Advertisements

बॉर्नविटा के फायदे – Benefits of Bournvita in Hindi

बॉर्नविटा के फायदे

स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग में। कई बच्चों को दूध पीना बिल्कुल पसंद नहीं होता, बहुत नखरे करते हैं। परन्तु दूध बच्चों की ग्रोथ के लिए बहुत जरूरी होता है। दूध पीना स्त्री, पुरुष सभी के लिए जरूरी होता है क्यों कि इससे कैल्शियम और विटामिन-डी मिलता है जो हड्डियों की मजबूती के लिए भौतिक आवश्यकता होती है। मगर दूध अच्छा नहीं लगता, अब क्या करें?। ऐसे में यदि दूध का स्वाद ही बदल दिया जाए और पोषक तत्व भी बढ़ जाएं तो इससे अच्छी बात और कुछ हो ही नहीं सकती। यह काम एक पदार्थ करता है जिसका नाम है बॉर्नविटा। बॉर्नविटा एक ऐसा पदार्थ है जो दूध के स्वाद को चॉकलेटी या कारमेल, जैसा आप चाहें, बना देता है और बच्चे बहुत खुश होकर दूध पी लेते हैं। स्वाद को बढ़ाने के अतिरिक्त यह दूध के पोषक तत्वों को भी बढ़ा देता है। आखिर यह बॉर्नविटा है क्या है? दोस्तो यही है हमारा आज का टॉपिक “बॉर्नविटा के फायदे”।   

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बॉर्नविटा के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बताएगा कि इसके क्या फायदे होते हैं। तो सबसे पहले जानते हैं कि बॉर्नविटा क्या है और इसके पोषक तत्व। फिर, इसके बाद बाकी बिंदुओं पर जानकारी देंगे।

बॉर्नविटा क्या है? – What is Bournvita

बॉर्नविटा एक ऐसा पदार्थ जो पाउडर के रूप में मिलता है। इसे दूध में मिलाकर पीया जाता है। इसलिये इसे हैल्थ ड्रिंक की श्रेणी में रखा जाता है। यह चॉकलेट और कारमेल दो फ्लेवर में आता है। चॉकलेट फ्लेवर बच्चों को बहुत पसंद आता है। इसमें कई विटामिन और खनिज होते हैं जो बच्चों के विकास में सक्रिय भूमिका निभाते हैं। 

Advertisements

यह, बच्चों और बड़ों की हड्डियों को मजबूती देने, मांसपेशियों को मजबूत बनाने, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने, शारीरिक और मानसिक स्वास्थ को सही रखने का काम करता है। पूरी दुनियां में चॉकलेट के लिये प्रसिद्ध कैडबरी कंपनी बॉर्नविटा का उत्पादन करती है। यह उत्पादन भारत सहित ब्रिटेन, उत्तरी अमेरिका, नेपाल, बांग्लादेश, नाइजीरिया, बेनिन और टोगो देशों में बेचा जाता है।  

ये भी पढ़े- झंडू पंचारिष्ट के फायदे

बॉर्नविटा के पोषक तत्व (मात्रा प्रति 100 ग्राम ) –  Nutrients of Bournvita (Quantity per 100 grams)

  • ऊर्जा : 381 kcal
  • प्रोटीन : 7 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट : 86 ग्राम
  • टोटल शुगर : 46 ग्राम
  • एडिड शुगर : 32.2 ग्राम
  • डाइटरी फाइबर : 3.5 ग्राम 
  • कोलेस्ट्रॉल : 0.1 मिलीग्राम
  • टोटल फैट : 1.8 ग्राम
  • सैच्युरेटिड फैट : 0.9 ग्राम
  • ट्रांस फैट : 0 ग्राम
  • विटामिन-ए : 790 माइक्रोग्राम
  • विटामिन-सी : 95 मिलीग्राम
  • विटामिन-डी2 : 18.8 माइक्रोग्राम
  • विटामिन-बी1 : 0.42 मिलीग्राम
  • विटामिन-बी2 : 0.6 मिलीग्राम
  • विटामिन-बी3 : 5.5 मिलीग्राम
  • विटामिन-बी5 : 2.5 मिलीग्राम
  • विटामिन-बी6 : 0.8 मिलीग्राम
  • विटामिन-बी9 : 75 माइक्रोग्राम
  • विटामिन-बी12 : 1.4 माइक्रोग्राम
  • कैल्शियम : 500.0 मिलीग्राम
  • मैग्नीशियम : 132 मिलीग्राम
  • मैंगनीज : 1.8 मिलीग्राम
  • सेलेनियम : 19 माइक्रोग्राम
  • आयरन : 23 मिलीग्राम
  • आयोडीन : 113 माइक्रोग्राम
  • बायोटिन : 15 माइक्रोग्राम
  • जिंक : 7.4 माइक्रोग्राम
  • कॉपर : 1.1 मिलीग्राम

बॉर्नविटा के प्रकार – Types of Bournvita

बाजार में चार प्रकार का बॉर्नविटा उपलब्ध है। विवरण निम्न प्रकार है –

Advertisements

1. बॉर्नविटा (Bournvita)- इसे कैडबरी बॉर्नविटा कहा जाता है जिसे हर आयु का व्यक्ति सेवन कर सकता है। यह दूध के स्वाद को चॉकलेट में बदल देता है। 

2. कैडबरी बॉर्नविटा 5 स्टार मैजिक (Cadbury Bournvita 5 Star Magic)- यह भी दूध के स्वाद को चॉकलेट में बदल देता है, एक प्रकार से यह दूध में मैजिक कर देता है। यह बच्चों का सबसे प्रिय है। 

3. बॉर्नविटा लिल चेंप (Bournvita Lil Champ)- यह 2 से 5 वर्ष के बच्चों  के लिए डिजाइन किया गया है। यह उनके शारीरिक और मानसिक विकास में मदद करता है।

4. बॉर्नविटा वूमेन (Bournvita Women)- यह विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बनाया गया है। आयरन और हीमोग्लोबिन की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। 

ये भी पढ़े- एंडोरा मास के फायदे

बॉर्नविटा की मात्रा – Bournvita quantity

एक दिन में 200 मि।ली। गुनगुने या ठंडे दूध में 20 ग्राम बॉर्नविटा मिलाकर पी सकते हैं। 

बॉर्नविटा के फायदे – Benefits of Bournvita

अब बताते हैं आपको बॉर्नविटा के फायदे जो निम्न प्रकार हैं – 

1. पोषक तत्वों की पूर्ति करे (Replenish Nutrients)- यूं तो भोजन और दूध से विटामिन और खनिज मिल जाते हैं परन्तु कभी-कभी ये शरीर की आवश्यकता को पूरा नहीं कर पाते। इसलिए अतिरिक्त विटामिन और खनिज लेना जरूरी हो जाता है। विशेषकर महिलाओं में आयरन की कमी हो जाती है। बच्चों को ग्रोथ के लिये दूध के अतिरिक्त भी पोषक तत्वों की जरूरत होती है। 

अस्थि खनिज घनत्व का स्तर बनाए रखने के लिए कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, ज़िंक जैसे खनिज और विटामिन-डी सभी के लिए जरूरी होते हैं। दूध में बॉर्नविटा मिलाकर पीने से इन सभी पोषक तत्वों की भरपाई हो जाती है। 

2. कमजोरी दूर करे (Overcome Weakness)- शारीरिक कमजोरी और मानसिक थकान होना स्वाभाविक है। बॉर्नविटा में मौजूद प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, कॉपर, ज़िंक जैसे खनिज और विटामिन्स कमजोरी और थकान दूर करने का काम करते हैं। अतः कमजोरी और थकान महसूस होने पर दूध में बॉर्नविटा मिलाकर पीना चाहिए।

3. एनर्जी मिले (Get Energy)- बॉर्नविटा का महत्वपूर्ण फायदा विद्यार्थियों को होता है। उनको पढ़ाई, लिखाई करनी होती है, याद करना होता है। इस प्रक्रिया में उनका दिमाग थक जाता है, उनकी एनर्जी भी खत्म होती है। स्कूल में खेल कूद के अतिरिक्त घर पर भी बच्चे बाहर खेलने जाते हैं। 

उनकी फिर से एनर्जी खर्च होती है। इस खर्च हुई एनर्जी की रिकवरी का काम बॉर्नविटा करता है। इसको पीने के बाद शरीर में ऊर्जा आ जाती है। विद्यार्थी ही नहीं सभी को यह एनर्जी प्रदान करता है। 

4. इम्युनिटी बढ़ाए (Increase Immunity)- इम्युनिटी जितनी मजबूत होगी संक्रमण से होने वाली बीमारियां उतनी ही दूर रहेंगी। बॉर्नविटा में विटामिन-सी की पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है। यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है और इम्युनिटी बढ़ाने में करता है। 

इसके अलावा बॉर्नविटा में मौजूद विटामिन-बी, कैल्शियम, मैग्नीशियम, ज़िंक, कॉपर, मैंगनीज, आयरन जैसे खनिज भी इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करते हैं। बच्चों और महिलाओं की इम्युनिटी बहुत जल्दी प्रभावित होती है। इसलिए इनकी इम्युनिटी मजबूत करने के लिए बॉर्नविटा बहुत जरूरी है। 

5. मेटाबॉलिज्म बढ़ाए (Increase Metabolism)- भोजन को ऊर्जा में बदलने का महत्वपूर्ण काम मेटाबॉलिज्म करता है। मेटाबॉलिज्म की गति के अनुसार ही शरीर में उसी अनुपात के हिसाब से ऊर्जा बढ़ती है। यदि कमजोर और धीमी गति से मेटाबॉलिज्म काम करेगा तो ऊर्जा भी कम उत्पन्न होगी। धीमी गति के मेटाबॉलिज्म से थकावट, कमजोरी, जोड़ों में दर्द, मोटापा आदि की समस्या होती है। बॉर्नविटा के पीने से मेटाबॉलिज्म में गति आती है और यह मजबूत बनता है। 

6. पाचन तंत्र को स्वस्थ रखे (Keep the Digestive System Healthy)- स्वस्थ पाचन तंत्र से पेट की बीमारियां दूर रहती हैं। कब्ज तो पास भी नहीं फटकती। पाचन तंत्र स्वास्थ के लिये फाइबर एक आवश्यक तत्व है। फाइबर भोजन को रसादार बनाता है जिससे भोजन आसानी से और जल्दी पच जाता है। पाचन तंत्र को भोजन पचाने में ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती। बॉर्नविटा में पर्याप्त मात्रा में डाइटरी फाइबर होता है जो भोजन को आसानी से पचाने में मदद करता है।

7. हड्डियों को मजबूत बनाए (Strengthen Bones)- कैल्शियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, कॉपर, ज़िंक, आयरन जैसे खनिज और विटामिन्स अस्थि खनिज घनत्व (Bone Mineral Density) के स्तर में बढ़ाने में सक्रिय भूमिका निभाते हैं। अस्थि खनिज घनत्व का स्तर बढ़ने पर हड्डियों को मजबूती मिलती है। परिणामस्वरूप अस्थि रोग होने की संभावना नहीं रहती। बॉर्नविटा में मौजूद खनिज और विटामिन अस्थि खनिज घनत्व को बढ़ाने का काम करते हैं जिससे हड्डियां मजबूत होती हैं।

8. मांसपेशियों को मजबूत बनाए (Strengthen Muscles)- यह तो हम ऊपर बता ही चुके हैं कि बॉर्नविटा पीने से हड्डियों को मजबूती मिलती है। इसके अतिरिक्त बॉर्नविटा पीने से यह भी फायदा होता है यह मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है तथा मांसपेशियों की मरम्मत भी करता है। बॉर्नविटा में प्रोटीन की उच्च मात्रा होती है जिससे मांसपेशियां तेजी से ग्रो करती हैं। 

9. मस्तिष्क स्वास्थ के लिए फायदेमंद (Beneficial for Brain Health)- बॉर्नविटा पीने से बच्चों में याद रखने की, सीखने की क्षमता में वृद्धि करने का काम करता है। इससे बच्चों के मस्तिष्क का स्वास्थ ठीक रहता है। यह व्यस्क लोगों की स्मरण शक्ति को बढ़ाता है। काम करते-करते मस्तिष्क की थकान को कम करता है और तनाव को दूर कर मूड को खुशनुमा बनाता है।  इसका चॉकलेटी फ्लेवर मस्तिष्क को शांत करता है। 

10. चाय-कॉफी की आदत छुड़ाए (Get Rid of the Habit of Tea and Coffee)- बच्चे अक्सर चाय, कॉफी पीने की जिद करते हैं क्योंकि उनको दूध का स्वाद अच्छा नहीं लगता। वे दूध पीने के लिए बहुत नखरे करते हैं। शादी, पार्टियों में कॉफी बड़े चाव से पीते हैं। चाय-कॉफी में कैफीन मौजूद होता है जो बच्चों के स्वास्थ के लिए हानिकारक होता है। 

इसलिए बच्चों को चाय-कॉफी की आदत नहीं डालनी चाहिए। इसके विकल्प स्वरूप बॉर्नविटा दूध में मिलाकर बच्चों को देना चाहिए। यह दूध के स्वाद को ही बदल कर रख देगा। दूध का चॉकलेटी स्वाद निश्चित रूप से बच्चों को बहुत पसंद आएगा और उनकी चाय-कॉफी की आदत छूट जाएगी।

ये भी पढ़े- ब्लैक कॉफी के फायदे और नुकसान

बॉर्नविटा के नुकसान – Disadvantages of Bournvita

और अब नजर डालते हैं बॉर्नविटा के नुकसान पर जो निम्न प्रकार हैं :-

1. यद्यपि बॉर्नविटा के कोई गंभीर नुकसान नोटिस नहीं किए गये हैं। परन्तु कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। इसके अधिक पीने से पेट खराब हो सकता है। पेट में गैस बन सकती है, उल्टी, दस्त लग सकते हैं।

2. डायबिटीज के मरीजों को बॉर्नविटा को अवॉइड करना चाहिए क्योंकि बॉर्नविटा में पहले से ही शुगर होती है। ऐसे में बॉर्नविटा उनकी समस्या को और बढ़ा सकता है।

3. बॉर्नविटा के साथ-साथ संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन भी जरूरी है तभी इसके लाभ सही से मिल सकेंगे। इसे लेकर लंबाई बढ़ने जैसा भ्रम ना पालें। 

4. जहां तक हो सके, केवल दूध ही पीएं। केवल स्वाद के लिए ही बॉर्नविटा या कोई और उत्पाद को आदत ना बनाएं। 

Conclusion –

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको बॉर्नविटा के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बॉर्नविटा क्या है?, बॉर्नविटा के पोषक तत्व, बॉर्नविटा के प्रकार और बॉर्नविटा की मात्रा, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से बॉर्नविटा के बहुत सारे फायदे बताए और कुछ नुकसान भी बताए। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा।

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
Advertisements
बॉर्नविटा के फायदे
Advertisements
Article Name
बॉर्नविटा के फायदे
Description
आज के आर्टिकल में हमने आपको बॉर्नविटा के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बॉर्नविटा क्या है?, बॉर्नविटा के पोषक तत्व, बॉर्नविटा के प्रकार और बॉर्नविटा की मात्रा, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *