Advertisements

गुलाब जल के फायदे – Benefits of Rose Water in Hindi

गुलाब जल के फायदे

स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर। दोस्तो, आज हम आपको एक ऐसे जल के बारे में बताएंगे जो मीठा है और सुगंधित है परन्तु इसको सीधे तौर पर पीया नहीं जाता। हां, सादा पानी में हल्का सा मिलाकर पी सकते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं गुलाब जल की। गुलाब की पंखुड़ियों को पानी के साथ उबालकर गुलाब जल तैयार किया जाता है। गुलाब जल का उपयोग प्राचीन काल से औषधी और सौन्दर्य प्रसाधन के रूप में तथा धार्मिक अनुष्ठानों में किया जाता रहा है और आज भी किया जाता है। आखिर इस गुलाब जल के फायदे क्या हैं? दोस्तो यही है हमारा आज का टॉपिक “गुलाब जल के फायदे”। 

देसी हैल्थ क्लब इस आर्टिकल के माध्यम से आज आपको गुलाब जल के बारे में विस्तार से जानकारी देगा और यह भी बताएगा इसके क्या फायदे होते हैं। तो, सबसे पहले जानते हैं कि गुलाब जल क्या है और इसका उत्पादन कहां होता है?। फिर इसके बाद बाकी बिंदुओं पर जानकारी देंगे। 

गुलाब जल क्या है? – What is Rose Water?

गुलाब जल, गुलाब की पंखुड़ियों और पानी के सानिध्य से बनाया गया सुगंधित पानी है। इसका उपयोग मुख्यतः सौन्दर्य प्रसाधनों और दवाओं में किया जाता है। इसके अतिरिक्त इसका उपयोग धार्मिक अनुष्ठानों (प्रत्येक धर्म) में भी किया जाता है। गुलाब जल का इस्तेमाल अधिकतर एशिया तथा यूरोप के देशों में किया जाता है। गुलाब जल एक प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट के तौर पर काम करता है।

Advertisements

गुलाब जल का उत्पादन कहां होता है? – Where is Rose Water Produced?

1. गुलाब जल का उत्पादन मुख्यतः एशिया और यूरोप के देशों में होता है। ईरान का गुलाब जल के विश्व उत्पादन में 90 प्रतिशत हिस्सा है।

2. भारत के उत्तर प्रदेश। राजस्थान तथा अन्य राज्यों में गुलाब जल का उत्पादन होता है। 

गुलाब जल के गुण – Properties of Rose Water

  • गुलाब जल की तासीर ठंडी होती है।
  • गुलाब जल का स्वाद हल्का मीठा और सुगंधित होता है।
  • गुलाब जल में विटामिन-ए, बी3, सी, डी और ई होते हैं।
  • गुलाब जल में एंटीऑक्सिडेंट, एंटीइंफ्लामेटरी, एंटीसेप्टिक, एंटीएजिंग, एनाल्जेसिक एंटीडिप्रेसेंट, एंटीएंजाइटी, एंटीबैक्टीरियल, एंटीएलर्जी, मॉइस्चराइजिंग आदि गुण उपस्थित होते हैं। 

गुलाब जल कैसे बनाया जाता है? – How is Rose Water Made?

हमारे देश में गुलाब जल बनाने का तरीका बहुत कुछ वैसा ही है जैसे कि देसी शराब बनाई जाती है। शराब के लिए फलों को सड़ा कर बड़ी-बड़ी मिट्टी की देग में डालकर, उसमें एक पाइप लगाकर, देग को सील कर देते हैं और भट्टी चालू कर देते हैं। सामग्री अच्छी तरह उबलने पर पाइप के जरिए भाप, साथ में रखे घड़ों में बूंद-बूंद करके टपकती रहती है। इसी को देसी शराब कहा जाता है। 

Advertisements

ठीक इसी प्रकार बड़ी-बड़ी धातु की देगों में गुलाब के फूलों को डाल दिया जाता है और बराबर की मात्रा में पानी भर कर, उसमें एक बांस का पाइप लगाकर देगों को बंद कर देते हैं। फिर भट्टी चालू कर दी जाती है। जब यह सामग्री अच्छी तरह उबलती है तो भाप बूंद-बूंद करके पाइप के जरिए, साथ रखे बर्तन में जमा होती रहती है, और इस प्रकार गुलाब जल तैयार हो जाता है। ‘ए’ और ‘बी’ श्रेणी के गुलाब जल को उपयोग में लाया जाता है परन्तु ‘सी’ श्रेणी गुलाब जल को फिर से वापस देग में डाल देते हैं। 

ये भी पढ़े- घर पर फेशियल कैसे करें

गुलाब जल घर पर कैसे बनाएं? –  How to Make Rose Water at Home?

दोस्तो, घर पर गुलाब जल बनाना कोई मुश्किल काम नहीं है। इसके लिए आपको अच्छी क्वालिटी के गुलाब के फूल लेकर उनकी पंखुड़ियों को तोड़कर पानी में धोकर साफ कर लें। अब किसी बर्तन में एक गिलास पानी डालकर उबाल लें। इस उबलते पानी में गुलाब की पंखुड़ियों को डाल दें और उबलने दें। 

कछ देर बाद ये पंखुड़ियां रंग छोड़ देंगी और ये सफेद हो जाएंगी। खूब अच्छी तरह उबल जाने पर बर्तन को उतार लें और ठंडा होने पर साफ़ सूती कपड़ें में छान लें। बस हो गया आपका गुलाब जल तैयार। इसे किसी शीशी में भर लें।

गुलाब जल के उपयोग – Uses of Rose Water

गुलाब जल का निम्न प्रकार से उपयोग किया जाता है –

  • गुलाब जल दवाओं में काम आता है।
  • शर्बत में गुलाब जल डाला जाता है।
  • नमकीन और मीठे व्यन्जनों में इसका उपयोग किया जाता है।
  • सौन्दर्य प्रसाधनों में काम आता है।
  • खीर बनाते हुए जल जाये तो इसमें थोड़ा सा गुलाब जल मिला सकते हैं, इससे जले की बदबू खत्म हो जाएगी।
  • सलाद के ऊपर को गुलाब जल छिड़कने से यह और स्वादिष्ट हो जाता है। 
  • गुलाब जल में बेकिंग सोडा मिलाकर किचन में स्प्रे कर सकते हैं। इससे किचन साफ़ भी हो जाएगी और बदबू भी नहीं रहेगी। 

गुलाब जल के फायदे – Benefits of Gulab Jal

दोस्तो, अब बताते हैं आपको गुलाब जल के फायदे जो निम्न प्रकार हैं –

1. शरीर की बदबू दूर करे (Remove Body Odor)- गुलाब जल में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो कीटाणुओं को खत्म करते हैं। गुलाब जल में यह बहुत बेहतरीन फायदा है कि यह शरीर के कीटाणुओं को खत्म करता है ठीक उसी प्रकार जैसे कि डिटोल लिक्विड करता है और इसकी प्रकृति शरीर की बदबू को दूर भगाती है। 

बस आपको इतना करना है कि नहाते समय पानी भरी बाल्टी में दो ढक्कन गुलाब जल मिलाना है। इससे पसीने आदि की बदबू खत्म हो जाएगी और आपका शरीर गुलाब की तरह महक उठेगा। पसीने पर विस्तार से जानकारी के लिए हमारा पिछला आर्टिकल “पसीने की बदबू दूर करने के उपाय” पढ़ें। 

2. आंखों के लिए फायदेमंद (Beneficial for Eyes)- आयुर्वेद में आंखों के लिए गुलाब जल के उपयोग का उल्लेख मिलता है। यह एक प्राकृतिक “आई ड्रॉप” है। गुलाब जल की प्रकृति शीतलता प्रदान करने की होती है। यह आंखों को शीतलता प्रदान करता है, आंखों में जलन, चुभन, सूजन, दर्द, कंजंक्टिवाइटिस आदि जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। गुलाब जल के एनाल्जेसिक गुण दर्द को खत्म कर देते हैं। इसके लिये गुलाब जल से आंखों को धो सकते हैं या गुलाब जल से छींटे मार सकते हैं। निश्चित रूप से फायदा होगा। 

3. होंठों के लिए फायदेमंद (Good for Lips)- गुलाब जल होंठों की सुन्दरता को निखारता है और उनको प्राकृतिक गुलाबी रंग प्रदान करता है। यह होंठों को मुलायम बनाए रखने में मदद करता है। इसके लिए गुलाब जल में थोड़ी सी पिसी हुई चीनी और नारियल तेल मिलाकर स्क्रब तैयार करके होंठों पर लगाएं। 

इससे डैड स्किन खत्म हो जाएगी। गुलाब जल को एलोवेरा जेल के साथ मिक्स करके लगा सकते हैं। सर्दियों में होंठ फटने की समस्या से भी छुटकारा मिल जाएगा। होंठों पर विस्तार से जानकारी के लिए हमारा पिछला आर्टिकल “सर्दियों में फटे होंठ के घरेलू उपाय” पढ़ें। 

4. गले में दर्द और खराश दूर करे (Relieve Sore Throat)- गले में दर्द और खराश बैक्टीरिया के कारण होते हैं। गुलाब जल में एंटीबैक्टीरियल, एनाल्जेसिक और एंटीइंफ्लामेटरी गुण होते हैं। ये गुण गले का दर्द, खराश, सूजन आदि की समस्या से राहत दिलाते हैं। इसके लिये गुलाब जल से कुल्ला कर सकते हैं और गुलाब जल की चाय पी सकते हैं। 

गुलाब जल की चाय से तात्पर्य है कि सामान्य चाय बनाते समय, उबलते पानी में गुलाब की पंखुड़ियां डाल दें तो इनका सत चाय में आ जाएगा।  

5. दांतों के लिए फायदेमंद (Good for Teeth)-  दांतों में सड़न, मसूड़ों से खून आना, मसूड़ों में सूजन, कब्ज आदि के कारण मुंह से बदबू इस कदर आती है कि दूसरा आदमी तो क्या खुद को भी बदबू सहन नहीं होती। गुलाब जल इस समस्या से छुटकारा दिला सकता है। गुलाब जल में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो मुंह के खराब बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करते हैं। 

इसके लिये गुलाब जल में अनार का सिरका मिलाकर कुल्ला करें। यह माउथवॉश के रूप में कार्य करेगा। खाली गुलाब जल से भी कुल्ला कर सकते हैं। मुंह की बदबू पर अधिक जानकारी के लिए हमारा पिछला आर्टिकल “मुंह की बदबू हटाने के देसी उपाय” पढ़ें।

6. मूड को अच्छा बनाए, सिर दर्द दूर करे (Improve Mood, Relieve Headache)- गुलाब जल में एंटीडिप्रेसेंट तथा एंटीएंजाइटी गुण उपस्थित होते हैं जो चिंता, तनाव, डिप्रेशन को दूर करने में मदद करते हैं। ये नर्वस सिस्टम को आराम पहुंचाने का काम करते हैं। इसके लिये किसी रुमाल पर गुलाब जल छिड़क कर बार-बार सूंघें। इसकी खुश्बू बहुत तेज होती है, जो निश्चित रूप से इन समस्याओं से छुटकारा दिलाएगी और आपका मूड बेहतर बनेगा। 

इसके अतिरिक्त कभी-कभी सिर में दर्द हो जाना आम बात है। सिर दर्द से भी गुलाब जल राहत दिलाता है। सिर दर्द की स्थिति में रुमाल को गुलाब जल में भिगोकर माथे पर रख लें। दो घंटे में सिर दर्द अपने आप ठीक हो जाएगा। 

7. पेट की समस्याओं में फायदेमंद (Beneficial in Stomach Problems)- गुलाब जल के गुण पेट से जुड़ी समस्याओं के निवारण में भी मदद करते हैं जैसे कि, अपच, पेट में गैस बना, पेट फूलना, पेट में दर्द, पेट में गर्मी आदि। इसके लिए दही में एक चम्मच गुलाब जल मिलाकर सेवन करें। इन सब से राहत पाने के लिए गुलाब के शर्बत का भी सेवन किया जा सकता है।

8. मेकअप हटाए (Remove Makeup)- रात को सोने से पहले मेकअप हटाना बहुत जरूरी होता है। इसके लिए बहुत महंगे-महंगे मेकअप रिमूवर मिलते हैं परन्तु गुलाब जल इस काम के लिए बहुत ही सस्ता पड़ता है। एक प्राकृतिक मेकअप रिमूवर है जो बहुत सरलता से मेकअप को हटा देता है। इसके लिये रुई के टुकड़े को गुलाब जल में भिगोकर बहुत आसानी से मेकअप रिमूव कर सकते हैं।

9. बालों के लिए फायदेमंद (Beneficial for Hair)- गुलाब जल बालों के स्वास्थ के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। यह रूखे व फ्रिज़ी बालों की समस्या से राहत दिलाता है। इससे बालों की जड़ें मजबूत होती हैं जिससे इनका टूटना बंद हो जाता है। यह बालों में अतिरिक्त तेल को बाहर निकालता है और खोपड़ी की ड्राइनेस को खत्म करके मॉइश्चराइज़ करता है जिससे बालों के विकास में मदद मिलती है। 

इसके लिए गुलाब जल में बराबर मात्रा में ग्लिसरीन को अच्छी तरह मिक्स कर लें। इस पैक को बालों और सिर में लगाएं और हल्के हाथ से मालिश करें। 15 मिनट बाद बालों में शैंपू लगाकर सिर धो लें। इससे बालों में चमक भी आ जाएगी। गुलाब जल, रसायन मुक्त होने के कारण बालों को प्राकृतिक पोषण देता है। 

10. त्वचा के लिये फायदेमंद (Beneficial for Skin)- दोस्तो, त्वचा स्वास्थ के लिए गुलाब जल के अनेकों फायदे हैं। कुछ के बारे में हम बता रहे हैं कि गुलाब जल का इस्तेमाल त्वचा के लिए कैसे किया जा सकता है। विवरण निम्न प्रकार है –

(i) त्वचा की सफाई के लिए (Skin Cleansing)- गुलाब जल एक प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट के रूप में काम करते हुए त्वचा को गहराई से साफ़ करता है, त्वचा से अतिरिक्त तेल को बाहर निकालता है, रोमछिद्रों से गंदगी को बाहर निकालता है और त्वचा में कसावट लाता है। इसके लिये गुलाब जल को चेहरे पर स्प्रे करके गीला कर लें और ऐसे ही छोड़ दें। आधा मिनट बाद साफ़ कपड़े या टिशू पेपर से साफ़ कर लें, इससे चेहरे से धूल मिट्टी सब साफ़ हो जाएगी और आप तरोताजा महसूस करेंगे। 

(ii) त्वचा निखारे (Skin Whitening)- गुलाब जल त्वचा को निखारने का एक बेहतरीन उपाय है। इससे त्वचा में चमक आ जाती है। इसके लिए तीन चम्मच गुलाब जल में दो चम्मच नींबू का रस मिलाएं या गुलाब जल के साथ शहद मिला लें। इसको चेहरे पर लगाकर छोड़ दें। 15-20 मिनट बाद चेहरा ठंडे पानी से धो लें। इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार कर सकते हैं। 

(iii) मॉइस्चराइजिंग के लिए (Moisturizing)- गुलाब जल में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो त्वचा की ड्राइनेस को खत्म करने का काम करते हैं। इसके साथ यदि नारियल तेल मिला लिया जाए तो एमोलिएंट इफेक्ट भी मिल जाता है जो त्वचा की नमी को बनाए रखने का काम करता है। 

यदि ग्लिसरीन भी मिला लिया जाए तो हुमेक्टैंट (Humectant) के रूप में कार्य करते हुए त्वचा में नमी को लंबे समय तक बनाये रखती है। त्वचा की मॉइस्चराइजिंग के लिए तीन चम्मच गुलाब जल में एक-एक चम्मच नारियल तेल और ग्लिसरीन या बादाम तेल मिला कर त्वचा की मालिश करें।

(iv) एंटीएजिंग प्रभाव (Anti aging Effect)- गुलाब जल में एंटीएजिंग गुण होते हैं जो समय से पहले बुढ़ापे के बढ़ते लक्षणों की गति को कम करने में मदद करते हैं। ये गुण चेहरे की फाइन लाइन और झुर्रियों को कम करते हैं और त्वचा में कसावट ला के आपको एक युवा त्वचा प्रदान करते हैं। 

इसके लिए 3 चम्मच गुलाब जल में 2 चम्मच नींबू का रस, 4 चम्मच चंदन पाउडर और थोड़ी सी मुलतानी मिट्टी पाउडर मिलाकर फेस पैक बना लें। इस फेस पैक को चेहरे पर लगाकर 15 मिनट के लिए छोड़ ड़ें। सूख जाने पर चेहरा पानी से धो लें। चेहरे पर दमक आ जाएगी। 

(v) सनबर्न से राहत दिलाए (Relieve Sunburn)- विशेषकर गर्मी के दिनों में सूरज की अल्ट्रा वायलट किरणों से त्वचा झुलस जाती है। गुलाब जल इससे राहत दिलाता है। इसके लिए एलोवेरा जेल, सेब का सिरका और लैवेंडर ऑयल को भी शामिल करना होगा। ये सभी सनबर्न से प्रभावित त्वचा को शीतलता प्रदान करते हैं। लैवेंडर ऑयल तो सनबर्न से सुरक्षा प्रदान करता है। सनबर्न से राहत पाने के लिए 200 मिली लीटर गुलाब जल में एक चम्मच सेब का सिरका, आधा चम्मच एलोवेरा जेल और 10 बूंद लैवेंडर ऑयल अच्छी तरह मिलाकर प्रभावित त्वचा पर लगाएं।

(vi) कील-मुंहासों के लिए (Pimples)- कील-मुंहासों की समस्या से छुटकारा दिलाने में गुलाब जल सक्रिय भूमिका निभाता है। इसके लिये बेसन, हल्दी, ग्लिसरीन को भी सम्मलित करना होगा। हल्दी में एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। 

एक चम्मच गुलाब जल में दो चम्मच बेसन, एक चम्मच संतरे का पाउडर, आधा चम्मच ग्लिसरीन और एक चुटकी हल्दी मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट बाद चेहरा ठंडे पानी से धो लें। मुंहासों पर अधिक जानकारी के लिए हमारा पिछला आर्टिकल “मुंहासों से छुटकारा पाने के देसी उपाय” पढ़ें।  

(vii) दाग-धब्बों के लिए (Blemishes)- कील-मुंहासों की ही भांति गुलाब जल चेहरे से दाग-धब्बों को हटाने में भी मदद करता है। इसके लिए चार चम्मच गुलाब जल में दो चम्मच चंदन पाउडर मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे और गर्दन पर लगाकर छोड़ दें। लगभग आधा घंटे बाद ठंडे पानी से धो लें। गुलाब जल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करते हैं और चंदन त्वचा को निखारने का काम करता है।

गुलाब जल के नुकसान – Side Effects of Rose Water

गुलाब जल के कोई विशेष नुकसान नहीं हैं। हां, किसी को इससे एलर्जी हो सकती है और जिन लोगों की त्वचा अति संवेदनशील है उनको गुलाब जल के उपयोग से बचना चाहिए क्योंकि उनको निम्न लिखित परेशानियां हो सकती हैं –

1. त्वचा में जलन।

2. खुजली।

3. त्वचा का लाल हो जाना।

Conclusion –

दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको गुलाब जल के बारे में विस्तार से जानकारी दी। गुलाब जल क्या है, गुलाब जल का उत्पादन कहां होता है, गुलाब जल के गुण, गुलाब जल कैसे बनाया जाता है, गुलाब जल घर पर कैसे बनाएं और गुलाब जल के उपयोग, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया। देसी हैल्थ क्लब ने इस आर्टिकल के माध्यम से गुलाब जल के बहुत सारे फायदे बताए और कुछ नुकसान भी बताए। आशा है आपको ये आर्टिकल अवश्य पसन्द आयेगा।

दोस्तो, इस आर्टिकल से संबंधित यदि आपके मन में कोई शंका है, कोई प्रश्न है तो आर्टिकल के अंत में, Comment box में, comment करके अवश्य बताइये ताकि हम आपकी शंका का समाधान कर सकें और आपके प्रश्न का उत्तर दे सकें। और यह भी बताइये कि यह आर्टिकल आपको कैसा लगा। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सगे – सम्बन्धियों के साथ भी शेयर कीजिये ताकि सभी इसका लाभ उठा सकें। दोस्तो, आप अपनी टिप्पणियां (Comments), सुझाव, राय कृपया अवश्य भेजिये ताकि हमारा मनोबल बढ़ सके। और हम आपके लिए ऐसे ही Health-Related Topic लाते रहें। धन्यवाद।

Disclaimer – यह आर्टिकल केवल जानकारी मात्र है। किसी भी प्रकार की हानि के लिये ब्लॉगर/लेखक उत्तरदायी नहीं है। कृपया डॉक्टर/विशेषज्ञ से सलाह ले लें।

Summary
Advertisements
गुलाब जल के फायदे
Advertisements
Article Name
गुलाब जल के फायदे
Description
दोस्तो, आज के आर्टिकल में हमने आपको गुलाब जल के बारे में विस्तार से जानकारी दी। गुलाब जल क्या है, गुलाब जल का उत्पादन कहां होता है, गुलाब जल के गुण, गुलाब जल कैसे बनाया जाता है, गुलाब जल घर पर कैसे बनाएं और गुलाब जल के उपयोग, इन सब के बारे में भी विस्तार पूर्वक बताया।
Author
Publisher Name
Desi Health Club
Publisher Logo

One thought on “गुलाब जल के फायदे – Benefits of Rose Water in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!