Advertisements

ब्लैक वाटर पीने के फायदे – Benefits of Drinking Black Water in Hindi

ब्लैक वाटर पीने के फायदे

स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, आप में से कुछ लोग ने ब्लैक वाटर पीते होंगे और अधिकतर लोगों ने बड़े-बड़े सिलेब्रिटीज़, उद्योगपति, प्रसिद्ध खिलाड़ियों आदि के नाम सुने होंगे जो ब्लैक वाटर पीते हैं। ब्लैक वाटर जिसमें मिनरल्स की अधिकता होती है, potential of Hydrogen (pH) स्तर साधारण पानी से अधिक होता है और इसका रंग काला नजर आता है। पीने वाले इसे स्वास्थ के लिये अच्छा मानते हैं यहां तक कि इसे एनर्जी बूस्टर का दर्जा देते हैं। आखिर इस ब्लैक वाटर में ऐसी क्या विशेषता है जो इसे साधारण पानी से अलग करती है और स्वास्थ के लिए लाभदायक होता है। दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक है “ब्लैक वाटर पीने के फायदे”

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आज आपको ब्लैक वाटर के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बताएगा कि इसे पीने के क्या फायदे होते हैं। तो, सबसे पहले जानते हैं कि ब्लैक वाटर क्या है और इसके स्रोत क्या हैं। फिर, इसके बाद बाकी बिन्दुओं पर जानकारी देंगे।

ब्लैक वाटर क्या है? – What is Black Water?

Advertisements

दोस्तो, ब्लैक वाटर वस्तुतः क्षारीय (Alkaline) पानी है जिसमें खनिज प्रचुर मात्रा में उपस्थित होते हैं। ब्लैक वाटर का उत्पादन करने वाली कंपनियों का दावा है कि वे अपने उत्पादन में 70 से अधिक खनिज मिलाती हैं। मुख्य रूप से इसमें पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, बाइकार्बोनेट, सोडियम, आयरन, बेरियम, बेरिलियम, जिंक, फास्फोरस जैसे खनिज होते हैं। क्षारीय होने के कारण इसका रंग काला होता है, इसलिए इसको ब्लैक वाटर कहते हैं। 

ब्लैक वाटर का potential of Hydrogen (pH) लेवल 8+ होता है इस कारण भी इसका पानी काले रंग का दिखाई देता है। ब्लैक वाटर को एनर्जी ड्रिंक या फिटनेस ड्रिंक भी कहते हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटीडायबिटिक, एंटीओबेसिटी, एंटीएजिंग आदि गुण पाए जाते हैं। इसे पाचन तंत्र तथा त्वचा स्वास्थ के लिए बेहतरीन माना जाता है। 

ब्लैक वाटर के स्रोत – Sources of Black Water

Advertisements

ब्लैक वाटर के दो स्रोत हैं जिनसे हमें ब्लैक वाटर मिलता है। एक है प्राकृतिक स्रोत और दूसरा है कृत्रिम स्रोत। विवरण निम्न प्रकार है। 

1. प्राकृतिक स्रोत (Natural Source)- प्राकृतिक स्रोत में पहाड़ों/चट्टानों से झरने के रूप में गिरने वाला पानी सर्वोत्तम होता है। यह पानी बहते-बहते खनिजों को अपने में आत्मसात (absorb) कर लेता है। इस कारण इसका pH लेवल बढ़ जाता है। गांव में बहुत पुराने कूंऐ का पानी भी इस श्रेणी का हो सकता है। परन्तु प्राकृतिक स्रोत वाले पानी का रंग काला नहीं होता। 

2. कृत्रिम स्रोत (Artificial Source)- यह पानी संशोधित (modified) होता है जो फैक्ट्रीज़ में रासायनिक प्रक्रिया द्वारा तैयार किया जाता है। इसे विद्युतपघटन (electrolysis) कहते हैं। इस तकनीक में साधारण पानी के pH लेवल को बढ़ाया जाता है जिसके लिए, बिजली से चलने वाला आइओनिजर (ionizer) नामक उपकरण का उपयोग किया जाता है। यह उपकरण, पानी के अधिक अम्लीय (acidic) और अधिक क्षारीय (alkaline) अणुओं (molecules) को अलग-अलग कर देता है। फिर, इसके बाद अम्लीय पानी को बाहर निकाल देते हैं। इस बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि ऐसे दावे गुणवत्ता अनुसंधान द्वारा समर्थित नहीं हैं।

ये भी पढ़े- डार्क चॉकलेट के फायदे

ब्लैक वाटर और साधारण पानी में अंतर – Difference between Black Water and Normal Water

pH लेवल से खाद्य या पेय पदार्थ से अम्लीय (acidic) या क्षारीय (alkaline) होने का पता चलता है। pH, 0 से 14 के बीच होता है। साधारण और शुद्ध पानी का pH लेवल 6-7 के बीच होता है, इसे तटस्थ (neutral) अवस्था कहते हैं परन्तु ब्लैक वाटर का 7 से अधिक यानि 8 या 8+ होता है। ब्लैक वाटर में खनिज भी अधिक होते हैं। माना जाता है कि ब्लैक वाटर से व्यक्ति अधिक स्वस्थ रहता है। ब्लैक वाटर का रंग काला दिखाई देता है। साधारण पानी का नहीं। 

ब्लैक वाटर का स्वाद – Taste of Black Water

देसी हैल्थ क्लब स्पष्ट करता है ताकि कोई गलतफहमी में ना रहे कि ब्लैक वाटर का स्वाद कोई विशेष प्रकार का नहीं होता। इसका स्वाद साधारण पानी के समान ही होता है। 

ब्लैक वाटर कितना सुरक्षित है? – How Safe is Black Water?

दोस्तो, जहां तक ब्लैक वाटर के सुरक्षित होने का मसला है या ब्लैक वाटर निर्माताओं का स्वास्थ्य स्थितियों में सुधार का दावे की बात है तो यह समझ लीजिए कि इसकी कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाणिकता नहीं हैं कि इससे स्वास्थ्य स्थितियों में सुधार होता है। 

मेडिकल एक्सपर्ट तो ब्लैक वाटर निर्माताओं के इस प्रकार के दावों पर विश्वास न करने की चेतावनी भी देते हैं। मेडिकल एक्सपर्ट प्राकृतिक स्रोत से प्राप्त पानी को सुरक्षित मानते हैं क्योंकि इसमें प्राकृतिक खनिज होते हैं। कृत्रिम ब्लैक वाटर के लिये सावधानी बरतने की जरूरत की सलाह देते हैं।

ब्लैक वाटर की कीमत – Black Water Price

दोस्तो, ब्लैक वाटर का उत्पादन करने वाली अनेक कंपनियां हैं जिनमें से भारत में इवोकस कंपनी के ब्लैक वाटर की डिमांड सबसे ज्यादा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि जहां साधारण मिनरल वाटर की 500 मिली.लीटर की बोतल केवल 10 रुपये में मिल जाती है, वहीं इवोकस कंपनी के ब्लैक वाटर की 500 .की बोतल की कीमत 100 रुपये है यानि कीमत में सीधा 10 गुणा का अंतर। 

ब्लैक वाटर कौन पीते हैं? – Who Drinks Black Water

दोस्तो, ऊपर बताई गई ब्लैक वाटर और साधारण मिनरल वाटर बोतल की कीमत के अंतर से यह स्पष्ट हो जाता है कि ब्लैक वाटर खरीदना आम आदमी की पहुंच से बाहर है। यहां तक कि मिडिल क्लास की खरीद की क्षमता से भी बाहर है। फिर इसे कौन लोग पीते हैं? यहां हम स्पष्ट कर दें कि खरीद क्षमता होते हुए भी सभी धनाढ्य वर्ग (wealthy class) के लोग इसे खरीदना पसंद नहीं करते। ब्लैक वाटर पीने वालों में अधिकतर निम्नलिखित लोग होते हैं –

1. खिलाड़ी लोग जिनमें अधिकतर क्रिकेट प्लेयर्स होते हैं। धावक (Runners), टेनिस प्लेयर्स, बैडमिंटन प्लेयर्स, तैराक, घुड़सवार, मुक्केबाज आदि। पहलवान लोग अधिकतर साधारण पानी पीना पसंद करते हैं। 

2. कुछ फिल्मी सितारे। इनमें कुछ दिखावा करने वाले भी हो सकते हैं और कुछ ऐसे सितारे भी, जो लोकप्रियता हासिल करने की होड़ में रहते हैं या किसी ना किसी बहाने पब्लिक के बीच अपने आप को बनाये रखना चाहते हैं, चाहे वित्तीय स्थिति (Financial situation) कुछ भी हो। 

3. कुछ शीर्ष स्तर के अधिकारी (Top level officials)।

4. जिम में जाकर एक्सरसाइज करने वाले कुछ धनी वर्ग के लोग और कुछ बॉडी बिल्डर।

5. अपनी अमीरी का दिखावा करने वाले लोग। इनमें अधिकतर ऐसे लोग होते हैं जो ताजा-ताजा अमीर बने होते हैं जैसे कि किसी को जमीन का सरकारी मुआवजा मिला हो या जायदाद के बंटवारे का हिस्सा मिला हो या पुरखों की जायदाद मिली हो। इनमें से कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनको “धनी बाप की बिगड़ी औलाद” कहा जाता है। संभ्रांत कुल (elite clan) के व्यक्ति कभी अपनी अमीरी का दिखावा नहीं करते। 

ब्लैक वाटर कितना पी सकते हैं? – How much Black Water Can you Drink?  

ब्लैक वाटर का लाभ लेने के लिए लगभग 500 मिली लीटर तक इसे पीया जा सकता है।

ब्लैक वाटर पीने के फायदे – Benefits of Drinking Black Water

अब बताते हैं आपको ब्लैक वाटर पीने के फायदे जो निम्न प्रकार हैं :-

1. एनर्जी दे (Give Energy)- एक्सपर्ट्स का मानना है कि ब्लैक वाटर पीने से शरीर में एनर्जी आती है। जिम में कड़ी एक्सरसाइज करने के बाद या खिलाड़ियों द्वारा खेल प्रदर्शन के बाद थकावट आना स्वाभाविक है। ब्लैक वाटर पीने के बाद यह एनर्जी बूस्टर के रूप में काम करते हुए शरीर में थकावट दूर करता है, इससे मांसपेशियों को आराम मिलता है।

2. शरीर को डिटॉक्स करे (Detox the Body)- ब्लैक वाटर के एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर से अल्कोहल जैसे हानिकारक पदार्थ तथा विषैले पदार्थों को बाहर निकाल कर शरीर की अंदर से सफाई करता है। इस बात को एक शोध में भी माना गया है। इसके अतिरिक्त ब्लैक वाटर, इम्युनिटी को भी बढ़ाने में मदद करता है।

3. वजन कम करे (Lose Weight)- यदि अपना वजन कम करना चाहते हैं तो ब्लैक वाटर एक उत्तम विकल्प है। इसमें  एंटीओबेसिटी गुण मौजूद होते हैं, ये फैट को जलाने (Burn) करने में सक्रिय भूमिका निभाते हैं। इस बात को की पुष्टि वर्ल्ड जर्नल ऑफ गैस्ट्रोएंट्रोलाजी के एक शोध से भी होती है जिसमें यह उल्लेख किया गया है कि इलेक्ट्रोलाइज्ड एल्केलाइन वाटर में एंटीओबेसिटी अर्थात् मोटापा कम करने वाला प्रभाव पाया जाता है। 

4. एसिडिटी से राहत दिलाए (Relieve Acidity)- ब्लैक वाटर, एसिडिटी की समस्या जिसे एसिड रिफ्लेक्स (Acid Reflux) कहा जाता है, से राहत दिलाने में मदद करता है। इससे कब्ज, अपच, पेट फूलना, पेट में दर्द, मरोड़ आदि से छुटकारा मिल जाता है। 

5. डायबिटीज को कंट्रोल करे (Control Diabetes)- ब्लैक वाटर में एंटीडायबिटिक गुण मौजूद होते हैं जो डायबिटीज को कंट्रोल करने का काम करते हैं। इससे डायबिटीज के मरीजों को राहत मिलती है। यह शरीर में मौजूद मुक्त कणों को कम करते हुए, शरीर को अनेक समस्याओं से बचाता है। 

6. ब्लड प्रैशर कंट्रोल करे (Control Blood Pressure)- ब्लैक वाटर के फायदे हाई ब्लड प्रैशर को कम करने और इसका सामान्य स्तर बनाए रखने में भी देखे जा सकते हैं। यह ब्लड प्रैशन को कंट्रोल करता है। यह ब्लड के गाढ़ेपन को पतला करने में मदद करता है। निचले स्तर पर ब्लड के गाढ़ेपन की समस्या, जिसे सिस्टोलिक ब्लड विस्कोसिटी कहा जाता है, हाई ब्लड प्रैशर से संबंधित है जिससे ब्लैक वाटर राहत दिलाता है। 

ये भी पढ़ें- हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू इलाज

7. कैंसर की संभावना को दूर करे (Eliminate the Possibility of Cancer)- दोस्तो, शरीर में pH लेवल की कमी होने से टेलोमर्स (telomeres) की कमी हो जाती है जिसके परिणाम स्वरूप कोशिकाओं को क्षति होती है। कोशिकाओं की क्षति कैंसर को जन्म देती है। टेलोमर्स, डीएनए का मुख्य भाग होते हैं। ये क्रोमोसोम्स को सुरक्षा प्रदान करते हैं। ब्लैक वाटर शरीर में टेलोमर्स की संख्या बढ़ाने में सक्रिय भूमिका निभाता है। टेलोमर्स की अधिकता कैंसर होने की संभावना को दूर करते हैं। ब्लैक वाटर ओवेरियन सिस्ट और ट्यूमर के विकास को रोकने में भी मदद करता है। 

8. आंखों के सूखापन को दूर करे (Remove Dryness of Eyes)- शरीर में पानी की कमी के कारण त्वचा के साथ-साथ आंखों की नमी भी कम हो जाती है, आंखों में सूखापन आ जाता है। इसे ड्राई आइज सिंड्रोम (Dry eyes syndrome) कहते हैं। ब्लैक वाटर के सेवन से इस समस्या से राहत पाई जा सकती है। ब्लैक वाटर के एंटीऑक्सीडेंट गुण आंखों के सूखापन को दूर कर, नमी बहाल करने का काम करते हैं। 

9. हड्डियों को मजबूत बनाए (Strengthen Bones)-  कैल्शियम, फॉस्फोरस, मैग्‍नीशियम, आयरन, ज़िंक जैसे खनिज हड्डी खनिज घनत्व (bone mineral density) को बढ़ाने का काम करते हैं, इस कारण हड्डियों को मजबूती मिलती है और ऑस्टियोपोरोसिस जैसे गंभीर अस्थि रोग होने का खतरा नहीं रहता। ब्लैक वाटर में ये सभी खनिज पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करते हैं।

10. गर्भावस्था में फायदेमंद (Beneficial in Pregnancy)- ब्लैक वाटर को गर्भवती महिलाओं के लिये अत्यंत लाभकारी माना जाता है। इससे शरीर में पानी की कमी नहीं होती और नमी बनी रहती है। यह घुलनशील विटामिन्स को अवशोषित करता है जिससे गर्भवती महिला में विटामिन की कमी नहीं होती। इससे आयरन तत्व भी मिल जाता है जिससे रक्त की कमी नहीं होती। इससे महिला को कब्ज़, गैस आदि की समस्या नहीं होती। 

11. त्वचा के लिए फायदेमंद (Beneficial for Skin)- ब्लैक वाटर त्वचा के लिए भी लाभदायक होता है। इसके पीने से त्वचा में नमी बनी रहती है। त्वचा में प्राकृतिक निखार आता है। ब्लैक वाटर के एंटीऑक्सीडेंट और एंटीएजिंग गुण, बढ़ती उम्र के लक्षणों की गति को कम करने में मदद करते हैं, चेहरे की झुर्रियां, फाइनलाइन्स को कम करते हैं। यह सूर्य की हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाव करते हैं।

12. बालों को स्वस्थ रखे (Keep Hair Healthy)- ब्लैक वाटर में मौजूद स्ट्रोंटियम, कैल्शियम, मोलिब्डेनम, सेलेनियम, आयरन, ज़िंक तथा अन्य खनिज बालों के स्वास्थ को बनाए रखने में मदद करते हैं। इनसे बालों की जड़ें मजबूत बनती हैं, परिणाम स्वरूप बालों का झड़ना रुक जाता है और समय से पहले बाल काले भी नहीं होते। 

ये भी पढ़ें- बालों को सिल्की बनाने के घरेलू उपाय

ब्लैक वाटर के नुकसान – Side Effects of Black Water

सटीक प्रमाण ना होने के कारण ब्लैक वाटर के फायदे और नुकसान स्पष्ट रूप से नहीं कहे जा सकते। हां, कुछ लोगों को इसके कई नकारात्मक दुष्प्रभाव अनुभव हुए हैं, जिनका जिक्र हम आगे करेंगे। कुछ रिसर्च भी यह बताती हैं कि लंबे समय तक ब्लैक वाटर का सेवन करने के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। जानते हैं कुछ एक्सपर्ट्स की राय –

1. यूनिवर्सिटी ऑफ़ तुर्कु, फिनलैंड की प्रोफ़ेसर मरीना मर्न ने अपनी रिसर्च में बताया है कि ब्लैक वाटर के अधिक सेवन से उल्टी की समस्या हो सकती है तथा शरीर के भीतर मौजूद तरल पदार्थों के पीएच लेवल में परिवर्तन हो सकते हैं।

2. आहार विशेषज्ञ, नीता दिलीप का कहना है कि मिनरल्स का अधिक उपयोग स्वास्थ के लिए ठीक नहीं है। उनके अनुसार मिनरल्स स्वास्थ के लिए अच्छे माने जाते हैं परन्तु मिनरल्स का अधिक उपयोग शरीर के लिए विषैला बन सकता है तथा मिनरल्स की कमी के कारण बीमारियां भी हो सकती हैं। 

कैल्शियम की अधिक मात्रा से हायपरकैल्शियम हो सकता है और आयरन की अधिकता से हैमोक्रोमैटोसिस हो सकता है। अतः इसलिए कोई भी मिनरल का ओवरडोज़ जानलेवा हो सकता है।

नकारात्मक दुष्प्रभाव अनुभव जो ब्लैक वाटर के सेवन के बाद अनुभव किए गए –

1. जी मिचलाना, उल्टी होना।

2. सिर में दर्द, चक्कर आना।

3. घबराहट महसूस करना।

4. पेट में गैस बनना।

5. मांसपेशियों में ऐंठन।

6. हाथ-पैरों और चेहरे पर झुनझुनी।

Conclusion – 

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको ब्लैक वाटर पीने के फायदे  के बारे में विस्तार से जानकारी दी। ब्लैक वाटर क्या है?, ब्लैक वाटर के स्रोत, ब्लैक वाटर और साधारण पानी में अंतर, ब्लैक वाटर का स्वाद, ब्लैक वाटर कितना सुरक्षित है, ब्लैक वाटर की कीमत, ब्लैक वाटर कौन पीते हैं और ब्लैक वाटर कितना पी सकते हैं, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से ब्लैक वाटर पीने के बहुत सारे फायदे बताये और कुछ नुकसान भी बताये। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा। 

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
Advertisements
ब्लैक वाटर पीने के फायदे
Advertisements
Article Name
ब्लैक वाटर पीने के फायदे
Description
दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको ब्लैक वाटर पीने के फायदे  के बारे में विस्तार से जानकारी दी। ब्लैक वाटर क्या है?, ब्लैक वाटर के स्रोत, ब्लैक वाटर और साधारण पानी में अंतर, ब्लैक वाटर का स्वाद, ब्लैक वाटर कितना सुरक्षित है, ब्लैक वाटर की कीमत, ब्लैक वाटर कौन पीते हैं और ब्लैक वाटर कितना पी सकते हैं, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

One thought on “ब्लैक वाटर पीने के फायदे – Benefits of Drinking Black Water in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *