दोस्तो, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, हर मौसम का अपना मिजाज़ होता है और हर मौसम की अपनी महत्ता। बारिश का मौसम रोमान्टिक लगता है तो सर्दियों का मौसम बहुत सुहाना और खुशनुमा। वहीं गर्मियों के मौसम में भारी भरकम कपड़ों से निजात मिलती है तो गर्मी की मार झेलनी पड़ती है। इस गर्मी के मौसम में शरीर पसीने से तर-बतर रहता है। परेशानी उस समय और बढ़ जाती है जब सफर करते समय भीड़भाड़ में आदमी से आदमी सटा रहता है। उस पर भी तुर्रा यह कि किसी की बगलों (Armpits) से पसीने की असहनीय बदबू आ रही होती है। पसीने की बदबू तो बिना भीड़भाड़ के भी किसी से आ रही होती है। आखिर ऐसा क्या किया जाये कि अंडरआर्म्स से पसीने की बदबू ना आये। दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक “पसीने की बदबू दूर करने के उपाय”। देसी हैल्थ क्लब इस लेख के माध्यम से आज आपको पसीने के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू दूर करने के देसी उपाय भी बतायेगा। तो सबसे पहले जानते हैं पसीने के बारे में कि पसीना क्या होता है और क्यों आता है। 

पसीने की बदबू दूर करने के उपाय

पसीना क्या है? – What is Sweat?

दोस्तो, मानव सहित स्तनधारी जीवों की त्वचा में मौजूद ग्रंथियों से निकलने वाले तरल पदार्थ को पसीना कहते हैं। पसीने में 99% पानी और थोड़ी मात्रा में नमक, प्रोटीन और यूरिया शामिल होते हैं। मनुष्य के शरीर में 20 लाख से 40 लाख तक पसीने की ग्रंथियां होती है। इन ग्रंथियों को एक्राइन स्वेद ग्रन्थि (Eccrine Sweat Glands) कहा जाता है। ये ग्रंथियां मनुष्य के पैर के तलवों, हथेलियों, माथा, गाल और बगलों (Armpits) में सबसे अधिक होती हैं। पसीना शरीर का, तापमान नियंत्रक का कार्य करता है। 

ये भी पढ़े- अंडरआर्म्स के बाल हटाने के उपाय

पसीना क्यों आता है? – Why Do You Sweat?

पसीना आना शरीर की एक प्राकृतिक सामान्य प्रक्रिया है। मस्तिष्क का हाइपोथेलेमस हमारे शरीर का सामान्य तापमान 37° डिग्री सेंटीग्रेड बनाये रखता है। हाइपोथेलेमस, मस्तिष्क का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा (इसे विभाग भी कह सकते हैं), पीयूष ग्रन्थि (Pituitary gland) के माध्यम से तन्त्रिका तंत्र (Nervous system) को अंतःस्रावी तंत्र (Endocrine system) के साथ जोड़ता है। जब शारीरिक मेहनत वाला ज्यादा काम करने से या गर्मी में बाहर का तापमान बढ़ने से, शरीर गर्म हो जाता है और शरीर का तापमान बढ़ने लगता है तब हाइपोथेलेमस मस्तिष्क का विभाग मस्तिष्क को पसीना छोड़ने का संकेत (Signal) भेजता है। जिसके परिणाम स्वरूप पसीना आने लगता है। पसीना शरीर के लिये कूलिंग सिस्टम के रूप में काम करता है। इसके शरीर से वाष्पित हो जाने पर शरीर का तापमान फिर से सामान्य हो जाता है। अब बात करते हैं कि पसीने की बदबू क्या होती है?।

पसीने की बदबू क्या होती है? – What is the Smell of Sweat?

दोस्तो, आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि पसीना गंधहीन होता है अर्थात् पसीने में ना खुश्बू होती है और ना ही बदबू। फिर हमें पसीने में बदबू क्यों आती है। तो, इसका बहुत ही सरल उत्तर है कि जब पसीना ग्रंथियों से बाहर निकलकर त्वचा और बैक्टीरिया के सम्पर्क में आता है तब इसमें बदबू हो जाती है। ये बैक्टीरिया उस समय अधिक बढ़ जाते हैं जब मौसम में अधिक आर्द्रता (Humidity) होती है, और पसीने में बदबू भी। बरसात के मौसम में, बारिश बंद होने पर पसीने में बहुत बदबू हो जाती है। तभी लोगों को कहते सुना होगा कि बहुत सड़ी गर्मी पड़ रही है। पसीने में बदबू के और क्या कारण हो सकते हैं, जानते हैं इसे।

पसीने में बदबू के कारण – Cause to Bad Sweat

1. शरीर की तंत्रिकाओं में अधिक उत्तेजना पैदा होने के कारण पसीने में बदबू आती है।

2. पेट साफ ना रहना, या कब्ज की शिकायत। भोजन जब ठीक से नहीं पचता तब वह पेट में सड़ता रहता है। फिर यही सड़ांध पसीने के साथ बाहर निकलती है। 

3. डायबिटीज के मरीजों के पसीने में बहुत अधिक बदबू आती है।

4. मांस, मिर्च, लहसुन और मेथी आदि के अधिक सेवन से।

5. चिंता और तनाव के कारण।

6. टेस्टोरोन और कार्टिसोल जैसे हार्मोन्स की अधिकता होने के कारण।

7. ट्राइमेथीलेमिनुरिया (Trimethylaminuria) नामक विकार के कारण।  जब शरीर ट्राइमेथिलैमाइन नामक रसायन को तोड़ नहीं पाता या उसके ब्रेकडाउन में असमर्थ होता है तब यह रसायन शरीर में जमने लगता है, और शरीर में पसीने की बदबू  का कारण बनता है।

8. फेनाइलकेटोन्यूरिया (Phenylketonuria), जिसे जन्मदोष माना जाता है, जिसमें फेनाइलएलानिन (phenylalanine) नामक अमीनो एसिड शरीर में अधिक बनता है।

पसीना आने के फायदे – Benefits of Sweating

1. शरीर के तापमान को सामान्य रखने में मदद करें (Help Maintain Normal Body Temperature)- जैसा कि हमने बताया कि पसीना शरीर के लिये कूलिंग सिस्टम के रूप में काम करता है। पसीना आने पर जब यह वाष्पित होता है तो शरीर का तापमान कम हो जाता है और शरीर ठंडा रहता है। बाहर की गर्म हवा भी शरीर को ठंडी लगती है। 

2. विषाक्त पदार्थों को बाहर निकाले (Flush out Toxins)- जब पसीना आता है तो शरीर से खनिज और प्राकृतिक लवण निकलते हैं। यह एक प्राकृतिक एक्सफोलिएटर की तरह काम करता है।  यह रोम छिद्रों को साफ करता है जिससे त्वचा के रोम छिद्र खुल जाते हैं। पसीने के जरिये शरीर के हानिकारक विषैले पदार्थ बाहर निकलते हैं। इन विषैले पदार्थों के कारण कील, मुंहासे और अन्य त्वचा रोग होने की संभावना रहती है। पसीने के द्वारा शरीर की सारी गंदगी और बैक्टीरिया बाहर निकल जाते हैं। 

3. रासायनिक उन्मूलन (Chemical Elimination)- हमारे शरीर में कुछ ऐसे कार्बनिक रसायन होते हैं जिनका स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। पसीना इन रसायनों को खत्म करके हमारे स्वास्थ की रक्षा करता है। 

4. रक्त संचार बढ़ता है (Increases Blood Circulation)- पसीने के जरिये जब विषैले पदार्थ, गंदगी और बैक्टीरिआ निकलते है तब त्वचा को ज्यादा रक्त की आवश्यकता होती है जिससे पूरे शरीर में रक्त संचार की प्रक्रिया तेज होने लगती है। रक्त संचार बढ़ने लगता है। 

ये भी पढ़े- अंडरआर्म्स का कालापन दूर करने के उपाय

5. मूड को अच्छा बनाता है (Lifts the Mood)- जब वर्कआउट करते हैं या कोई कोई भारी काम करते हैं जिसमें शारीरिक मेहनत ज्यादा हो तो खूब पसीना आता है। यही परिश्रम शरीर में अधिक एंडोर्फिन छोड़ने में मदद करता है, जोकि एक हैप्पी हार्मोन है और हम अंदर से खुशी महसूस करते हैं कि हमारी मेहनत सफल हो गई, किसकी वजह से, पसीना बहाने की वजह से। इस कारण मूड खुशनुमा रहता है। 

6. बालों के लिये फायदेमंद (Beneficial for Hair)- जब पसीना आता है तब सिर में भी भरपूर पसीना आता है जिससे स्कैल्प के रोम छिद्र भी खुल जाते हैं, जो बालों के विकास को बढ़ाने में मदद करते हैं। यदि सिर के बाल पूरी तरह भीग जायें तो हल्के शैम्पू से धो लेना चाहिये अन्यथा इससे स्कैल्प में खुजली की समस्या हो सकती है। 

7. नैचुरल ग्लो (Natural Glow)- पसीने के द्वारा रक्त संचार ठीक होने से आंतरिक चमक आती है तो वहीं बाहर से पसीने से त्वचा साफ होती रहती है। इससे त्वचा में नमी बनी रहती है, नर्म रहती है और प्राकृतिक रूप से चमकदार दिखती है।

पसीने की बदबू दूर करने के उपायHome Remedies to Get Rid of Bad Sweat

1. आलू (Potato)- अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू से छुटकारा पाने के लिए आलू  बेहतरीन विकल्प है। आलू में सूक्ष्म बैक्टीरिया को नष्ट करने वाला एंटीमाइक्रोबियल प्रभाव पाया जाता है जो पसीने का कारक बैक्टीरिया को खत्म कर देता है।  इसके अतिरिक्त आलू एंटीवायरल और एंटीफंगल होता है। पसीने की बदबू दूर करने के लिये आलू के पतले स्लाइस काटकर अंडरआर्म्स में रगड़िये। बाद में सूखने पर पानी से धो लें। 

2. टमाटर का रस (Tomato Juice)- टमाटर प्राकृतिक एंटीऑक्‍सीडेंट्स से भरपूर होता है। टमाटर पसीने की बदबू का कारक बैक्टीरिया को खत्म करता है। रात का भोजन करने से पहले टमाटर का जूस पीयें। टमाटर के स्लाइस काट कर अंडरआर्म्स में रगड़ें या इसका जूस निकालकर लगाकर 10-15 मिनट तक मसाज करें। बाद में पानी से धो लें।

3. खीरा (Cucumber)- खीरा भी एंटीऑक्‍सीडेंट्स गुणों से भरपूर होता है। यह शरीर से बैक्टीरिया को खत्म करता है जिससे पसीने की बदबू से राहत मिलती है। नहाने के बाद अंडरआर्म्स पर खीरे के स्लाइस काट कर रगड़िये।  

ये भी पढ़े- खीरा खाने के फायदे

4. गुलाब जल (Rose Water)- दो चम्मच गुलाब जल में दो बूंद ट्री ऑयल मिलाकर रुई की सहायता से अंडरआर्म्स में लगायें। नहाने के लिये भी पानी के टब में  गुलाब जल मिलायें। यदि सिर से पसीने की बदबू आती है तो एक कप पानी में गुलाब जल और नींबू रस मिलाकर बालों को धोयें। 

5. नींबू (Lemon)- नींबू अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू दूर करने का बहुत ही अच्छा विकल्प है। इसमें भी एंटीमाइक्रोबियल, सूक्ष्म बैक्टीरिया को नष्ट करने वाले गुण होते हैं जो अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू का कारक बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद करते हैं। नींबू का रस निकाल कर अंडरआर्म्स पर लगायें और सूखने दें। सूखने के बाद पानी से धो लें। या नींबू का एक-एक टुकड़ा अंडरआर्म्स में 15-20 मिनट तक लगाये रखें। पसीने की बदबू बिल्कुल नहीं आयेगी और सारा दिन नींबू की खुश्बू आती रहेगी।

6. सेब का सिरका (Apple Vinegar)- सेब का सिरका, अंडरआर्म्स से पसीने की बदबू भगाने का अच्छा उपाय है। एक कप में थोड़ा सा पानी, थोड़ा सा सेब का सिरका और आधा चम्मच नींबू का रस मिलाकर स्प्रे वाली बोतल में भर लें। नहाने के बाद और कपड़े पहनने से पहले इसका स्प्रे अंडरआर्म्स में करें। इससे बैक्टीरिया नहीं पनपेगा और ना ही पसीने की बदबू आयेगी। दुबारा इसे कभी भी स्प्रे कर सकते हैं। 

7. एलोवेरा (Aloe Vera)- एलोवेरा  एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है। पसीने की बदबू से राहत पाने के लिये यह  एक अच्छा घरेलू उपाय है। इसके जैल को, एक चौथाई कप, पीना और लगाना दोनों ही फायदेमंद हैं। रात को सोने से पहले एलोवेरा जैल अंडरआर्म्स पर लगायें और अगले दिन सुबह पानी से धो लें। 

ये भी पढ़े- एलोवेरा के फायदे और नुकसान

8.फिटकरी (Alum)- फिटकिरी को कुछ सेकंड के लिये पानी में भिगो दें व। फिर इसे दोनों अंडरआर्म्स पर रगड़ें। पसीने की बदबू नहीं आयेगी। 

9. ब्‍लैक टी (Black Tea)- ब्‍लैक टी में टैनिक एसिड होता है जिसमें एंस्‍ट्रीजेंट और एंटीडिप्रेसेंट गुण पाये जाते हैं। ये गुण पसीने की बदबू को कम करने में मदद करते हैं। एक कप गर्म पानी में 2 ब्‍लैक टी के टी बैग्‍स डालें और इसे 10 मिनट के लिये ढक दें। 10 मिनट बाद  टी बैग निकाल लें, चाय पी लें और निकाले गए टी बैग्‍स को अपने अंडरआर्म्स में 5 मिनट के लिये दबाकर रखें। ऐसा रोजाना करें। पर, ध्यान रहे टी बैग्स बहुत ज्यादा गर्म ना हों। 

10. टी ट्री ऑयल (Tea Tree Oil)- इस ऑयल में प्राकृतिक एस्‍ट्रीजेंट और एंटीसेप्‍टिक गुण होते हैं जो पसीने की ग्रन्थि को छोटा कर देता है और बैक्‍टीरिया पैदा नहीं होने देता। इसमें एंटी-माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं जो  अंडरआर्म्स में बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करते हैं। एक चम्मच पानी में दो बूंद टी ट्री ऑयल की मिलाकर, रूई की मदद से दोनों अंडरआर्म्स पर लगायें। इसे ज्यादा मात्रा में बनाकर स्प्रे बोतल में भर कर रख सकते हैं। या एक छोटी चम्मच ऑलिव ऑइल या नारियल तेल में 5 बूंद टी ट्री ऑइल मिलाकर अंडरआर्म में लगायें। ऐसा रोजाना कर सकते हैं।

12. नारियल तेल (Coconut Oil)- नारियल तेल में पाये जाने वाला Lauric acid पसीना रोकने के साथ-साथ पसीने की बदबू को भी रोकता है।  दो चम्मच कपूर में 4 चम्‍मच नारियल तेल मिला कर पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट को अंडरआर्म्स पर लगा कर कुछ देर मसाज करें। फिर आधा घंटे धो लें। 

13. अरंडी का तेल (Castor Oil)- अरंडी के तेल में एंटीबैक्टीरियल गुण पाया जाता है जो अंडरआर्म्स में बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करता है। रात को सोने से पहले अंडरआर्म्स में अरंडी का तेल लगायें। अगले दिन सुबह धो लें। 

14. बेकिंग सोडा (Baking Soda)- बेकिंग सोडा में एंटीबैक्टीरियल गुण  पाये जाते हैं जो बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट कर देते हैं। अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू रोकने के लिये इसका निम्न प्रकार उपयोग कर सकते हैं –

(i)  बेकिंग सोडा और नींबू के रस को बराबर मिलाकर, नहाने से पहले अंडरआर्म्स में 5-7 मिनट के लिये लगा कर रखें। बाद में नहालें। 

(ii) बेकिंग सोडा और मकई के आटे को मिक्स करके, पेस्ट बनाकर अंडरआर्म्स में 10-15 मिनट के लिये लगायें। बाद में पानी से धो दें। 

(iii) बेंकिग सोडा और टैलकम पाउडर का मिक्स कर पेस्ट बना कर इसे अंडरआर्म्स में और 10-15 मिनट तक लगायें। बाद में पानी से धो लें। 

Conclusion – 

दोस्तो, आज के लेख में हमने आपको पसीने की बदबू दूर करने के उपाय के बारे में विस्तार से जानकारी दी। पसीना क्या होता है, पसीना क्यों आता है?, पसीने की बदबू क्या होती है?, पसीने में बदबू के क्या कारण होते हैं, इन सबके बारे में भी विस्तारपूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस लेख के माध्यम से यह भी बताया कि पसीना आने के फायदे क्या होते हैं और अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू दूर करने के बहुत सारे देसी उपाय भी बताये। आशा है आपको ये लेख अवश्य पसन्द आयेगा। 

दोस्तो, इस लेख से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो लेख के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह लेख आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और  सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health- Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह लेख केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर उत्तरदायी नहीं है।  कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
पसीने की बदबू दूर करने के उपाय
Article Name
पसीने की बदबू दूर करने के उपाय
Description
दोस्तो, आज के लेख में हमने आपको पसीने की बदबू दूर करने के उपाय के बारे में विस्तार से जानकारी दी। पसीना क्या होता है, पसीना क्यों आता है?, पसीने की बदबू क्या होती है?, पसीने में बदबू के क्या कारण होते हैं, इन सबके बारे में भी विस्तारपूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस लेख के माध्यम से यह भी बताया कि पसीना आने के फायदे क्या होते हैं और अंडरआर्म्स में पसीने की बदबू दूर करने के बहुत सारे देसी उपाय भी बताये।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo
error: Content is protected !!