Advertisements

तेज पत्ता खाने के फायदे – Benefits of Eating Bay Leaf in Hindi

तेज पत्ता खाने के फायदे

दोस्तो, कहा जाता है कि सूखे फूल और सूखे पत्ते किसी काम के नहीं होते लेकिन एक पत्ता ऐसा भी है जो सूखने पर ही अपने गुण प्रदान करता है। इस पत्ते का नाम है तेज पत्ता।  तेज पत्ता एक ऐसा पत्ता है जो भोजन में एक अनूठी मनमोहक सुगंध बखेर देता है, एक ऐसा पत्ता जिसका उपयोग शाकाहारी और मांसाहारी दोनों ही प्रकार के व्यंजन बनाने के लिये भारत सहित पूरे विश्व में इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसके गुण केवल भोजन को स्वादिष्ट बनाने और सुगंध महकाने तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि इसमें औषधिय गुण भी होते हैं तो कई बीमारियों को दूर कर स्वास्थ को सही बनाये रखते हैं। आखिर ऐसा क्या है इस तेज पत्ता में। दोस्तो, यही है हमारा आज का टॉपिक “तेज पत्ता खाने के फायदे”। 

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आज आपको तेज पत्ता के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बताएगा कि इसके फायदे क्या हैं। तो, सबसे पहले एक स्पष्टीकरण, फिर जानते हैं कि तेज पत्ता क्या है और इसकी खेती कहां होती है। फिर, इसके बाद बाकी बिन्दुओं पर जानकारी देंगे।

स्पष्टीकरण – The Explanation

देसी हैल्थ क्लब स्पष्ट करता है कि तेज पत्ता के सेवन से तात्पर्य है कि भोजन में इसका सत, गुणों और सुगंध का समाहित हो जाना। भोजन के द्वारा तेज पत्ता का परोक्ष (Indirect) रूप में सेवन किया जाता है। यह हमेशा ध्यान रखें कि भोजन करने से पहले भोजन में से तेज पत्ता निकाल देना चाहिए। 

Advertisements

इसे खाना नहीं चाहिए ऐसा क्योंकि यह गले में अटक सकता है, इसके किनारे धारदार होते हैं जो गले में फंस कर गले को अंदर से घायल कर सकते हैं। यदि किसी तरह इसे सटक भी लिया तो अंदर आंतों को घायल कर सकता है क्योंकि यह पचने में बेहद कठिन होता है।

तेज पत्ता क्या है? – What is a Bay Leaf

दोस्तो, तेज पत्ता एक ऐसा पत्ता है जो सूखने के बाद मसाले की श्रेणी में आता है। इसका उपयोग सामान्य तौर पर व्यंजनों का स्वाद और उनकी खुशबू बढ़ाने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग लगभग विश्व के हर देश की रसोई में होता है। तेज पत्ता को आमतौर पर तेजपात कहा जाता है। तेज पत्ते का उपयोग व्यंजनों में और औषधि के रूप में लगभग एक हजार वर्ष से किया जा रहा है।

इसकी लगभग 2500 प्रजातियां हैं जिसमें से ज्यादातर एशिया तथा दक्षिण व उत्तरी अमेरिका में पाई जाती हैं। तेज पत्ते का पौधा एक सदाबहार झाड़ी है। इस पौधे की समय-समय पर छंटाई करते रहना पड़ता है तो यह झाड़ी के रूप में बढता है अन्यथा यह एक वृक्ष के रूप में 10-60 फीट लंबा, 5-20 फीट चौड़ा हो जाता है। इसके पत्ते नुकीले अंडाकार, चमकदार हरे रंग के होते हैं जो यूकेलिप्टस की पत्तियों जैसे दिखते हैं। तेज पत्ता के पौधे में वसंत ऋतु में छोटे हल्के पीले रंग के फूल आते हैं। इसका फल बेर की भांती छोटे आकार का लगभग एक से।मी।लंबा होता है और इसका रंग बैंगनी होता है। 

Advertisements

तेज पत्ता के पौधों को आमतौर पर कंटेनरों में लेयरिंग या कलम के जरिए उगाया जाता है क्योंकि बीज से उगाना अत्यंत कठिन होता है और इसकी विकास की गति भी बहुत कम होती है।  इसे उगाते समय गर्मियों में आँगन या डेक पर रखा जाता है तथा सर्दियों के लिए घर के अंदर ले जाना पड़ता है। ये पौधे सामान्य तौर पर 20 या उससे भी अधिक वर्षों तक रहते हैं। इनकी सही से देखभाल होते रहने पर ये खुले मैदानों में 50 वर्षों तक भी रह सकते हैं। तेज पत्ता लॉरेसीज़ (Lauracease) परिवार से संबंध रखता है। इसका वानस्पतिक नाम लॉरस नोबिलिस (laurus nobilis) है और अंग्रेजी में इसे बे लॉरेल (Bay Laurel) कहा जाता है।

तेज पत्ता की खेती कहां होती है? – Where is Bay Leaf Cultivated?

1. विश्व में टर्की तेज पत्ता के निर्यातकों में से एक प्रमुख निर्यातक है। टर्की के अतिरिक्त फ्रांस, बेल्जियम, इटली, रूस, मध्य अमेरिका, उत्तर अमेरिका तेज पत्ता का उत्पादन करते हैं। 

2. भारत के उत्तर प्रदेश, बिहार, केरल, कर्नाटक, मेघालय, अरूणाचल प्रदेश तथा नागालैण्ड राज्यों में तेज पत्ता की खेती की जाती है।

ये भी पढ़े- मौसमी जूस पीने के फायदे

तेज पत्ता के गुण – Property of Bay Leaf

1. तेज पत्ता की तासीर तीक्ष्ण और गर्म होती है।

2. तेज पत्ते तिक्त होते हैं और इनका स्वाद तेज, कड़वा होता है।

3. तेज पत्ता में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीइंफ्लेमेटरी, एंटीफंगल, एंटीबैक्टीरियल, एंटीप्रोलिफेरेटिव, एस्ट्रिंजेंट, साइटोटॉक्सिक आदि गुण उपस्थित होते हैं। 

4. तेज पत्ता में विटामिन-ए, बी और सी तथा ज़िंक कॉपर, आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम, मैंगनीज, सेलेनियम आदि पाया जाता है। 

तेज पत्ता के पोषक तत्व मात्रा (प्रति 100 ग्राम) – Nutrient Content of Bay Leaf (per 100 grams)

  • पानी 5.44 ग्राम
  • ऊर्जा : 313 किलो कैलोरी   
  • प्रोटीन : 7.61 ग्राम       
  • कुल फैट : 8.36 ग्राम 
  • कार्बोहाइड्रेट : 74.97 ग्राम
  • डाइटरी फाइबर : 26.3 ग्राम        
  • सोडियम : 23 मि.ग्रा    
  • पोटेशियम : 529 मि.ग्रा 
  • कैल्शियम : 834 मि।ग्रा 
  • कॉपर : 0.416 मि.ग्रा  
  • जिंक : 3.70 मि.ग्रा
  • आयरन : 43 मि.ग्रा       
  • मैग्नीशियम : 120 मि.ग्रा
  • मैंगनीज : 8.167 मि.ग्रा
  • फास्फोरस : 113 मि.ग्रा    
  • सेलेनियम  : 2.8 माइक्रोग्राम
  • फोलेट : 180 माइक्रोग्राम   
  • नियासिन : 2.005 मि.ग्रा 
  • पाइरिडोक्सिन : 1.740 मि.ग्रा
  • राइबोफ्लेविन : 0.421 मि.ग्रा 
  • विटामिन-ए : 6185 आईयू     
  • विटामिन-सी : 46.5 मिलीग्राम 

तेज पत्ता का उपयोग –  Uses of Bay Leaf

तेज पत्ता का निम्न प्रकार से उपयोग किया जा सकता है –

1. सामान्यतः तेज पत्ता का उपयोग, मुख्य रूप से सभी प्रकार के व्यंजनों का स्वाद और खुश्बू बढ़ाने के लिये मसाले के रूप में किया जाता है।

2. सादा चावल, पुलाव, बिरयानी आदि में भी तेज पत्ता का उपयोग किया जाता है।

3. खीर का स्वाद और स्वाद बढ़ाने में भी तेज पत्ता का इस्तेमाल किया जाता है। 

4. तेज पत्ता को सामान्य चाय बनाने के लिये भी चाय में डाला जाता है। 

5. कई लोग ब्लैक टी में भी तेज पत्ता डालते हैं।

6. तेज पत्ता में लगभग 1.3 प्रतिशत आवश्यक तेल (Essential oil) होता है जिसका उपयोग दवाईयां बनाने के लिए किया जाता है।

7. तेज पत्ता का उपयोग अनेक बीमारियों के निवारण के लिए किया जाता है। 

8. इस पौधे की लकड़ी का उपयोग सजावटी वस्तुएं बनाने के लिये भी किया जाता है।

ये भी पढ़े- विटामिन ई ऑयल के फायदे

तेज पत्ता खाने के फायदे – Benefits of Eating Bay Leaf

तेज पत्ता के फायदे निम्न प्रकार हैं –

1. पाचन तंत्र में सुधार करे (Improve Digestive System)- तेज पत्ता का मसाले के रूप में सेवन करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह पाचन तंत्र में सुधार करता है। इसमें फाइबर मौजूद मात्रा में मौजूद होता है जो भोजन को रसदार बनाता है। इससे पाचन तंत्र को भोजन पचाने के लिये अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ती।

यह पाचन प्रक्रिया में विषाक्तता को कम करता है। तेज पत्ते में मौजूद वाष्पशील यौगिकों (abundance of volatile compounds) की भरपूर मात्रा पेट के रोगों का निवारण करती है और चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम (Irritable Bowel Syndrome) का शमन करती है।

2. पेट के लिए फायदेमंद (Good for Stomach)- तेज पत्ता के सेवन का यह भी फायदा होता है कि इससे पेट ठीक रहता है। तेज पत्ता गैस्ट्रिक क्षति को कम करते हुए गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रणाली पर सकारात्मक प्रभाव डालता है। इसके सेवन से पेट की बीमारियों जैसे पेट में दर्द, पेट में गैस बनना, पेट फूलना, सूजन, कब्ज, दस्त आदि से आराम मिल जाता है।

3. हृदय को स्वस्थ रखे (Keep Heart Healthy)- खराब वाला कोलेस्ट्रॉल हृदय धमनियों में प्लाक बना देता है जिससे रक्त प्रवाह अवरुद्ध होने लगता है और हृदय रोग स्ट्रोक, अटैक आदि का खतरा बन जाता है। तेज पत्ता खराब वाले कोलेस्ट्रॉल LDL को कम करने में मदद करता है और अच्छे वाले कोलेस्ट्रॉल HDL के स्तर को बढ़ता है।

इससे हृदय रोगों से सुरक्षित रहता है। तेज पत्ता में उपस्थित कैफीक एसिड और रुटिन जैसे कार्बनिक यौगिक, हृदय के कार्यों और हृदय की मांसपेशियों की गतिविधियों को सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं। 

4. डायबिटीज में फायदेमंद (Beneficial in Diabetes)- तेज पत्ता शक्तिशाली पॉलीफेनोल्स से समृद्ध होता है जो इंसुलिन के कार्य में सुधार कर शुगर स्पाइक्स को कम करने में मदद करते हैं।  ये टाइप 2 डाइबिटीज को विकसित होने के खतरे को रोकने में मदद करते हैं। यह नोटिस किया गया है कि प्रतिदिन 30 दिनों तक 1-3 ग्राम तेज पत्ता का अर्क लेने से डाइबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है। 

ये भी पढ़े- डायबिटीज के घरेलू उपाय

5. कैंसर से बचाव करे (Prevent Cancer)- तेज पत्ता में पाए जाने वाले एंटीप्रोलिफेरेटिव गुण कैंसर कोशिकाओं के विस्तार को रोकने में मदद करते हैं तथा इसके साइटोटॉक्सिक गुण महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर को पनपने से रोकते हैं।

तेज पत्ता में एंटीऑक्सिडेंट गुण तथा कार्बनिक यौगिक जैसे फाइटोन्यूट्रिएंट्स, कैटेचिन आदि प्रचुर मात्रा में होते हैं। ये कैंसर उत्पन्न करने वाले मुक्त कणों के प्रभाव से शरीर को कैंसर से बचाने में मदद करते हैं तथा ब्रेस्ट और कोलोरेक्टल कैंसर के विकास को रोकते हैं। 

6. अस्थमा में फायदेमंद (Beneficial in Asthma)- तेज पत्ता के फायदे अस्थमा में भी देखे जा सकते हैं। तेज पत्ता के अर्क में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण उपस्थित होते हैं। इसके अतिरिक्त एथनॉलिक एक्सट्रैक्ट और कुछ अन्य कंपाउंड भी मौजूद होते हैं जो दर्दनिवारक प्रभाव छोड़ते हैं। ये गुण श्वसन तंत्र में आई सूजन को कम करते हैं।

तेज पत्ता के अर्क में मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण संक्रमण के विरुद्ध लड़कर श्वसन समस्याओं से राहत दिलाते हैं। तेज पत्ता से बने प्रलेप (poultice) को रात भर छाती पर लगाने से छाती में जमे कफ़ ढीला हो जाता है, फेफड़ों में ठहरे हुए बैक्टीरिया का अंत होता है, सांस लेने की परेशानी से राहत मिलती है और फेफड़े मजबूत होते हैं।

7. सूजन कम करे (Reduce Inflammation)– नाइट्रिक ऑक्साइड सूजन को ट्रिगर करता है। तेज पत्ता में मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी गुण नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को कम करते हुए किसी भी प्रकार की सूजन को कम करते हैं। इसमें मौजूद विशिष्ट वाष्पशील यौगिक सेस्क्यूटरपीन लैक्टोन और पार्थेनोलाइड (specific volatile compounds sesquiterpene lactones and parthenolide) सूजन से राहत दिलाने में तथा गठिया के विकास को रोकने में मदद करते हैं। तेज पत्ता के एंटीइंफ्लेमेटरी गुण किस प्रकार श्वसन तंत्र की सूजन को कम करते हैं। यह हम ऊपर बता ही चुके हैं।

8. किडनी समस्याओं से बचाव (Prevention of Kidney Problems)- तेज पत्ता किडनी की समस्याओं से राहत दिला सकता है। इसमें लॉरिक एसिड किडनी की मांसपेशियों को सीधे तौर पर आराम पहुंचाता है। तेज पत्ते के अर्क का उपयोग किडनी और मूत्र नली की पथरी के उपचार के लिये प्राचीन काल से किया जाता रहा है। पथरी की समस्या में तेज पत्ता को पानी में उबालकर ठंडा कर लें और दिन में दो, तीन बार इसे पीएं। आराम लग जाएगा।

9. सर्दी जुकाम में फायदा (Benefits in Cold)- तेज पत्ता में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण संक्रमण के विरुद्ध लड़कर सर्दी, जुकाम, फ्लू, बुखार से राहत दिला सकते हैं। इसके लिये पानी में 4-5 तेज पत्ता डालकर उबालें और भाप लें। इससे बंद नाक भी खुल जाएगी। तेज पत्ता की चाय बनाकर पीएं, इससे बुखार में भी आराम लग जाएगा। 

10. तनाव दूर करे (Relieve Stress)- तनाव, डिप्रेशन और चिंता को दूर करने के लिए तेज पत्ता को मैजिक मसाला के नाम से जाना जाता है। इसमें पाए जाने वाला लिनालूल यौगिक प्राकृतिक रूप से मन को शांत करता है। यह यौगिक सिस्टम में तनाव हार्मोन के लेवल को कम करता है विशेष तौर पर जब इसका उपयोग अरोमाथेरेपी में किया जाता है। अतः तेज पत्ता को नियमित रूप से अपने भोजन में सम्मलित करें। 

11. त्वचा के लिए फायदेमंद (Beneficial for Skin)- तेज पत्ता में एस्ट्रिंजेंट गुण होते हैं जो त्वचा की अंदर से सफाई करते हैं। तेज पत्ता के एसेंशियल ऑयल का उपयोग क्रीम, इत्र, साबुन आदि कॉस्मेटिक वस्तुओं के निर्माण में किया जाता है। इसका उपयोग त्वचा पर पड़े रैशेस, कीड़ों, मच्छरों के काटने से पड़े दागों से छुटकारा पाने के लिये भी किया जाता है।

चेहरे के दाग, धब्बों और मुंहासों से राहत पाने के लिए तेज पत्ता को पानी में उबाल कर पानी को गुनगुना होने तक ठंडा करके चेहरा धोएं। इससे टैनिंग की समस्या भी खत्म हो जाएगी और चेहरे पर प्राकृतिक निखार भी आ जाएगा।

12.  बालों के लिए फायदेमंद (Beneficial for Hair)- तेज पत्ता के एसेंशियल ऑयल का उपयोग डैंड्रफ तथा सोरायसिस, के लोशन में किया जाता है। तेज पत्ता बालों के स्वास्थ के लिये अत्यंत लाभदायक होता है। यह बालों की जड़ों को मजबूत करता है। बालों की चिपचिपाहट को दूर करता है। 

इन सब के लिये कुछ तेज पत्ता लेकर पानी में उबाल लें। इस पानी को ठंडा करके बाल धो लें। इससे बालों में चमक भी आ जाएगी। बालों में डैंड्रफ की समस्या को खत्म करने के लिये तेज पत्ता को पीसकर पाउडर बनाकर दही में मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को खोपड़ी पर लगाकर छोड़ दें। आधा घंटे बाद सिर धो लें। 

ये भी पढ़े- बालों को झड़ने से रोकने के उपाय

तेज पत्ता के नुकसान- Side Effects of Bay Leaf

अब बताते हैं आपको तेज पत्ता के साइड इफेक्ट्स के बारे में जो निम्न प्रकार हैं –

1. जिन लोगों की त्वचा संवेदनशील है उनके लिए तेज पत्ता का एसेंशियल ऑयल एलर्जी का कारण बन सकता है।

2. तेज पत्ता ब्लड शुगर लेवल को बहुत कम कर सकता है इसलिये डाइबिटीज के मरीजों को इस बारे में सावधानी बरतने की जरूरत होती है।

3. तेज पत्ता एनेस्थीसिया की दवाओं के साथ प्रतिक्रिया कर केंद्रीय तंत्रिका तंत्र (Central Nervous System) की कार्य प्रणाली में हस्तक्षेप कर इसे धीमा कर सकता है।  इसीलिए भविष्य में होने वाली सर्जरी से कम से कम 2 सप्ताह पहले मरीज को तेज पत्ता का सेवन या इसके सप्लीमेंट ना लेने की सलाह दी जाती है। 

4. गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को तेज पत्ता या इसके सप्लीमेंट के सेवन के बारे में डॉक्टर से सलाह लेने को कहा जाता है, इसके पीछे का कारण अज्ञात है। 

Conclusion – 

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको तेज पत्ता खाने के फायदे के बारे में जानकारी दी। पहले एक स्पष्टीकरण दिया फिर बताया कि तेज पत्ता क्या है, तेज पत्ता की खेती कहां होती है, तेज पत्ता के गुण, तेज पत्ता के पौष्टिक तत्व और तेज पत्ता का उपयोग, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से तेज पत्ता के बहुत सारे फायदे बताये और कुछ साइड इफेक्ट्स भी बताये। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा। 

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
Advertisements
तेज पत्ता खाने के फायदे
Advertisements
Article Name
तेज पत्ता खाने के फायदे
Description
दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको तेज पत्ता खाने के फायदे के बारे में जानकारी दी। पहले एक स्पष्टीकरण दिया फिर बताया कि तेज पत्ता क्या है, तेज पत्ता की खेती कहां होती है, तेज पत्ता के गुण, तेज पत्ता के पौष्टिक तत्व और तेज पत्ता का उपयोग, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

One thought on “तेज पत्ता खाने के फायदे – Benefits of Eating Bay Leaf in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!