Advertisements

भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है? – Which is the best health insurance company in India

भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है?

स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, आज के समय में स्वास्थ्य बीमा की उपयोगिता सभी को समझ आती है, इसे कोई नकार नहीं सकता। यदि आपने स्वास्थ बीमा ले रखा है तो यह तुरंत आपको बिना कोई पैसा खर्च किए उपचार उपलब्ध कराता है, चाहे स्थिति सामान्य हो या इमरजेंसी हालात हों। आपको यह फिक्र नहीं होती इलाज पर खर्च करने के लिये पैसा कहां से आएगा। परन्तु कई लोगों के साथ ऐसी समस्या आती है कि अस्पताल वाले कहते हैं कि आपके स्वास्थ बीमा में यह कवर नहीं है, वह कवर नहीं है या यह सेवा उपलब्ध नहीं कराई जा सकती। तो आप अपने को ठगा सा महसूस करते हैं और सोचते हैं कि हमने खराब कंपनी से हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ले ली। आखिर कैसे पता चलेगा कि कौन सी स्वास्थ बीमा कंपनी सबसे अच्छी है। दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक “भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है?”। 

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आज आपको इस बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बताएगा कि किन आधार पर सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी को चुनें। तो, सबसे पहले जानते हैं स्वास्थ्य बीमा कितने प्रकार के होते हैं और स्वास्थ्य बीमा कितने में हो जाता है। फिर, इसके बाद बाकी बिंदुओं पर जानकारी देंगे।

ये भी पढ़े- स्वास्थ्य बीमा में कोपे क्या है?

Advertisements

स्वास्थ्य बीमा के प्रकार – Types of Health Insurance

स्वास्थ्य बीमा के पांच प्रकार होते हैं, विवरण निम्नलिखित है –

1. व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा (Individual Health Insurance)- स्वास्थ्य बीमा के इस प्रकार में केवल एक ही व्यक्ति को कवर किया जाता है और उसी को ही स्वास्थ सेवाओं का लाभ प्रदान किया जाता है। बीमा राशि को किसी अन्य के साथ बांटा नहीं जा सकता, केवल बीमित व्यक्ति को ही बीमा राशि का लाभ मिलता है।

2. फैमिली फ्लोटर स्वास्थ्य बीमा (Family Floater Health Insurance)- फैमिली फ्लोटर प्लान में केवल एक व्यक्ति ही नहीं बल्कि परिवार के सभी सदस्य कवर हो जाते हैं। इसमें परिवार के सभी सदस्यों को स्वास्थ सेवाएं मिलती हैं तथा बीमा राशि का लाभ उन सभी सदस्यों को मिलता है जिनका उपचार हुआ है।

Advertisements

3. वरिष्ठ नागरिक स्वास्थ्य बीमा (Senior Citizen Health Insurance)- यह योजना वरिष्ठ नागरिकों जिनकी आयु 60 वर्ष या इससे अधिक है, को स्वास्थ सेवाएं उपलब्ध कराती है। 

4. गंभीर बीमारी स्वास्थ बीमा (Critical Illness Insurance) – स्वास्थ बीमा के इस प्रकार में गंभीर तथा जानलेवा बीमारियों को कवर किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत बीमारी के उपचार के लिए बीमाधारक को एकमुश्त राशि (Lump sum amount) प्रदान की जाती है। इस योजना में दिल का दौरा, स्ट्रोक, पक्षाघात, अंग प्रत्यारोपण, किडनी फेल्योर, बाईपास सर्जरी, कैंसर, कोमा आदि 36 बीमारियों को शामिल किया जाता है। 

5. समूह स्वास्थ्य बीमा (Group Health Insurance) – यह इस प्रकार का बीमा है जिसमें एक ही अनुबंध के अंतर्गत एक नियोक्ता (Employer) अपने सभी कर्मचारियों को स्वास्थ सेवाएं उपलब्ध कराता है। रंगभेद, आयु, लिंग, पद का भेदभाव किये बिना उपचार उपलब्ध कराया जाता है। समूह स्वास्थ्य बीमा के अंतर्गत कर्मचारियों की पत्नी, बच्चे व आश्रित माता-पिता को भी कवर किया जाता है। इसके लिये किसी भी कर्मचारी को अलग से स्वास्थ बीमा लेने की जरूरत नहीं होती।

स्वास्थ्य बीमा कितने प्रीमियम पर मिल जाता है? – At what Premium is Health Insurance Available?

सामान्यतः 35 वर्ष की आयु वाले व्यक्ति को पांच लाख रुपये का व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा, 4,000 से 7,000 रुपये के वार्षिक प्रीमियम पर मिल जाता है। पांच लाख रुपये का फैमिली फ्लोटर प्लान के लिये 10,000 रुपये से 17,000 रुपये के बीच वार्षिक प्रीमियम पर खर्च करने पड़ सकते हैं। वैसे एक बीमा कंपनी 240 रुपये मासिक की किस्त पर भी स्वास्थ्य बीमा देने का दावा करती है।

सबसे सस्ता हैल्थ प्लान –  Cheapest Health Plan

जहां तक सस्ते हैल्थ प्लान का प्रश्न तो समझिये कि हर स्वास्थ बीमा कंपनी सबसे सस्ता हैल्थ प्लान बेचने की प्रतिस्पर्धा में रहती है। मगर कोई भी कंपनी पहले से ही वार्षिक प्रीमियम नहीं बताती। वैसे भी वार्षिक प्रीमियम हैल्थ प्लान के प्रकार और बीमा राशि कवरेज पर निर्भर करता है। इसलिये प्रीमियम, हैल्थ प्लान खरीदते समय, कैलकुलेट होकर अपने आप आ जाता है। 

यद्यपि एचडीएफसी एर्गो हेल्‍थ सुरक्षा, सबसे सस्ती दर पर हैल्थ प्लान उपलब्ध कराने का दावा करती है। इसका प्लान तीन लाख रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक कवरेज देगा। यदि आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड की बात की जाए तो यह कंपनी एक लाख से 50 लाख रुपये तक कवर देने का दावा करती है। 

ये भी पढ़े- स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है?

स्वास्थ्य बीमा में कौन सी सेवाएं शामिल होती हैं? – What Services are Covered in Health Insurance?

स्वास्थ्य बीमा में निम्नलिखित सेवाएं शामिल होती हैं –

1. ओपीडी रजिस्ट्रेशन, डॉक्टर का कंसेल्टेशन, लैब टेस्ट।

2.  एंबुलेंस सर्विस, मरीज को घर से अस्पताल लाना।

3. किसी भी बीमारी में या दुर्घटना होने पर 24 घंटे से अधिक अस्पताल में भर्ती रहना।

4. अस्पताल में भर्ती होने से 30 दिन पहले तथा 60 दिन बाद तक का खर्च।

5. गंभीर स्थिति में तथा सर्जरी के बाद आईसीयू की सेवाएं।

6. कोविड-19 का उपचार।

7. व्यक्ति द्वारा अंगदान करने के लिये सारा खर्च।

8. एनुअल हैल्थ चेक-अप। 

स्वास्थ्य बीमा में क्या शामिल नहीं होता? – What is not Covered in Health Insurance?

स्वास्थ्य बीमा में निम्नलिखित सेवाएं शामिल नहीं होतीं –

1. पॉलिसी की तारीख से 30 दिन तक किसी भी बीमारी के उपचार या सर्जरी पर आया खर्च।

2. पॉलिसी की तारीख से 48 महीने तक की पहले से मौजूद बीमारियां। 

3. पूर्व बीमारियों का इलाज।

4. अंग प्रत्यारोपण (यद्यपि कुछ बीमा कंपनियां इसे कवर करती हैं)।

5. बांझपन का उपचार और आईवीएफ़ प्रक्रिया।

6. सामान्य गर्भावस्था और प्रसव।

7. गर्भपात और इसके बाद की जटिलताओं का उपचार।

8. दंगा, धरना, प्रदर्शन, हड़ताल, युद्ध, परमाणु हथियारों, विस्फोट से घायल अवस्था से अस्पताल में भर्ती होने पर उपचार पर आया खर्च।

9. खतरनाक खेल, स्टंट, चोटों की वजह से अस्पताल में भर्ती होने पर उपचार पर आया खर्च।

10. आत्महत्या के प्रयास में अपने को घायल करना।

11. शराब व ड्रग्स के कारण होने वाली बीमारियां।

12. डाइबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, मिर्गी, हिस्टीरिया से जुड़े रोग।

13. एचआईवी तथा एड्स से जुड़े रोग।

14. कॉस्मेटिक सर्जरी।

स्वास्थ बीमा के लाभ – Benefits of Health Insurance

स्वास्थ बीमा लेने के निम्नलिखित लाभ होते हैं –

1. पैसे की तरफ से आप बेफिक्र हो जाते हैं कि आपको अस्पताल में भर्ती होने पर पैसे जमा नहीं कराने पड़ते। अस्पताल में भर्ती का खर्च बीमारी के उपचार का खर्च स्वास्थ बीमा कंपनी वहन करती है।

2. अस्पताल में भर्ती होने अतिरिक्त ओपीडी रजिस्ट्रेशन, डॉक्टर का कंसेल्टेशन, लैब टेस्ट, आईसीयू आदि के लिए भी पैसे खर्च नहीं करने पड़ते।

3. इमरजेंसी हालत में आपको अस्पताल पहुंचाने के लिये मुफ्त एंबुलेंस सेवा मिलती है।

4. प्राइवेट अस्पताल आपको ज्यादा महत्व देते हैं।

5. आप अपनी पसंद से स्वास्थ देखभाल सेवा चुन सकते हैं।

6. सर्जरी के बाद भी आपकी अच्छी तरह देखभाल होती है।

7. स्वास्थ बीमा, अस्पताल का कमरा, सर्जन, डॉक्टर की फीस आदि को भी कवर करता है।

8. कोविड-19 जिसके नये-नये वेरिएंट आते रहते हैं, का उपचार भी स्वास्थ बीमा में कवर होता है। 

स्वास्थ बीमा कंपनियों की सूची – List of Health Insurance Companies

दोस्तो, वैसे तो 30 से भी अधिक स्वास्थ्य बीमा कंपनियां हैं परन्तु हम कुछ शीर्ष स्वास्थ्य बीमा कंपनियों के बारे में बता रहे हैं जिनका क्लेम सेटलमेंट रेश्यो (CSR),  सॉलवेंसी रेश्यो अच्छा है और अपने नेटवर्क में अधिक अस्पतालों को कवर करती हैं (सूचना वर्ष 2021-22 के आधार पर)। विवरण निम्न प्रकार है – 

1. एको जनरल 

CSR 97.20%

Solvency 1.84

Network Hospital 7100+

2. आदित्य बिड़ला कैपिटल

CSR 99.41%

Solvency 1.73

Network Hospital 10051+

3. बजाज आलियांज 

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 96.59%

Solvency 3.41

Network Hospital 8000+

4. केयर हैल्थ इंश्योरेंस कंपनी

CSR 100%

Solvency 1.81

Network Hospital 20800+

5. चोलामंडलम

एम एस जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 93.23%

Solvency 1.89

Network Hospital 10000+

6. डिजिटल जनरल इंश्योरेंस

CSR 96.09%

Solvency 1.77

Network Hospital 10500+

7. जूनो जनरल इंश्योरेंस

CSR 97.26%

Solvency 1.76

Network Hospital 6000+

8. फ्यूचर जेनराली

इंडिया इंश्योरेंस कंपनी

CSR 96.01%

Solvency 1.61

Network Hospital 6300+

9. एचडीएफ़सी एग्रो

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 99.49%

Solvency 1.68

Network Hospital 13000+

10. आईसीआईसीआई

लोम्बार्ड

CSR 97.07%

Solvency 2.54

Network Hospital 6700+

11. इफ़को टोकियो

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 89.38%

Solvency 1.64

Network Hospital 7500+

12. कोटक महिंद्रा स्वास्थ बीमा

CSR 96.90%

Solvency 2.13

Network Hospital 7000+

13. लिबर्टी वीडियोकॉन

जनरल इंश्योरेंस

CSR 96.90%

Solvency 2.13

Network Hospital 7000+

14. मेग्मा एचडीआई

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 93.34%

Solvency 1.75

Network Hospital 7200+

15. मणिपाल सिग्ना

इंश्योरेंस कंपनी

CSR 99.90%

Solvency 1.67

Network Hospital 8500+

16. मैक्स बूपा कंपनी

CSR 99.99%

Solvency 1.7

Network Hospital 9100+

17. नवी जनरल

CSR 99.99%

Solvency 2

Network Hospital 10000+

18. न्यु इंडिया एश्योरेंस कंपनी

CSR 92.93%

Solvency 1.34

Network Hospital 3000+

19. रहेजा क्यूबीई

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 93.30%

Solvency 2.44

Network Hospital 5000+

20. ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 90.18%

Solvency 0.45

Network Hospital 3500+

21. रिलायंस

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 98.65%

Solvency 1.67

Network Hospital 8600+

22. रॉयल सुंदरम 

एलायंस इंश्योरेंस कंपनी

CSR 95.55%

Solvency 2.07

Network Hospital 7000+

23. एसबीआई

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 95.04%

Solvency 1.98

Network Hospital 20000+

24. स्टार हैल्थ एंड 

एलाइड इंश्योरेंस कंपनी

CSR 99.06%

Solvency 1.7

Network Hospital 14000+

25. टाटा एआईजी

जनरल इंश्योरेंस कंपनी

CSR 93.55%

Solvency 2.14

Network Hospital 7200+

26. युनाइटिड इंडिया

हैल्थ इंश्योरेंस

CSR 97.25%

Solvency 0.82

Network Hospital 6500+

27. युनिवर्सल सोम्पो

इंश्योरेंस कंपनी

CSR 95.77%

Solvency 2

Network Hospital 4000+

28. राष्ट्रीय बीमा कंपनी

CSR 86.28%

Solvency 0.31

Network Hospital 3000+

ये भी पढ़े- स्वास्थ्य बीमा में संचयी बोनस क्या है?

भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी – Best Health Insurance Company in India

दोस्तो, सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी एक ऐसा मुद्दा है जिसे पारिभाषित नहीं किया जा सकता। क्योंकि हर व्यक्ति की जरूरत एक दूसरे से अलग होती है, स्वास्थ की स्थिति अलग होती है, इम्युनिटि पावर अलग होती है, रेजिस्टेंस पावर अलग होती है, उसकी पारिवारिक स्थिति अलग होती है और वित्तीय स्थिति भी अलग होती है।

 इसलिए यदि सरल भाषा में कहा जाए तो यह कहना एकदम उचित होगा कि जो स्वास्थ्य बीमा कंपनी उसकी जरूरत को भली-भांति पूरा कर दे वही उसके लिए सबसे अच्छी है। सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी का निर्धारण केवल आप ही कर सकते हैं कोई और नहीं। इसके लिये निम्नलिखित बिंदुओं के आधार पर, सोच समझ कर, ऊपर दी गई स्वास्थ्य बीमा कंपनी में से अपने लिए सबसे अच्छी बीमा कंपनी चुन सकते हैं –

1. अपनी जरूरत का आकलन करें (Assess your Needs)- स्वास्थ्य बीमा लेने से लिये किसी स्वास्थ्य बीमा कंपनी के साथ संपर्क करने से पहले अपनी जरूरत का आकलन करें और समझें कि क्या आपका काम केवल व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा से चल जाएगा या फैमिली फ्लोटर से जरूरत पूरी होगी।

 माता-पिता आप पर आश्रित हैं तो उनकी जरूरत को भी समझना पड़ेगा। अतः अपनी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए केवल एक ही ऐसा हैल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने की सोचें, सबके लिए अलग-अलग प्लान ना खरीदें। फिर अपनी जरूरत के अनुसार ही उस स्वास्थ्य बीमा कंपनी से सम्पर्क करें जो आपकी जरूरत को पूरा कर सके।

2. अपनी आर्थिक स्थिति का आकलन करें (Assess your Financial Situation)- स्वास्थ संबंधी जरूरतों को समझने के बाद, यह जरूरी हो जाता है कि आप अपनी आर्थिक स्थिति का आकलन करें। आपकी मासिक आय कितनी है, घर का खर्च कितना आता है, बच्चे किस क्लास में पढ रहे हैं उनकी पढाई का खर्च, कोई लोन ले रखा है तो उसकी EMI, यदि मकान किराए का है तो कितना उसका किराया जाता है, डॉक्टर, दवाओं का खर्च, अन्य खर्चे, सब मिलाकर कुल कितना खर्च होता है और कितना बचता है। 

यह भी मानकर चलना है कि साल-दर-साल मंहगाई के साथ हर साल आपके खर्चे भी बढेंगे और हो सकता कि आमदनी ना बढे। तो, ये सब जान लेने के बाद यह निर्णय लें कि आप साल में ज्यादा से ज्यादा कितना प्रीमियम का भुगतान आसानी से कर सकते हैं। फिर आप स्वास्थ्य बीमा कंपनियों से सम्पर्क करें परन्तु पहले से ही उसको यह ना बताएं कि आप कितना प्रीमियम दे सकते हैं। बीमा कंपनियों से सारा विवरण लेकर समझें और अपनी सुविधा तथा जरूरत के अनुसार स्वास्थ्य बीमा कंपनी का चयन करें।

3. ग्राहक सहायता सेवा (Customer Support Service)- कोई स्वास्थ्य बीमा कंपनी बहुत अच्छी हो सकती है परन्तु उसकी ग्राहक सहायता सेवा भी अच्छी हो, यह जरूरी नहीं। यदि किसी को कोई जानकारी चाहिये या किसी बिंदू पर कुछ समाधान चाहता है तो इसके लिये वह व्यक्ति स्वास्थ्य बीमा कंपनी के ऑफिस तो नहीं भागेगा और ना किसी के पास इतना  समय होता है। 

तो, इसके लिये स्वास्थ्य बीमा कंपनी की ग्राहक सहायता सेवा के बारे में जाने कि वह 24*7 ग्राहक सेवा देती हो और वहां के कर्मचारियों का आमने सामने बातचीत की शैली, आचार, व्यवहार, विनम्रता, सहनशीलता, समाधान कौशल उच्च श्रेणी का हो। फोन पर या ईमेल पर भी ग्राहक सहायता सेवा की अच्छी पकड़ होनी चाहिए।

4. नेटवर्क अस्पताल (Network Hospital)- सभी स्वास्थ्य बीमा कंपनियों का बहुत सारे अस्पतालों के साथ अनुबंध होता है। इसीलिये ये कंपनियां स्वास्थ्य बीमा हजारों की संख्या में अस्पतालों को कवर करती हैं। इनको स्वास्थ्य बीमा कंपनियों का नेटवर्क अस्पताल कहा जाता है। 

अब, आपको देखना है कि जहां आप रहते हैं उस क्षेत्र में या क्षेत्र के आसपास कितने अस्पताल आते हैं, उन अस्पतालों की प्रतिष्ठा (Reputation) कैसी है और उनकी स्वास्थ सेवाएं किस श्रेणी की हैं। उनकी सेवाएं कहीं सन्तोषजनक श्रेणी से नीचे तो नहीं हैं। हमने स्वास्थ्य बीमा कंपनियों की सूची में उनके नेटवर्क अस्पतालों की संख्या भी बताई है।

5. क्लेम चुनने का विकल्प (Option to Choose Claim)– स्वास्थ बीमा कंपनियां दो प्रकार से उपचार लेने का विकल्प देती हैं – एक है नकद मुक्त उपचार (Cashless Treatment) जिसके अंतर्गत बीमा कंपनी, उपचार पर आये खर्च का निपटारा सीधे तौर पर संबंधित अस्पताल को करती है और दूसरा विकल्प है प्रतिपूर्ति (Reimbursement)  of Expenses Incurred) – इसके अंतर्गत उपचार पर बीमित व्यक्ति द्वारा किये गये सभी खर्चों की प्रतिपूर्ति (Reimbursement), बीमा कंपनी करती है। 

अब आपको समझना है कि आपको कौन सा विकल्प उपयुक्त (Suitable) लगता है। इसके साथ आपको यह भी देखना है कि स्वास्थ बीमा कंपनी यदि कोपे (Co-payment) की शर्त लेकर आ रही है तो आपके द्वारा क्लेम का भुगतान करने का प्रतिशत क्या है और क्या यह शर्त आपको उपयुक्त रहेगी। 

6. क्लेम सेटलमेंट की सरल प्रक्रिया (Simple Claim Settlement Process)- जिस समय कोई व्यक्ति दुर्घटना की वजह से या इमरजेंसी हालात में अस्पताल में भर्ती कराया जाता है तो उस समय सबसे पहले उसका उपचार की सर्वोच्च वरीयता होती है। उस समय अस्पताल में भर्ती कराने की जटिल प्रक्रिया से सुलझने और तत्काल दस्तावेज जमा कराने जैसे स्थिति से निपटने का किसी के पास समय नहीं होता। 

इसलिए स्वास्थ बीमा पॉलिसी लेने से पहले यह सुनिश्चित करें कि बीमा कंपनी की क्लेम सेटलमेंट की प्रक्रिया सरल हो और लंबी ना हो ताकि मरीज को भर्ती कराते समय अस्पताल की तरफ से कोई उलझन (Complication) पैदा ना है। यह बात का पता आप विभिन्न स्वास्थ बीमा कंपनियों से बातचीत करके लगा सकते हैं।

7. क्लेम सेटलमेंट रेशो (CSR) – स्वास्थ बीमा खरीदने से पहले स्वास्थ्य बीमा कंपनियों का क्लेम सेटलमेंट रेशो भी देख लेना चाहिये। इससे यह पता चलता है कि बीमा कंपनी का दावा निपटान में कितनी दक्षता (Efficiency) है। यह भी पता कर लें कि एक वित्तीय वर्ष में प्राप्त कुल दावों में से बीमा कंपनी ने कितने दावे निपटाए हैं। हमने स्वास्थ्य बीमा कंपनियों की सूची में उनका क्लेम सेटलमेंट रेशो प्रतिशत तथा सॉल्वेंसी प्रतिशत भी बताया है। 

8. स्वास्थ बीमा कंपनी की संपत्ति (Health Insurance Company Assets)- स्वास्थ बीमा कंपनियों को स्वास्थ बीमा पॉलिसी बेचने पर प्रीमियम के जरिये जो पैसा मिलता है उसे स्वास्थ बीमा कंपनी की संपत्ति (Asset) कहा जाता है। इस पैसे को बीमा कंपनी मार्केट में लगाती है और मुनाफा कमाती है। वित्तीय वर्ष के दौरान मुनाफे का एक हिस्सा बोनस के रूप में पॉलिसीधारक की बीमित राशि में जोड़ दिया जाता है। 

इसके अतिरिक्त पॉलिसीधारक द्वारा वित्तीय वर्ष के दौरान कोई भी मेडिकल क्लेम ना देने के एवज में बीमा कंपनी, बीमित राशि का 5 प्रतिशत राशि उसके बीमित राशि (Sum Assured) में जोड़ देती है या बीमा कवरेज बढ़ा देती हैं या पॉलिसी रिन्युवल के समय प्रीमियम में राशि में 5 प्रतिशत की छूट दे देती है। 

इसलिये जिस बीमा कंपनी की जितनी अधिक पॉलिसी बिकेंगी उसका उतना ही बड़ा Financial Pool होगा और अपने ग्राहकों को ज्यादा से ज्यादा लाभ प्रदान करेगी। इसलिये स्वास्थ बीमा खरीदने से पहले स्वास्थ बीमा कंपनियों की संपत्ति की जानकारी लें। यह जानकारी बीमा कंपनी के बारे में ऑनलाइन मिल जाएगी।

9. समीक्षा और रेटिंग (Reviews and Ratings)- किसी भी स्वास्थ बीमा कंपनी के बारे में और अधिक जानकारी के लिये, उसके मौजूदा ग्राहकों के बीमा कंपनी के और अस्पतालों के साथ हुए अच्छे, बुरे अनुभवों के बारे में जानें, उनकी आलोचना, उनकी समीक्षा को पढ़ें। उनके द्वारा दी गई रेटिंग को जानें। यह सब आपको सबसे अच्छी स्वास्थ बीमा कंपनी को चुनने में मदद करेगा। 

10. पुरस्कार और प्रशंसा (Awards and Accolades)- ग्राहक, स्वास्थ बीमा कंपनी और उससे जुड़े अस्पतालों की सेवा को प्राथमिकता और वरीयता  (Preference and Priority) देता है, उसे स्वास्थ बीमा कंपनियों को मिले पुरस्कार और प्रशंसा से कुछ लेना देना नहीं है। इसके बावजूद पुरस्कार और प्रशंसा ग्राहक को अपनी ओर आकर्षित करने में महत्वपूर्ण और सक्रिय भूमिका निभाते हैं। ये बीमा कंपनी की धरोहर होती हैं जो उनके द्वारा अर्जित उपलब्धियों और ग्राहकों को उच्च श्रेणी की सेवाएं प्रदान करने के फलस्वरूप प्राप्त होती हैं। इस बारे में जानकारी बीमा कंपनी की वेबसाइट पर मिल जाती है।

11. डिजिटल उपस्थिति और प्रस्तुति (Digital Presence and Presentation)- हर बीमा कंपनी की अपनी आधिकारिक (Official) वेबसाइट होती है आप बीमा से जुड़ी जानकारियां ले सकते हैं या बीमा कंपनी से संवाद कर सकते हैं। इस वेबसाइट पर प्रस्तुतियां (Presentations) भी मिल जाएंगे जिन पर स्वास्थ बीमा से जुड़ी जानकारियां उपलब्ध होती हैं। इस वेबसाइट के जरिये बीमा संबंधी कार्य कर सकते हैं।

बीमा लेने, रिन्युवल पर प्रीमियम जमा कराने आदि के लिये बीमा ऑफिस में जाने की जरूरत नहीं और ना ही किसी बीमा एजेंट से मिलने या उसे अपने घर बुलाने की। परन्तु इसके लिये बीमा कंपनी की डिजिटल उपस्थिति हर समय बहुत मजबूत होनी चाहिये तभी आप इसका लाभ उठा सकते हैं। यदि किसी बीमा कंपनी की वेबसाइट खुल के ही नहीं दे रही या बहुत स्लो चलती है तो फिर बीमा कंपनी की सेवाएं नहीं ले पाएंगे। इसलिए सुनिश्चित करें कि बीमा कंपनी की डिजिटल उपस्थिति उच्च दर्जे की होनी चाहिए। 

Conclusion –

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको स्वास्थ्य बीमा कंपनी के बारे में विस्तार से जानकारी दी। स्वास्थ्य बीमा के प्रकार, स्वास्थ्य बीमा कितने प्रीमियम पर मिल जाता है, सबसे सस्ता हैल्थ प्लान, सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है? में कौन सी सेवाएं शामिल होती हैं, स्वास्थ्य बीमा में क्या शामिल नहीं होता, स्वास्थ बीमा के लाभ और स्वास्थ बीमा कंपनियों की सूची इन सब के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी चुनने के बारे में भी बताया। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा।

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
Advertisements
भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है?
Advertisements
Article Name
भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है?
Description
दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको स्वास्थ्य बीमा कंपनी के बारे में विस्तार से जानकारी दी। स्वास्थ्य बीमा के प्रकार, स्वास्थ्य बीमा कितने प्रीमियम पर मिल जाता है, सबसे सस्ता हैल्थ प्लान, सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है? में कौन सी सेवाएं शामिल होती हैं, स्वास्थ्य बीमा में क्या शामिल नहीं होता, स्वास्थ बीमा के लाभ और स्वास्थ बीमा कंपनियों की सूची इन सब के बारे में विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

One thought on “भारत में सबसे अच्छी स्वास्थ्य बीमा कंपनी कौन सी है? – Which is the best health insurance company in India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *