं निम्नलिखित लक्षण –

Advertisements

1. उसे अपने मनपसंद स्वादिष्ट भोजन को भी खाने का मन नहीं करता।

2. भोजन करते समय थकान अनुभव होना।

3. भोजन बीच में ही छोड़ देना।

Advertisements

4. खुराक का कम हो जाना।

5. भोजन के प्रति उत्साह ना होना, उदासीन रहना।

6.  भोजन करने, निगलने में दिक्कत होना।

7. भोजन करते समय ऐसा महसूस करना कि जैसे मितली आ रही हो।

भूख ना लगने के कारण – Cause of loss of Appetite

दोस्तो, भूख ना लगने के हो सकते हैं ये निम्नलिखित कारण –

1. पाचन-तंत्र में विकार अर्थात् पाचन क्रिया का किसी कारण कार्य ना कर पाना।

2. हार्मोन्स् में असंतुलन।

3. पेट से जुड़ी समस्यायें जैसे पेट में गैस बनना, कब्ज आदि।

4. लम्बे अंतराल तक किसी कारणवश भोजन ना कर पाना फिर असमय भोजन करना। जिसका सीधा प्रभाव पाचन क्रिया पर पड़ता है।

ये भी पढ़े – करेले जूस के फायदे

5. अनुचित या विरोधी भोजन करना।

6. फास्ट/जंक फूड अधिक खाना।

7. शारीरिक गतिविधियां या परिश्रम कम होना।

8. तनाव ग्रस्त होना।

9. अधिक धूम्रपान करना।

10. कोई गंभीर बीमारी का होना जैसे किडनी, लिवर, कैंसर, एच।आई।वी।आदि

11. पेट में अधिक द्रव्य होना (जलोदर)।

12. दर्द निवारक दवाओं का असर या अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर (Attention deficit hyperactivity disorder) और वजन घटाने के लिये ली जाने वाली दवाइयां। 

भूख बढ़ाने के उपाय – Ways to Increase Appetite 

दोस्तो, अब बताते हैं आपको भूख बढ़ाने के उपाय

1. आँवला (Amla)- विटामिन-सी से भरपूर आंवला में गैस्ट्रो प्रोटेक्टिव गुण होते हैं। इसके सेवन से पेट में कब्ज, गैस आदि की समस्या दूर होती है। लीवर को डिटॉक्सिफाई करता है और पाचन-तंत्र को स्वस्थ रखता है। भूख ना लगने की स्थिति में आंवला का सेवन बेहद लाभकारी है। एक कप पानी में लगभग 20 मि।ली। आंवले का रस, एक चम्मच नींबू का रस और आधा चम्मच शहद मिलाकर प्रतिदिन सुबह खाली पेट पीएं। या रात को एक कप पानी में एक चम्मच आंवला पाउडर मिलाकर रख दें। अगले दिन सुबह थोड़ा सा नींबू का रस और एक चुटकी काली मिर्च मिलाकर पी लें। या सुबह खाली पेट आधा कप पानी में 20 मि।ली। केवल आंवले का रस मिलाकर पियें।

2. नींबू (Lemon)- दोस्तो, आंवला की भांति नींबू में भी विटामिन-सी की प्रचुर मात्रा होती है और साथ ही यह डाइटरी फाइबर से भरपूर होता है। यह पाचन-तंत्र और आंतों को स्वस्थ रखता है। इसे भूख बढ़ाने वाले टॉनिक के रूप में अपनाया जा सकता है। प्रतिदिन सुबह खाली पेट एक गिलास गुनगुने पानी में आधा नींबू निचोड़ कर पियें। 

3. त्रिफला (Triphala)- हरड़, बहेड़ा और आँवला के संगम से बना त्रिफला चूर्ण पेट से जुड़ी समस्याओं के लिये रामबाण उपचार है। कब्ज के लिये तो यह बेहद फायदेमंद है। भूख ना लगने की समस्या में त्रिफला चूर्ण के नियमित सेवन से भूख बढ़ जायेगी। इसके लिये एक चम्मच त्रिफला चूर्ण गुनगुने दूध के साथ नियमित रूप से लें।

4. मूली (Radish)- मूली में फॉलिक एसिड और विटामिन-सी भरपूर मात्रा में होते हैं। यह भोजन के बाद भोजन को पचाने में मदद करती है अर्थात् भोजन के पश्चात यदि इसका सेवन किया जाये तो यह पाचन-तंत्र को मजबूत करती है, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है और शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालती है। मूली गैस की समस्या से छुटकारा दिलाकर भूख को बढ़ाती है। 

5. काली मिर्च (Black Pepper)- काली मिर्च में औषधीय गुण होने के कारण यह अनेक बीमारियों के उपचार में काम आती है, विशेष तौर पर पाचन क्रिया में सुधार, पेट में गैस की समस्या छुटकारा पाने के लिए और भूख बढ़ाने के लिये। आप प्रतिदिन नियमित तौर पर काली मिर्च के तीन, चार दाने ऐसे ही चबाकर खा सकते हैं, आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर को थोड़े से गुड़ में मिक्स करके खा सकते हैं। या काली मिर्च की चाय बनाकर पी सकते हैं। चाय के लिये एक कप पानी में थोड़ी सी चाय की पत्ती, थोड़ी सी अदरक, आधा चम्मच शहद और तीन, चार काली मिर्च पीसकर या आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर डालकर अच्छी तरह उबाल कर, छानकर हल्का ठंडा करके पीयें।

6. इलायची (Cardamom)- प्राचीन काल से इलायची का उपयोग आयुर्वेदिक और यूनानी-रोमन चिकित्सा पद्धति में कब्ज और भूख न लगने की समस्या के उपचार में किया जा रहा है।  दो, तीन हरी इलायची, दो, तीन लौंग और एक चौथाई यानी 1/4 चम्मच धनिया के बीज अच्छी तरह पीसकर गुनगुने पानी के साथ सुबह खाली पेट खाएं। इसके अतिरिक्त इलायची का सेवन प्रतिदिन नियमित तौर पर चाय में डालकर करें। यह पाचन क्रिया में रस के स्राव को उत्तेजित कर भूख की स्थिति में सुधार करती है। कब्ज, पेट फूलना, गैस आदि की समस्या से राहत दिलाती है। इलायची को पाचक टॉनिक के रूप में अपनाया जा सकता है।

7. अदरक (Ginger)- अदरक भूख ना लगने की समस्या को समाप्त कर, भूख बढ़ाने में सक्रिय भूमिका निभाती है। अदरक एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-हाइपरटेंसिव, ग्लूकोज-सैनिटाइजर और स्टिमुलेटर गुणों से परिपूर्ण होती है। यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल पर अपना प्रभाव दिखाती है। भूख बढ़ाने के लिये अदरक को बारीक-बारीक काट कर इसमें थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर प्रतिदिन भोजन से आधा घंटा पहले खायें। या भोजन से आधा घंटा पहले अदरक की चटनी बनाकर खा लें। इसके अतिरिक्त अदरक की चाय बनाकर भी पी सकते हैं। चाय के लिए आधा चम्मच अदरक और एक चौथाई यानी 1/4 चम्मच धनिया पाउडर एक कप पानी में डालकर, आधा कप पानी रहने तक उबालें। फिर ठंडा करके चाय की तरह पिएं।

8. इमली (Tamarind)- इमली में मौजूद विटामिन-बी1 अर्थात् थियामिन भूख बढ़ाने का कार्य करता है। इमली पाचन प्रणाली को स्वस्थ रखती है। आप थोड़ी सी इमली एक कप पानी में भिगोकर रख दें। इसमें हल्का सा नमक और एक चौथाई 1/4 चम्मच काली मिर्च पाउडर मिला लें। कुछ घंटों बाद इमली पूरी तरह फूल जायेगी। फिर इस पानी को छानकर पी लें। दिन में एक बार पियें।

ये भी पढ़े – नारियल पानी पिने के फायदे

9. धनिया (Coriander)- धनिया की पत्तियों में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो पाचन क्रिया को स्वस्थ रखते हैं और भूख भी बढ़ाते हैं। धनिया की पत्तियों को जूस में डालकर थोड़ा पानी भी डाल दें। फिर जूस निकाल कर सुबह खाली पेट पीएं।  

10. अनार का जूस (Pomegranate juice)- अनार एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन से भरपूर होता है और पाचन क्रिया को दुरुस्त करने के साथ-साथ भूख बढ़ाने का काम भी करता है। प्रतिदिन एक गिलास ताजा अनार का जूस पियें। चाहें तो जूस में एक चम्मच शहद मिला सकते हैं। शहद मिलाना ना चाहें तो थोड़ा सा सेंधा नमक मिला सकते हैं। इससे पेट तो साफ रहेगा ही, भूख भी लगेगी।

11. अजवाइन (Celery)- अजवाइन उन पाचन एंजाइमों के स्राव में मदद करती है जो भूख को बढ़ाने का काम करते हैं। अजवाइन को भूनकर साथ में हल्का सा काला या सेंधा नमक पीसकर गुनगुने पानी से लें। या एक चम्मच अजवाइन को गुनगुने पानी से ऐसे ही ले लें।

12. सौंफ (Anise)- सौंफ भूख को बढ़ाने के लिये घरेलू उपचार के रूप में अपनाया जा सकता है। दो कप पानी में एक चम्मच सौंफ, आधा चम्मच मेथी दाने डालकर आधा चम्मच शहद भी डाल दें। फिर उसे अच्छी तरह उबालें। छानकर, थोड़ा ठंडा करके चाय की तरह पिएं। दिन में दो बार पी सकते हैं। 

13. ग्रीन टी (Green Tea)- भूख बढ़ाने का एक और घरेलू तरीका, प्रतिदिन सुबह-शाम ग्रीन टी पीयें। यह भूख बढ़ाने के साथ-साथ और भी समस्याओं में फायदा करेगी।

14. छाछ (Buttermilk)- छाछ में थोड़ा सा भुना हुआ जीरा पाउडर, और काला नमक मिलाकर पिएं। कब्ज, गैस आदि की समस्या से छुटकारा मिलेगा और भूख भी बढ़ने लगेगी। 

15. विटामिन-बी युक्त आहार (Vitamin B Rich Diet)- विटामिन-बी कॉम्प्लेक्स ग्रुप में किसी भी विटामिन की कमी होने के कारण पाचन क्रिया प्रभावित होती है और भूख न लगने की बीमारी की संभावना बन जाती है। इसलिये अपने भोजन में उन खाद्य पदार्थों को सम्मिलित करें जिनमें विटामिन-बी प्रचुर मात्रा में हो जैसे डेयरी उत्पाद, पत्तेदार हरी सब्जियां व बीन्स, मछली, चिकन, मीट, अंडे, आदि।

Conclusion

दोस्तो, आज के लेख में हमने आपको भूख बढ़ाने के उपाय के विषय में जानकारी दी। भूख न लगने के लक्षण और कारण बताये। इस लेख के माध्यम से भूख बढ़ाने के उपाय भी बताये। आशा है आपको ये लेख अवश्य पसन्द आयेगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और  सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर करें। ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, हमारा आज का यह लेख आपको कैसा लगा, इस बारे में कृपया अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health- Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer- यह लेख केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर उत्तरदायी नहीं है।  कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
भूख बढ़ाने के उपाय
Article Name
भूख बढ़ाने के उपाय
Description
आज के लेख में हमने आपको भूख न लगने के विषय में जानकारी दी। भूख न लगने के लक्षण और कारण बताये। इस लेख के माध्यम से भूख बढ़ाने के उपाय भी बताये।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

One thought on “भूख बढ़ाने के उपाय – Ways to Increase Appetite in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *