Advertisements

स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है? – What is No Claim Bonus in Health Insurance in Hindi

स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है

स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, हैल्थ इंश्योरेंस की उपयोगिता हर व्यक्ति जानता है कि यह क्यों जरूरी है। नि:संदेह स्वास्थ बीमा यानि हैल्थ इंश्योरेंस आपको तथा आपके परिवार को स्वास्थ संबंधी समस्या होने पर आर्थिक संकट से बचाता है। कुछ लोग छोटी-छोटी बीमारियों को लेकर अस्पताल भागते रहते हैं तो कुछ लोग अस्पताल ना जाकर अपने स्थानीय डॉक्टर के पास जाना पसंद करते हैं और इलाज कराते हैं। ऐसे लोग इलाज का खर्च वहन कर लेते हैं और पूरे साल को बचाकर रखते हैं कि उनको बीमा कंपनी को कोई बिल ना देना पड़े। 

कोई भी मेडिकल क्लेम ना देने के परिणाम स्वरूप वे लोग एक ऐसे बोनस का हकदार हो जाते हैं जिसे नो क्लेम बोनस कहा जाता है। इस बोनस की रकम, प्राइवेट इलाज कराने पर आये खर्च की तुलना में कहीं अधिक होती है। ये, नो क्लेम बोनस की राशि या तो उनके बीमित राशि में संचयी बोनस के रूप में जुड़ जाती है या उनको बीमा कवरेज अधिक मिल जाता है अथवा पॉलिसी रिन्युवल के समय प्रीमियम पर डिस्काउंट मिल जाता है। यह निर्भर करता है पॉलिसी के नियम और शर्तों  पर। आखिर यह नो क्लेम बोनस है क्या। दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक “स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है?”। 

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आज आपको नो क्लेम बोनस के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बताएगा कि इसके क्या फायदे हैं?। तो, सबसे पहले बोनस जानते हैं कि स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है और नो क्लेम बोनस के प्रकार। फिर, इसके बाद बाकी बिंदुओं पर जानकारी देंगे।

Advertisements

स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है? – What is No Claim Bonus in Health Insurance?

दोस्तो, नो क्लेम बोनस (No Claim Bonus – NCB) एक प्रावधान है जिसके अंतर्गत स्वास्थ्य बीमा कंपनियां, पॉलिसीधारक की हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में बीमित राशि में वृद्धि कर देती हैं या बीमा कवर बढ़ा देती हैं अथवा पॉलिसी रिन्यु कराते समय प्रीमियम में छूट दे देती हैं ताकि पॉलिसीधारक को प्रीमियम कम देना पड़े। यह नो क्लेम बोनस, सामान्य बोनस से अलग होता है और यह इससे अतिरिक्त दिया जाता है। 

यह नो क्लेम बोनस केवल उन पॉलिसीधारकों को दिया जाता है जो वर्ष में अपना अथवा अपने परिवार के किसी भी सदस्य का स्वास्थ संबंधी क्लेम बीमा कंपनी को प्रस्तुत नहीं करते। इसका अर्थ है कि यदि कोई पॉलिसीधारक स्वास्थ संबंधी क्लेम बीमा कंपनी को नहीं देता है तो बीमा कंपनी इसके एवज में यह नो क्लेम बोनस की राशि उसकी बीमित राशि में जोड़ देती है या उसका बीमा कवरेज बढ़ा देती है या उसके प्रीमियम राशि में कुछ छूट दे देती है। यह एक प्रकार से बीमा कंपनी की तरफ से प्रोत्साहन राशि होती है जो पॉलिसीधारक को स्वास्थ के प्रति सजग रहने को उत्साहित करती है। 

ये भी पढ़े- स्वास्थ्य बीमा में संचयी बोनस क्या है?

Advertisements

नो क्लेम बोनस के प्रकार – Types of No Claim Bonus

नो क्लेम बोनस निम्नलिखित दो प्रकार के होते हैं –

1. संचयी बोनस/बीमा कवरेज बढ़ाना (Cumulative Bonus/Increasing Insurance Coverage)- यदि पॉलिसीधारक जिस वर्ष में कोई स्वास्थ संबंधी क्लेम बीमा कंपनी को देता है तो बीमा कंपनी इसके बदले में बीमित राशि का 5 प्रतिशत राशि उसके बीमित राशि (Sum Assured) में जोड़ देती है। दूसरे वर्ष भी यदि मेडिकल क्लेम नहीं दिया जाता है तो उसकी कुल बीमित राशि में 10 प्रतिशत की राशि और जुड़ जाती है। यह संचयी बोनस दस वर्षों तक 50 प्रतिशत की राशि तक जुड़ सकता है। कुछ बीमा कंपनियां नो क्लेम बोनस के तहत संचयी बोनस को ना देकर, बीमा कवरेज में बढ़ोतरी कर देते हैं। 

2. रिन्यूअल का समय प्रीमियम पर छूट (Discount on Renewal time Premium)- कुछ स्वास्थ बीमा कंपनियां नो कलेम बोनस के अंतर्गत, पॉलिसीधारक द्वारा मेडिकल क्लेम ना देने के एवज में पॉलिसी रिन्यु के समय, प्रीमियम पर डिस्काउंट प्रदान करती हैं। यह डिस्काउंट प्रीमियम की 5 प्रतिशत राशि हो सकती है। यह छूट मिलने पर पॉलिसीधारक को रिन्युवल के समय प्रीमियम कम देना पड़ता है। प्रीमियम के कम हो जाने से बीमित राशि पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता। 

नो क्लेम बोनस कैसे काम करता है? – How does No Claim Bonus work?

नो क्लेम बोनस निम्न प्रकार से काम करता है – 

1. संचयी बोनस/बीमा कवरेज के लिए (Cumulative Bonus/Insurance Coverage)- जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि वर्ष में यदि पॉलिसीधारक कोई क्लेम नहीं देता है तो बीमा कंपनी उसके बीमित राशि का 5 प्रतिशत राशि बीमित राशि में जोड़ देती है। यह वृद्धि दूसरे वर्ष 10 प्रतिशत, तीसरे वर्ष 15 प्रतिशत इसी प्रकार 10वें वर्ष में 50 प्रतिशत हो जाती है। अधिकतम 10 वर्ष तक ही संचयी बोनस बीमित राशि में जुड़ सकता है। 

यदि किसी की बीमित राशि 1,00,000/- है तो संचयी बोनस 5 प्रतिशत जोड़कर 1,05,000/- रुपये हो जाएगी और दूसरे वर्ष 1,05,000/- का 10 प्रतिशत और जुड़ जाएगा यानि यह राशि 1,15,500/- हो जाएगी। रही बात बीमा कवरेज की तो समझिए कि बीमा कंपनी नो क्लेम के एवज में बीमा कवरेज में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर सकती हैं। इसका मतलब यह हुआ कि यदि पॉलिसीधारक का बीमा कवर 1,00,000/- का है इसमें 10 प्रतिशत जुड़कर यह बीमा कवरेज 1,10,000/-रु। का हो जाएगा।

2.  प्रीमियम पर छूट के लिए (Discount on Premium)- पॉलिसी रिन्युवल के समय नो क्लेम के विरुद्ध पॉलिसीधारक को प्रीमियम पर 5 प्रतिशत की छूट दी जाती है। इसका अर्थ है कि यदि किसी 10,000/- रु प्रीमियम जाता है तो इस पर 5% यानि 500/- रु की छूट मिल जाएगी और उसे कुल 9500/- रु ही प्रीमियम देना होगा।

ये भी पढ़े- मिसलेनियस बीमा क्या है?

एड-ऑन कवर क्या है? – What is an Add-on Cover?

स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस के लिए एड-ऑन कवर एक प्रकार से अतिरिक्त मौद्रिक लाभ (Monetary Gain) है। पॉलिसी लेने के बाद यदि पॉलिसीधारक कुछ समय बाद कोई नई सर्विस जोड़ना चाहता है तो इसके बदले उसे अतिरिक्त रकम देनी पड़ती है और उसका प्रीमियम बढ़ जाता है। यदि पॉलिसीधारक कोई मेडिकल क्लेम नहीं करता है तो “नो क्लेम बोनस एड-ऑन” रिन्युवल के समय बोनस के प्रतिशत में बढ़ोतरी हो सकती है। 

नो क्लेम बोनस के महत्वपूर्ण तथ्य – Important facts about No Claim Bonus

1. नो क्लेम बोनस का लाभ व्यक्तिगत और पारिवारिक (Individual and Family Floater) दोनों प्लान के लिए उठाया जा सकता है। आप अपनी इच्छानुसार कोई भी आदर्श प्लान चुन सकते हैं। 

2. एक बार मेडिकल क्लेम देने के बाद, उस वर्ष के लिए नो क्लेम बोनस की वैधता समाप्त हो जाती है। 

3. फेमिली फ्लोटर के मामले में भी किसी सदस्य द्वारा क्लेम देने पर उस वर्ष के लिए नो क्लेम बोनस की वैधता समाप्त हो जाती है। 

4. हर पॉलिसी के लिए नो क्लेम बोनस की शर्तें और नियम अलग-अलग हो सकती हैं। इसलिये हैल्थ इंश्योरेंस लेने से पहले नियम और शर्तों को अच्छी तरह पढ़ना और समझना चाहिए।

5. यद्यपि अधिकतर सभी हैल्थ इंश्योरेंस कंपनियां नो क्लेम बोनस की सुविधा प्रदान करती हैं परन्तु कुछ हैल्थ इंश्योरेंस कंपनियां नो क्लेम बोनस का लाभ नहीं देतीं। इसलिए पॉलिसी खरीदने से पहले पॉलिसी के नियम और शर्तों को भली-भांति पढ़ लें और समझ लें। इसके लिये आप किसी विशेषज्ञ की सेवाएं ले सकते हैं। 

6. नो क्लेम बोनस के अंतर्गत बीमित राशि में वृद्धि, बीमा कवरेज और रिन्युवल पर छूट की एक अधिकतम सीमा होती है। बीमित राशि में वृद्धि की दर 5% से 50% तक ही मान्य है। या बीमा कवरेज 10% तक हो सकती है और रिन्युवल पर प्रीमियम में छूट 20% तक मिल सकती है।

नो क्लेम बोनस के फायदे – Benefits of No Claim Bonus

स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस के फायदे निम्न प्रकार हैं –

1. बीमा कंपनियां नो क्लेम बोनस देकर पॉलिसीधारक को और अधिक प्रोत्साहित करती हैं कि आप भविष्य में भी अपने स्वास्थ का ध्यान रखें और नो क्लेम बोनस का लाभ उठाते रहें।

2. जब आपको नो क्लेम बोनस मिलता है तब आप यह सोच लेते हैं कि आप भविष्य में भी स्वास्थ संबंधी छोटे-छोटे बिल का क्लेम करना अवॉइड करेंगे। इस प्रकार आप नो क्लेम ईयर (No Claim Year) की संभावना को बढ़ाते हैं।

3. प्रति वर्ष क्लेम ना देने पर साल-दर-साल (दस साल तक) आपकी बीमित राशि में संचयी बोनस जुड़ता है, इससे आपको मैच्योरिटी पर अधिक राशि मिलती है। 

ये भी पढ़े- हेल्थ इंश्योरेंस क्या है?

4. जब नो क्लेम बोनस आपके बीमित राशि में जुड़ता है तो इसमें बढ़ोतरी आपको खुशी का अनुभव कराती है।

5. नो क्लेम बोनस की अतिरिक्त राशि आपके किसी भी काम आ सकती है।

6. यदि नो क्लेम बोनस की राशि आपके बीमा कवरेज में जुड़ता है तो यह भी एक अच्छी बात है। इससे आपके परिवार को बीमा राशि अधिक मिलती है। 

7. यदि पॉलिसी रिन्यू कराते समय, आपको डिस्काउंट मिलता है तो इससे आपको प्रीमियम कम देना पड़ता है।

8. यदि आपके पास फैमिली फ्लोटर प्लान है तो कोई भी परिवान का बीमित नो क्लेम बोनस का लाभ ले सकता है।

9. यदि आप नो क्लेम बोनस ऐड-ऑन लेते हैं तो एनसीबी खोए बिना आप तीन गुणा तक फ्री क्लेम दे सकते हैं।

10. नए स्वास्थ्य बीमा में जाने पर भी आप मौजूदा स्वास्थ्य योजना से नो क्लेम बोनस का लाभ उठा सकते हैं।

Conclusion –

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको नो क्लेम बोनस के बारे में विस्तार से जानकारी दी। स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है, नो क्लेम बोनस के प्रकार, नो क्लेम बोनस कैसे काम करता है, एड-ऑन कवर क्या है और नो क्लेम बोनस के महत्वपूर्ण तथ्य, इन सब के बारे में विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से नो क्लेम बोनस के फायदे भी बताए। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा।

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
Advertisements
स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है?
Advertisements
Article Name
स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है?
Description
दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको नो क्लेम बोनस के बारे में विस्तार से जानकारी दी। स्वास्थ्य बीमा में नो क्लेम बोनस क्या है, नो क्लेम बोनस के प्रकार, नो क्लेम बोनस कैसे काम करता है, एड-ऑन कवर क्या है और नो क्लेम बोनस के महत्वपूर्ण तथ्य, इन सब के बारे में विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *