नमस्कार दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में Meditation Tips में बिगिनर्स को कैसे Meditation करना चाहिए, उसके बारे में बताएँगे और। से क्या लाभ होते है। वो भी जानेंगे। जैसा की हम जानते है। जीवन (Life)के उद्देश्य को पाने के लिए और तनाव से छूटकर पाने के लिए Meditation (ध्यान) ही एक सबसे सरल रास्ता है। दुनिया के सभी महान ऋषि मुनियो करते आ रहे है। यह मैडिटेशन(ध्यान) प्राचीन काल ही इसका पालन करते आ रहे है। Meditation (ध्यान) करने से हमारी इंद्रियां मन के साथ, मन बुद्धि के साथ और बुद्धि अपने स्वरूप आत्मा में लीन होने लगती है।  ध्यान योग का महत्वपूर्ण तत्व है जो तन, मन और आत्मा के बीच लयात्मक संबंध बनाता है।

Meditation Tips for Beginners in Hindi

मेडिटेशन के लाभ -Benefits of Meditation

Meditation करने से व्यक्ति अपने मन और चेतना को एक विशेष स्थिति में लाने का काम करता है। किसी महान व्यक्ति ने सही कहा है The Secret of Life “जीवन का रहस्य”। हर एक व्यक्ति के अंदर एक शांत व्यक्ति छुपा होता है। जिसे हम अंतरात्मा कहते है। हमारी अंतरात्मा हमेशा (Always) सही होती है। हम जब भी कोई गलत काम करते है, हमारे अंदर से एक आवाज आती है। वह आवाज अंतरात्मा की ही होती है, और जब हम इसे नजरअंदाज कर के यो गलत काम करते है, तो ऐसे में हमारी अंतरात्मा से सम्बन्ध (connection)छूटता जाता है। इस लिए हमें अपनी अंतरात्मा की आवाज (Inner Voice) हमेशा सुननी चाहिए। इसी लिए हमें Meditation (ध्यान) करना चाहिए। इससे हमारा मन बहुत ही शांत रहता है।

Read more:- Yoga tips for Beginners in Hindi

Meditation (ध्यान) बिलकुल वैसा ही है जैसा आप रात तो सोने के बाद सुबह (Morning) में अपने आप को एक दम तारो तजा और एनर्जी (Energy)से भरे हुए महसूस करते है। मैडिटेशन से आपके अंदर जो भी बुरे विचार (Negative thoughts)आते है, इसे करने से आपके बुरे विचार सरे ख़त्म हो जायेंगे, और अच्छे विचार (Good  Thoughts) आने लगेंगे। इसे करने से पहले कुछ बातो का ध्यान रखना जरुरी होता है। जैसे :-

1  सरल जीवन शैली का पालन –Follow Simple Lifestyle
2  ध्यान करने का सही समय – Best Time For Meditation
3  ध्यान कहाँ करें और ध्यान का आसन क्या हो – Best Asana & Place For Meditation
4 शरीर की स्थिति (Posture)– Sit Straight In Meditation
5 गहरी सांस लें या प्राणायाम करें – Do Deep Breathing Or Pranayama
6 खुद को परमपिता या परमशक्ति के अंश के रूप में अनुभव करना – Becoming One With God

1.  सरल जीवन शैली का पालन –Follow Simple Lifestyle

किसी ने सही कहा हैं। “सादा जीवन उच्च विचार” (simple living, high thinking) हमें हमेशा सादा जीवन का ही  पालन(Follow)चाहिए। ऐसा करने से आपके विचार और व्यवहार में और आपके अंदर सकरात्मक (Positive)ऊर्जा निकलती है। जिससे हम अपने मन को शांत करने में सफल होते है। इस लिए हमें ध्यान (Meditation)करते रहना चाहिए।

2.  ध्यान करने का सही समय – Best Time For Meditation

हमें ध्यान (Meditation) के लिए सुबह 4  से 5 बिच का समय या शाम 6  से 7 बिच का समय  बहुत ही अच्छा होता है। क्युकी इस समय वातावरण बहुत ही शांत होता है, और हम ठीक से ध्यान (Meditation) कर सकते है। ये समय मानशिक शक्तियों प्राप्त करने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है।

3.  ध्यान कहाँ करें और ध्यान का आसन क्या हो – Best Asana & Place For Meditation

 आप अपने सुविधाजनक स्थान को चुने यँहा आप को ध्यान (Meditation)करते समय कोई परेशान न करे। कोई ऐसी जगह जैसे शांत कमरा हो, पूजा घर हो, या कोई एकांत खुली जगह भी हो सकती है। एक ही जगह ध्यान(Meditation) करने से प्रगति के लिए अच्छा माना जाता है। आपको ध्यान करने के लिए जमीन पर चटाई बिछा कर और कमर को एक दम सीधा करके बैठना होता है। या आपको जमीन पर बैठने में परेशानी होती है तो आप कुर्सी पर भी बैठ कर कर सकते है, पर ध्यान रहे की किर्सी की भी कमर सीधी हो तो ज्यादा अच्छा होता है।

4. शरीर की स्थिति (Posture)– Sit Straight In Meditation

 आँखे बंद करे और कमर एक दम सीधी होनी चाहिए, और एक दम शांत बैठे। ऐसी स्थिति में बैठे जिससे आपको ध्यान (Meditation)करने में आपको कोई भी परेशानी न हो। या कोई आपके आप हल्ला-गुल्ला ना हो।

5.गहरी सांस लें या प्राणायाम करें –  Do Deep Breathing Or Pranayama

ध्यान (Meditation) करने से पहले एक गहरी साँस (Deep Breath) ले और फिर अपनी सांस को धीरे -धीरे छोड़े। इससे शरीर में आक्सीजन की मात्रा की पूर्ति होती है, और आपका मष्तिष्क शांत हो जाता है। अपने विचारो को और मन दोनों को आसानी से control करने की क्षमता आ जाती है। इसलिए प्राणायाम या गहरी और लम्बी सांस मन और विचारों में शांति लाती है, जिससे मन को एकाग्र करने में मदद मिलती है।

6. खुद को परमपिता या परमशक्ति के अंश के रूप में अनुभव करना – Becoming One With God

 यह संसार उर्जा के अलग अलग रूपों की अभिव्यक्ति है। इस ब्रह्मांड में एक परम उर्जा या शक्ति का अस्तित्व है जोकि हमारा, सभी जीव जन्तु प्राणियों का और इस दुनिया का नियमित संचालन कर रही है। हम भी उसी असीम ऊर्जा (Infinite energy source) का एक भाग है और उससे जुड़े हुए हैं। ध्यान शुरू करते समय परमपिता/परमशक्ति से प्रार्थना की जाती है कि हमारा ध्यान सफल हो, हमें अपने दिव्य वास्तविक स्वरुप का अनुभव हो।
जब आप ध्यान (Meditation) करना ठीक से जान जायेंगे, तो आपकी Health भी एक दम स्वस्थ रहेगा।

निष्कर्ष

दोस्तों हमने इस Article में आपको Meditation Tips के बहुत से फायदों के बारे में बताया है। जो आपको शायद पसंद आया होगा। मेरी आपसे एक ही विनती है आपको इस Meditation पोस्ट से कुछ भी लाभ हुआ है तो आप ये अपने दोस्तों या सगी सम्बन्धी को शेयर भी कर सकते है।


1 Comment

Ram Mohan Haldia · September 26, 2020 at 1:51 pm

Mene esme bataye gaye tarike se mediation kiya.
Fayada mila
Thanks author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!